Breaking: पुलिस मुठभेड़ में मारा गया नक्सली कमलेश अग्नु कसनपुर एलओएस का मेंबर था

Breaking: पुलिस मुठभेड़ में मारा गया नक्सली कमलेश अग्नु कसनपुर एलओएस का मेंबर था

Satya Narayan Shukla | Publish: Jan, 14 2018 05:38:00 PM (IST) | Updated: Jan, 14 2018 05:38:01 PM (IST) Bhilai, Chhattisgarh, India

छत्तीसगढ़ की सीमा से लगे महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में 10 जनवरी को पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में मारे गए नक्सली की पहचान हो गई है।

राजनांदगांव. छत्तीसगढ़ की सीमा से लगे महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में 10 जनवरी को पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में मारे गए नक्सली की पहचान हो गई है। गढ़चिरौली पुलिस ने मारे गए नक्सली की शिनाख्त कसनपुर एलओएस के एरिया कमेटी मेंबर कमलेश उर्फ शामसिंग आग्नु के रूप में की है।

गढ़चिरौली पुलिस ने मारे गए नक्सली की पहचान कर ली

उल्लेखनीय है कि गढ़चिरौली जिले में चलाए जा रहे एंटी नक्सल अभियान के तहत एटापल्ली क्षेत्र में नक्सलियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद पुलिस ने क्षेत्र में गश्त शुरू किया था। 10 जनवरी को जंगल में सर्च पर निकली पुलिस की एटापल्ली क्षेत्र के ताड़पल्ली जंगल में नक्सलियों से आमना सामना हो गया। पुलिस और नक्सलियों के बीच आधा घंटा से ज्यादा समय तक फायरिंग के बाद नक्सली जंगल का फायदा उठाकर भागने में कामयाब हो गए। बाद में पुलिस की टीम ने जंगल में सर्च अभियान चलाया तो एक शव बरामद हुआ था। उस वक्त शव की शिनाख्त नहीं हुई थी लेकिन आज गढ़चिरौली पुलिस ने मारे गए नक्सली की पहचान कर ली है।

2002 में जुड़ा नक्सलियों से
गढ़चिरौली पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मुठभेड़ में मारा गया नक्सली कसनपुर एलओएस का एरिया कमेटी मेंबर कमलेश उर्फ शामसिंग आग्नु 41 वर्ष है। यह धनोरा तालुका के कोसमी गांव का रहने वाला था। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार कमलेश 2002 से नक्सलियों के साथ जुड़ा हुआ था। पोटेगांव दलम में प्रवेश कर नक्सलियों के रास्ते पर चलने वाला कमलेश चातगांव दलम, कोरची दलम, चार्मोशी दलम में काम करते हुए 2015-16 में कसनपुर एलओएस में आया था।


गढ़चिरौली पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार पुलिस अधीक्षक अभिनव देशमुख के मार्गदर्शन में माओवादियों के खिलाफ जिले में व्यापक अभियान चलाया जा रहा है। इसी कड़ी में एएसपी (नक्सल अभियान) डॉ. हरी बालाजी के निर्देश पर एटापल्ली के एसडीओपी किरण कुमार सूर्यवंशी की टीम जंगल में सर्च के लिए निकली थी। इस दौरान मुठभेड़ हो गया। पुलिस को जंगल से मृत नक्सली के शव के अलावा 303 रायफल, 4 नग जिंदा कारतूस, और 12 बोर रायफल के कारतूस मिला था। इसके अलावा मौके से नक्सली साहित्य और दस्तावेज बरामद किए गए थे।
जारी रहेगा अभियान
गढ़चिरौली पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार जिले के नक्सल प्रभावित इलाकों में लगातार गश्त अभियान चलाया जा रहा है और नक्सलियों के खात्मे के लिए पड़ौसी राज्यों के साथ सामंजस्य बिठाकर चल रही कार्रवाई जारी रहेगी।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned