एमजीएच में 15 मिनट तक बैचेन रही सांसें

सुझबुझ से आपात स्थिति को निपटा
बिजली लाइन पर गिरे पेड़ को हटाने का रेस्क्यू
कोविड वार्डो में वैकल्पिक ऑक्सीजन सिलेंडर लगाए

By: Suresh Jain

Updated: 06 May 2021, 10:00 PM IST

भीलवाड़ा।
महात्मा गांधी राजकीय चिकित्सालय में गुरुवार को उस वक्त चिकित्सालय प्रशासन के सामने विकट हालात हो गए, जब चिकित्सालय की मुख्य विद्युत लाइन पर पेड़ टूट कर आ गिरा। पेड़ को हटाने के लिए करीब पन्द्रह मिनट का बिजली का शट डाउन लेने की स्थिति में चिकित्सालय का ऑक्सीजन सिस्टम ठप होने की आशंका थी, लेकिन चिकित्सालय प्रशासन ने तत्काल प्रभावित वार्डो में गंभीर रोगियों को वैकल्पिक व्यवस्था के रूप ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध कराते हुए स्थिति को संभाल लिया।
जानकारी के अनुसार एमजी चिकित्सालय में नेत्र आपरेशन थियेटर के सामने स्थित विद्युत ट्रांसफार्मर की मुख्य लाइन पर गुरुवार को सफेदा पेड़ टूट कर गिर गया। इससे विद्युत लाइन टूटने व आपूर्ति ठप होने के हालात बन गए। इसकी सूचना एमजीएच अधीक्षक डॉ. अरुण गौड़ ने तुरन्त जिला कलक्टर शिवप्रसाद एम नकाते को दी। नकाते के निर्देश पर अजमेर विद्युत वितरण निगम के अधिशासी अभियंता मौके पर पहुंचे। उन्होंने मौका देखने के बाद पेड़ को हटाने के लिए १५ मिनट के लिए विद्युत आपूर्ति बन्द करने की आवश्यकता बताई।
अलर्ट रहा चिकित्सालय प्रशासनअस्पताल में भर्ती गंभीर कोरोना मरीज जो कि वेंटिलेटर, ऑक्सीजन सपोर्ट सिस्टम व ऑक्सीजन कंसंट्रेटर पर होने से विद्युत लाइन को ठीक करना चुनौती पूर्ण था। गौड़ ने इस पर वार्ड में सभी रोगियों के बेडों पर तत्काल आक्सीजन सिलेंडर लगाकर आक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित कराई। इसके बाद बिजली का शटडाउन लेकर लाइन पर गिरे पेड़ को हटाया गया। इस दौरान अस्पताल के विभिन्न वार्डों में सभी चिकित्सक तथा नर्सिंग कर्मचारियों को अलर्ट मोड पर रखकर किसी भी तरह की संभावित समस्या के लिए तैयार रहने के निर्देश दिए गए। अधिकारियों की सूझबूझ से यह काम आसानी पूरा हो गया। किसी भी तरह की परेशानी नहीं हुई अब सब कुछ सामान्य है। इस दौरान गौड़ के अलावा उपखण्ड अधिकारी ओमप्रभा, मेडिकल कॉलेज प्राचार्य शलभ शर्मा, नियंत्रक देवकिशन सरगरा, नर्सिंग अधीक्षक मौके पर मौजूद रहे।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned