इस शख्स के बीच से भारी ट्रक निकल गया, फिर क्या हुआ... पढ़ें खबर

इस शख्स के बीच से भारी ट्रक निकल गया, फिर क्या हुआ... पढ़ें खबर

Satya Narayan Shukla | Publish: Feb, 15 2018 11:30:45 PM (IST) Bhilai, Chhattisgarh, India

जाको राखे साइंया मार सके न कोई... यह कहावत चरितार्थ हुई रायपुर विजय नगर निवासी डोगेन्द्र जंघेल पर।

भिलाई. जाको राखे साइंया मार सके न कोई... यह कहावत चरितार्थ हुई रायपुर विजय नगर निवासी डोगेन्द्र जंघेल पर। ३३ साल के डोगेन्द्र गुरुवार की दोपहर दो बजे अपने मार्केटिंग के काम से दुर्ग जा रहा था। वह सुपेला चौक पर खड़ा था, जैसे ही ट्रैफिक सिग्नल ग्रीन हुआ, पीछे से आ रहे ट्रक ने उसकी बाइक को ठोक दिया। डोगेंद्र लडख़ड़ा गया। बाइक बाहर की तरफ गिरी और डोगेंद्र ट्रक के नीचे आ गया। ट्रक के नीचे के पार्ट्स से टकराकर व बीचोंबीच लुढ़कता रहा और ट्रक निकल गया। गनीमत रही कि डोगेंद्र के सिर व पैर का कोई भी हिस्सा जरा भी बाहर नहीं निकला नहीं तो पहिए से कुचला जाता। हालांकि डोगेंद्र हेलमेट पहना था, लेकिन ट्रक से टकराने के बाद वह गिर गया। उसके सिर और हाथ में चोट लगी है।

भगवान का शुक्र है मौत के मुंह से बाहर आ गया
मैं एक सिलिंग पंखा की कंपनी के लिए मार्केटिंग करता हंू। दुर्ग में एक कस्टमर से मिलने जा रहा था। चौक पर सिग्नल रेड होने के कारण खड़ा था। सिग्रल ग्रीन हुआ ही था कि मुझे अचानक ठोकर लगने का एहसास हुआ। इसके बाद फिर क्या हुआ मुझे कुछ पता ही नहीं चला। लोग जब मुझे सड़क से उठाकर किनारे ले गए तब सुध आया कि मैं तो मौत के मुंह से बच आया हंू। यह बताते ही डोगेंद्र की जुबां फिर कंपकपाने लगी। जिसने भी इस घटना को देखी सभी ने ऊपर वाले का शुक्र गुजार किया।

फोटो जर्नलिस्ट की मदद से पकड़ा गया ट्रक चालक
घटना के बाद भी ट्रक चालक ने गाड़ी नहीं रोकी। वह तेजी से भाग निकला। मौके पर मौजूद पत्रिका के फोटो जर्नलिस्ट गणेश निषाद ने एक बार फिर अपनी मानवीय संवेदना व सामाजिक सरोकार का परिचय देते हुए चौक पर तैनात ट्रैफिक पुलिस को बिठाकर ट्रक का पीछा किया। तीन किलोमीटर दूर नेहरू नगर चौक के पास जाकर ट्रक चालक पकड़ा गया। उसे पकड़कर सुपेला पुलिस के सुपुर्द किया। ज्ञात हो कि कुछ महीने पहले एक दुर्घटना में पूरा परिवार कार में ही फंस गया था तब गणेश ने ही कार के सामने का ग्लास तोड़कर परिवार को बाहर निकालने में मदद की थी।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned