कार जीतने का लालच पड़ गया महंगा, लक्की ड्रा ने नाम पर अधेड़ से ढाई लाख रुपए की ठगी

लक्की ड्रा में 25 लाख रुपए और एक कार जीतने का झांसा देकर 2.35 लाख रुपए की ठगी करने वाला आरोपी कोलकाता में पकड़ा गया। (Bhilai police)

भिलाई. लक्की ड्रा में 25 लाख रुपए और एक कार जीतने का झांसा देकर 2.35 लाख रुपए की ठगी करने वाला आरोपी कोलकाता में पकड़ा गया। उतई पुलिस उसे ट्रांजिट रिमांड पर लेकर आई है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 420, 34 के तहत प्रकरण दर्ज कर न्यायालय में पेश किया, जहां से न्यायिक रिमांड पर उसे जेल भेज दिया गया।

Read more: मकान मालिक की नाबालिग बेटी पर डोल गई नीयत, प्रेम जाल में फंसाकर 30 साल के युवक ने कर दिया प्रेग्नेंट ....

कार जीतने का दिया झांसा
उतई टीआई अवधराम साहू ने बताया कि कोलकाता से आरोपी प्रद्युत पात्रे को गिरफ्तार किया है। 3 मई 2019 को ग्राम करगाडीह निवासी हीरालाल बांधे (42 वर्ष) ने शिकायत की थी। उसके मोबाइल पर अज्ञात व्यक्ति ने फोन किया। उसे लक्की ड्रा में 25 लाख नकद और एक कार जीतने का झांसा दिया।

Read more: सॉरी मां, मैंने कुछ गलत नहीं किया...आखिरी खत लिखकर युवती ने लगा लिया मौत को गले....

कार की लालच में आकर हीरालाल ने उसके खाते में 2 लाख 35 हजार 100 रुपए ट्रांसफर कर दिया। बाद में न कार मिली और न ही 25 लाख रुपए उसके खाते में आया। शिकायत पर पुलिस ने आरोपी की पतासाजी की। उसे पश्चिम बंगाल से गिरफ्तार कर पुलिस लाई है।

कोलकाता गई थी पुलिस टीम
पाटन एसडीओपी आकाश राव गिरपुंजे ने बताया कि ग्रामीण एएसपी लखन पटले के नेतृत्व में टीम गठित की। 10 अगस्त को टीम कोलकाता गई। जिस खाते में पैसे ट्रांसफर हुए थे, खातेधारक के पते 24 परगना, दमदम बनगांव पर टीम पहुंची। आरोपी प्रद्युत पात्रो दबोचा गया। एएसपी ग्रामीण लखन पटले ने बताया कि आरोपी के ठिकाने की रैकी की। ट्रांजिट रिमांड पर उसे लाया गया है। पूछताछ के बाद न्यायालय में पेश किया। न्यायिक रिमांड पर जेल भेजा दिया गया।

Show More
Dakshi Sahu
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned