Breaking: डेंगू से छात्रा की मौत, भड़के परिजनों ने अस्पताल प्रबंधन पर लगाया लापरवाही का आरोप, 44 की जा चुकी है जान

Breaking: डेंगू से छात्रा की मौत, भड़के परिजनों ने  अस्पताल प्रबंधन पर लगाया लापरवाही का आरोप, 44 की जा चुकी है जान

Dakshi Sahu | Publish: Sep, 13 2018 01:14:10 PM (IST) Bhilai, Chhattisgarh, India

डेंगू शहर के बाद ग्रामीण क्षेत्र में कहर बरपा रहा है। संवेदनशील भिलाई से 18 किलोमीटर दूर ग्राम अहेरी की कक्षा-६वीं की छात्रा काव्या जोशी (12)की जान ले ली।

भिलाई. डेंगू शहर के बाद ग्रामीण क्षेत्र में कहर बरपा रहा है। संवेदनशील भिलाई से 18 किलोमीटर दूर ग्राम अहेरी की कक्षा-६वीं की छात्रा काव्या जोशी (12)की जान ले ली। काव्या का पिछले पांच दिन से इलाज चल रहा था।

डॉक्टरों ने किया था रायपुर रेफर
गुरुवार को रायपुर के निजी अस्पताल में इलाज के दौरान मासूम ने दम तोड़ दिया। बुखार की शिकायत पर उसे ९ सितंबर को चंदूलाल चंद्राकर मेडिकल कॉलेज कचांदुर में भर्ती कराया गया था। स्थिति बिगडऩे पर १२ सितंबर को रायपुर रेफर किया गया। गुरुवार सुबह उसकी मौत हो गई।

परिजनों ने अस्पताल प्रबंधन पर लगाया आरोप
थनेश्वर जोशी ने मेडिकल कॉलेज प्रबंधन पर उचित इलाज नहीं करने का आरोप लगाया। उनका कहना है कि यदि चिकित्सक समय पर स्थिति की जानकारी दे देते तो उनकी बेटी की जान बच सकती थी, लेकिन चिकित्सकों ने काव्या की तबियत ज्यादा खराब हो गई। तब जानकारी दी।

जांच में डेंगू पॉजीटिव मिला
शहर से बाहर रेफर करने की बात कही। जब रायपुर के बालाजी चिकित्सालय लेकर गए। वहां आईसीयू में भर्ती कर इलाज किया गया, लेकिन चिकित्सक उन्हें नहीं बचा पाए। जोशी का कहना है कि जब वह अपनी बेटी को लेकर अस्पताल पहुंची थीं, तब उन्हें केवल बुखार की शिकायत की थी। जांच में डेंगू पाजीटिव होने की जानकारी दी।

डेंगू से अब तक 44 लोगों की मौत
भिलाई के खुर्सीपार, मरोदा से पैदा हुआ एडीज का लार्वा सीमावर्ती शहरों के अलावा गांवों तक पहुंच चुका है। दुर्ग, चरोदा, जामुल के बाद अब ग्रामीण क्षेत्र में पांव पसार रहा है। डेंगू से अब तक भिलाई के 41, दुर्ग शहर एक और चरोदा नगर पालिक निगम के दो लोगों सहित कुल 44 की जान जा चुकी है।

दवा छिड़काव का दायरा बढ़ाया गया
निगम प्रशासन ने दवा छिड़काव और सफाई का दायरा बढ़ाया है। तालपुरी इंटरनेशनल कॉलोनी रुआबांधा, एचएससीएल कॉलोनी, हुडको, हाउसिंग बोर्ड और औद्योगिक क्षेत्र में भी दवा छिड़काव कराने का निर्णय लिया है। इसके लिए १९४ कर्मचारियों की अतिरिक्त ड्यूटी लगाई है।

615 घरों में सर्वे, 51 लोग मिले पॉजीटिव
बुधवार को टीम ने नेहरू नगर, वैशाली नगर, मदर टेरेसा, वीर शिवाजी नगर सेक्टर-६ और रिसाली जोन क्षेत्र के २३ वार्डों के ६१५ घरों में सर्वे किया। 518 लोग संदेहास्पद पाए गए। इनमें से ७४ लोगों को सुपेला और दुर्ग जिला चिकित्सालय सहित अस्पतालों में भर्ती किया। आरडी किट की जांच में ५१ लोग एसएन-१ डेंगू पॉजीटिव मिले। उनमें से १२ लोगों को शहर से बाहर रेफर किया गया।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned