तीसरे चरण में 60.70 प्रतिशत मतदान

करेड़ा, मांडल व आसींद पंचायत समितियों में 8 जिला परिषद सदस्य तथा तथा 57 पंचायत समिति सदस्यों के लिए सुबह 7:30 बजे से 387 मतदान केंद्रों पर मतदान हुआ

By: Suresh Jain

Published: 01 Dec 2020, 09:24 PM IST

भीलवाड़ा.
कोरोना के बढ़ते मरीजों के बीच पंचायतीराज चुनाव के तीसरे चरण में मंगलवार को शान्ति पूर्वक मतदान हुआ। करेड़ा, मांडल व आसींद पंचायत समितियों में 8 जिला परिषद सदस्य तथा तथा 57 पंचायत समिति सदस्यों के लिए सुबह 7:30 बजे से 387 मतदान केंद्रों पर मतदान हुआ। आसींद में दो व करेड़ा पंचायत समिति क्षेत्र में एक इलेट्रॉनिक वोटिंग मशीन खराब हो गई थी। जिन्हें कुछ देर में बदल दिया गया। तीनों पंचायत समितियों में
2 लाख 87 हजार 932 मतदाताओं में से १ लाख ७४ हजार ७७० मतदाताओं ने वोट डाला। जो कुल मतदाताओं का ६०.७० प्रतिशत है। मांडल में सर्वाधिक ६३.७७, करेड़ा में ६०.३२ तथा आसीन्द में ५८.४६ प्रतिशत मतदान हुआ। जिला परिषद के वार्ड नंबर 1, 2, 3, 4, 6, 34, 35, 36 तथा 37 में मतदान होना है। वार्ड नंबर 35 में जिला परिषद सदस्य पहले ही निर्विरोध निर्वाचित हो चुकी हैं। यही वजह है कि इस जिला परिषद वार्ड में केवल पंचायत समिति सदस्य के लिए मतदान हुआ। नवगठित करेड़ा पंचायत समिति के 17 सदस्यों के लिए पहली बार मतदान हुआ। मांडल पंचायत समिति के 19 तथा आसींद पंचायत समिति के 21 सदस्यों का चुनाव हुआ। सभी पोलिंग बूथों की पोलिंग पार्टियां मंगलवार देर रात तक भीलवाड़ा पहुंच कर ईवीएम को स्ट्रॉग रूम में जमा कराई।
कहीं मास्क में आए तो कहीं दुपट्टा ढंक कर
कोरोना महामारी के बढ़ते संक्रमण के कारण इस बार चुनाव में भी गाइडलाइन की पालना के निर्देश दिए गए हैं। ट्रेनिंग
के दौरान ही मतदान दलों व पुलिसकर्मियों को खास हिदायत दी गई कि मुंह पर मास्क के बिना किसी को प्रवेश न दें। हाथ सेनेटाइज कराएं। सोशल डिस्टेंस रखें। इसी के मद्देनजर आज मतदान के दौरान कई बूथों पर मतदाता मुंह पर मास्क लगाकर आए तो कहीं दुपट्टा ढंककर। ग्रामीण परिवेश की महिलाएं तो मुंह पर ओढऩी ढंककर आई। मतदान केंद्र पर प्रवेश से पहले मतदाताओं के हाथ भी सेनेटाइज करवाए गए।
चुनाव पर्यवेक्षक सेन ने किया मतदान केंद्रों का निरीक्षण
राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से तृतीय एवं चतुर्थ चरण के लिए नियुक्त पर्यवेक्षक पुखराज सेन ने मतदान केंद्रों का
निरीक्षण किया। रीको जयपुर के एडवाईजर (इन्फ्रा.) सेन ने मांडल, करेड़ा व आसींद क्षेत्र में बागौर, रूपपुरा, मोड़ का निंबाहेड़ा सहित अनेक बूथों पर पहुंचे। उन्होंने वहां की व्यवस्थाओं एवं मतदान प्रक्रिया का जायजा लिया। इस दौरान सामने आया कि कई महिलाएं बिना मास्क के आ रही थी। हालांकि उन्होंने घूंघट लगा रखा था। मतदान केंद्र पर इन महिलाओं को मास्क दिए गए, फिर प्रवेश दिया गया।
पॉलोटेनिक कॉलेज में बन्द हुई इवीएम
मतदान होने के बाद मतदान दल अपने-अपने बूथों से इवीएम व चुनाव सामग्री लेकर तिलक नगर स्थित राजकीय
पॉलोटेनिक कॉलेज पहुंचें। इस सामग्री को वहां जमा करवाया गया। इवीएम को स्ट्रांग रूम में रखवा कर सील कर दिया गया। जो 8 दिसंबर को मतगणना के दिन खुलेगा। जिला निर्वाचन अधिकारी शिवप्रसाद एम.नकाते, चुनाव पर्यवेक्षक पुखराज सेन अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।
....................
पं.समिति बूथ मतदाता 10 बजे 12 बजे 3 बजे 5 बजे फाइनल
करेड़ा ११९ ८७४३० १०.७६ 25.१5 ४७.६१ ५८.३१ ६०.३२
मांडल ११९ ९०७६१ ११.०९ 2४.२४ ४७.७० ६०.५८ ६३.७७
आसीन्द १४९ १०९७४१ १०.५४ 2४.८८ ४४.७१ ५७.३१ ५८.४६
योग ३८७ २८७९३२ 10.७८ २४.७६ ४६.५३ 58.६४ ६०.७०

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned