scriptMisuse of government item,PIL filed in court, corporation on back foot | शासकीय मद का गलत इस्तेमाल, हाईकोर्ट में पीआईएल दाखिल होने के बाद, निगम बैक फुट पर, ठेकेदारों का रोका भुगतान | Patrika News

शासकीय मद का गलत इस्तेमाल, हाईकोर्ट में पीआईएल दाखिल होने के बाद, निगम बैक फुट पर, ठेकेदारों का रोका भुगतान

locationभिलाईPublished: Feb 02, 2024 09:39:44 pm

Submitted by:

Abdul Salam Salam

भिलाई इस्पात संयंत्र की जमीन में नगर निगम, भिलाई ने शासकीय मद का गलत जानकारी देते हुए इस्तेमाल किया। इस मामले में हाईकोर्ट में लगे पब्लिक इंट्रेस्ट लिटिगेशन (पीआईएल) का जवाब नगर निगम, भिलाई को देना था। हाईकोर्ट में बीएसपी ने इस तरह के काम को लेकर एनओसी नहीं देने की बात कह दी है। अब नगर निगम, भिलाई के आला अधिकारी भी बीएसपी की जमीन पर बिना एनओसी के किए गए कार्यों का भुगतान रोक दिए हैं। इससे ठेकेदारों में हड़कंप मच गया है।

शासकीय मद का गलत इस्तेमाल, हाईकोर्ट में पीआईएल दाखिल होने के बाद, निगम बैक फुट पर, ठेकेदारों का रोका भुगतान

शासन के आदेश की शर्तों की अवहेलना

नगर निगम, भिलाई ने शासन के आदेश की शर्तों की अवहेलना करते हुए करोड़ों के कार्य कराए गए हैं। इस तरह से वित्तीय अनियमितता की शिकायत भी आयुक्त से नेता प्रतिपक्ष भोजराज सिन्हा ने की है। इसमें बताया कि आदेश में स्पष्ट है कि स्वीकृत कार्य निकाय के अधिपत्य भूमि पर ही निर्माण किया जाए। निजी भूमि, स्वामित्व संबंधी विवादित भूमि पर निर्माण कार्य न करवाया जाए। निविदा, कार्यादेश के पहले खुद आयुक्त सुनिश्चित करेंगे कि भूमि में किसी प्रकार का विवाद नहीं है। बीएसपी की जमीन में हुए कार्यों में इसका उल्लंघन किया गया है। इसकी जांच करने की मांग भी की गई है।

अधोसंरचना मद के 217 कार्य

संचानालय, नगरीय प्रशासन व विकास छत्तीसगढ़ ने भिलाई निगम को 217 कार्यों के लिए अधोसंरचना मद के तहत पहले 2995.83 लाख व 14 जुलाई 23 को 168 लाख की स्वीकृति उल्लेखनीय शर्तों के अधीन दी थी। वहीं भिलाई निगम के आला अधिकारियों ने शासन के आदेशों की अवहेलना करते हुए भिलाई इस्पात संयंत्र के अधिपत्य वाली जमीन पर बिना अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) लिए 15 करोड़ का काम करा लिया है। इससे शासन के निर्देशों का उल्लंघन करते हुए वित्तीय अनियमितता की गई है।

भुगतान पर रोक लगाने की मांग

हाईकोर्ट से नोटिस आने के बाद निगम पहले ही इस तरह के मामले में फूंक-फूंक कर कदम रख रहा है। अब जनप्रतिनिधियों ने खुद ही जांच होने तक भुगतान पर रोक लगाते हुए, आदेशों की अवहेलना करने वाले अधिकारियों पर उचित कार्रवाई करने की मांग की है।

एनओसी मांगने पर बीएसपी ने दिया यह जवाब

बीएसपी ने नगर निगम, भिलाई के आयुक्त को बताया कि खेल मैदान के लिए प्रस्तावित स्थल पूर्णत: रिहायशी क्षेत्र है। यहां बीएसपी के कर्मी व अधिकारी निवास करते हैं। खेल मैदान निर्माण होने पर लोगों के आम दिनचर्या प्रभावित होगी व निवासरत लोगों के आवागमन में भी परेशानी होगी। वहीं पढ़ाई करने वाले छात्र-छात्रओं को ध्वनि प्रदूषण के कारण पढ़ाई भी प्रभावित होगी। इस स्थान पर अक्सर ट्रैफिक जाम लगा रहता है। खेल के दौरान सड़क दर्शकों की भीड़ होगी। इससे सड़क जाम होने की स्थिति और भी गंभीर हो सकती है। जिसके कारण दुर्घटना होने की आशंका बढ़ जाएगी।

यहां भी होगी दिक्कत

बीएसपी का तर्क है कि मैदान के बगल में सेक्टर 10 मार्केट, गैस एजेंसी व बैंक होने के के कारण यह क्षेत्र बहुत ही व्यस्त रहता है। वाहन पार्किंग की समस्या बनी रहती है। इस मैदान को वाहन पार्किंग स्थल के रूप में उपयोग किया जाता है। इस वजह से सेक्टर 10, सड़क 5 व 6 के मध्य खेल मैदान का विकास कार्य के लिए अनापत्ति पत्र दे पाना संभव नहीं है।

फैक्ट फाइल :-
नगर निगम, भिलाई ने भिलाई इस्पात संयंत्र की जमीन पर जिन कार्यों को एनओसी नहीं मिलने के बाद भी किया, उनका लिस्ट :-
कार्य का नाम -- राशि
- वार्ड-67 सेक्टर-8 में उद्यान निर्माण कार्य -- 7 लाख
- जोन 1 हुडको में स्थित उद्यानों का सौंदर्याकरण कार्य -- 10 लाख
- वार्ड 67 सेक्टर 8 इस्पात भवन का विस्तारीकरण कार्य -- 15 लाख
- वार्ड 70 हुडको कालीबाड़ी में डोम शेड निर्माण कार्य -- 12 लाख
- वार्ड 8 शिक्षक नगर कोहका भवन में कमरा, बाउड्रीवाल निर्माण -- 9 लाख
- वार्ड 67 सेक्टर 8 सड़क 12 में चैनलिंक फेंसिंग, बैडमिंटन, -- 10 लाख
- वार्ड 67 सेक्टर 8 में मन्नम उद्यान का सौंदर्गीकरण कार्य, -- 23 लाख
- वार्ड 69 हडको बौद्ध परिसर के पास में वाचनालाय निर्माण, -- 4 लाख
- वार्ड 69 हुडको मं श्री राम परिसर के पास विस्तारीकरण कार्य -- 5 लाख
- वार्ड 70 में चैनलिंग फैसिंग व पेवर ब्लाक निर्माण कार्य, -- 4.58 लाख
- वार्ड 69 में चेनलिंग फेसिंग व पेवर ब्लॉक कार्य, -- 5 लाख
- वार्ड 69 हुडको दशहरा मैदान में डोम शेड निर्माण -- 148 लाख
- वार्ड 50 सेक्टर 2 सड़क 15 में विस्तारीकरण कार्य -- 5 लाख
- वार्ड 49 सेक्टर 2 सड़क 3 में मंच निर्माण, शेड लगाने,-- 3 लाख
- वार्ड 49 सेक्टर 2 सडक 6 मे गार्डन निर्माण कार्य, -- 5 लाख
- वार्ड 47 सेक्टर 1 इस्पात भवन का विस्तारीकरण कार्य, -- 8 लाख
- वार्ड 50 सेक्टर 2 इस्पात, भवन का विस्तारीकरण कार्य -- 17 लाख
- वार्ड 50 सेक्टर 2 सड़क-16 में मंच व शेड निर्माण कार्य -- 5 लाख
- वार्ड 20 अमर शहीद पोट्टी श्री रामुलु चौक सौंदर्गीकरण -- 5 लाख
- वार्ड 48 सेक्टर 1 फायर ब्रिगेड मैदान में मंच व शेड निर्माण -- 6 लाख
- वार्ड 47 सेक्टर 1 गानय आश्रग के बाजू में शेड निर्माण कार्य -- 7 लाख
- वार्ड 47 सेक्टर 1 बी मार्केट मंदिर के सगीप बाउंड्रीवाल निर्माण -- 8 लाख
- वार्ड 48 सेक्टर 1 क्रास स्ट्रीट में मंदिर सगीप विस्तारीकरण कार्य -- 4 लाख
- वार्ड 49 सेक्टर 2 में चैनलिंक फेरिंग, पेवर ब्लाक कार्य -- 5 लाख
- वार्ड 50 सेक्टर-2 में गार्डन विस्तारीयकरण कार्य -- 15 लाख

ट्रेंडिंग वीडियो