script भाजपा ने महिला उत्थानकारी तो कांग्रेस ने बताया दिखावा | Central Government Interim Budget 2024 | Patrika News

भाजपा ने महिला उत्थानकारी तो कांग्रेस ने बताया दिखावा

locationभीलवाड़ाPublished: Feb 02, 2024 09:20:55 am

Submitted by:

Suresh Jain

अंतरिम बजट पर विधायकों की मिली जुली प्रतिक्रिया

भाजपा ने महिला उत्थानकारी तो कांग्रेस ने बताया दिखावा
भाजपा ने महिला उत्थानकारी तो कांग्रेस ने बताया दिखावा

केन्द्रीय अंतरिम बजट को भाजपा विधायकों ने महिलाओं के उत्थान व उद्योगों के विकास वाला बताया। आयकर में बकाया डिमांड को समाप्त करने की घोषणा सराही। वही कांग्रेस ने इसे सरकार चलाने के लिए तीन माह का कामकाज वाला बजट बताया। इस बजट से आमजन को कोई राहत नहीं मिली है। कांग्रेस नेताओं ने इसे महज दिखावा बताया। जिलेवासियों को अपेक्षाओं के मुताबिक घोषणाएं नहीं होने पर आम जन को निराशा हाथ लगी है।

केन्द्रीय अंतरिम बजट सकारात्मक बजट है। इस बजट में महिलाओं, युवाओं, किसान वर्ग का ध्यान रखा गया है। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि लम्बे समय से आयकरदाताओं के 10 से 25 हजार रुपए तक की मांग चल रही थी, उसे समाप्त कर दिया गया है। इससे देश में एक करोड़ से अधिक करदाताओं को फायदा होगा। आंगनबाड़ी केन्द्र को अपग्रेड करने के साथ 9 से 14 साल की बालिकाओं को सर्वाइकल कैंसर वैक्सीन लगाई जाएगी।

सुभाष बहेडि़या, सांसद भीलवाड़ा


राज्य को अधिक मिलेगा करों में हिस्सा: कोठारी
यह अंतरिम बजट बहुत सकारात्मक है। बजट सभी वर्गों के लिए बहुत अच्छा है विशेषकर नारीशक्ति, युवा, किसान व गरीब वर्ग को लाभ मिलेगा। रक्षा क्षेत्र का हिस्सा बढ़ाया जाना अच्छा कदम है। राजस्थान को केंद्रीय करों में 12 प्रतिशत हिस्सा अधिक मिलेगा। इससे विकास की राह आसान होगी। राजस्थान में पर्यटन विकास के लिए ब्याज मुक्त ऋण सकारात्मक पहल है।
अशोक कोठारी, विधायक, भीलवाड़ा

महिलाएं व अन्नदाता के लिए कल्याणकारी: बैरवा
महिलाएं एवं अन्नदाता के कल्याण का बजट है। भारत के अंतिम छोर पर रहने वाले के लिए सम्मान का बजट है। लखपति दीदी के माध्यम से 3 करोड़ महिलाओं को स्वयं सहायता समूह के माध्यम से आत्मनिर्भर बनेगी। आवास योजना में गरीबों को 2 करोड़ आवास मिलेंगे। किसानों को 11.8 करोड़ की सीधी वित्तीय सहायता मिलेगी। देश में विकास के नए आयाम स्थापित होंगे।
लालाराम बैरवा, विधायक शाहपुरा

नैनो डीएपी के प्रयोग से किसानों को फायदा
सबका साथ, सबका विकास को लेकर है बजट। इसमें किसानों से लेकर महिलाओ व युवाओं को ध्यान में रखा गया है। बजट सबके लिए अच्छा है। किसान व महिलाओं को आर्थिक संबल देने वाला है। फर्टीलाइजर क्षेत्र में नैनो यूरिया के बाद नैनो डीएपी के प्रयोग को अपनाने की घोषणा बहुत महत्वपूर्ण है। इससे फर्टीलाइजर परिवहन की लागत कम होगी व किसानों को फायदा होगा।
गोपीचंद मीणा, विधायक जहाजपुर


आमजन को मिलेगा फायदा
बजट से तीर्थ क्षेत्र का विकास, घरेलू बंदरगाह को जोड़ने, किसानों के लिए 86 हजार करोड़ का मनरेगा में बजट, 4 करोड़ किसानों को पीएम फसल योजना का लाभ, सूर्योदय योजना की तहत 300 यूनिट प्रतिमाह बिजली फ्री व आर्थिक मदद, दुग्ध किसानों को बढ़ावा मिलेगा। बजट में 1361 मंडियों को ऑनलाइन जोड़ना, 40 हजार रेल डिब्बे वंदे भारत स्टार के नए बनेंगे तथा हवाई सफर सस्ता होगा।
गोपाल खंडेलवाल, विधायक मांडलगढ़

इस बजट से भारत विकसित देशों में शामिल होने जा रहा है। दुनिया की आधी आबादी को और अधिक सशक्त करने के प्रयास किए गए हैं। महिलाओं को आर्थिक रूप से मजबूत करने का प्रयास सराहनीय है। अंतरिम बजट प्रत्येक वर्ग को राहत प्रदान करने वाला है। युवा वर्ग को आगे बढ़ने का अवसर मिलेगा। महिलाएं आत्मनिर्भर बन सके इसके लिए महिला सशक्तिकरण पर विशेष जोर दिया गया।
लादूलाल पितलिया, विधायक सहाड़ा


बजट हर वर्ग को समर्पित है। जनता को राहत देने वाला है। विकसित भारत के संकल्प को समर्पित करने वाला बजट है। बजट से आम लोगों को राहत मिलेगी। महिलाएं युवा वर्ग को भी आगे बढ़ने का अवसर प्राप्त होगा। एक करोड़ परिवारों को 300 यूनिट मुफ्त बिजली का प्रावधान अंतिम छोर पर खड़े व्यक्तियों के लिए वरदान है। सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने से बिजली कंपनियों की निर्भरता कम होगी।
जब्बर सिंह सांखला, विधायक आसीन्द


आमजन को होगा फायदा
विदेश की तर्ज पर पर्यटन को बढ़ावा देने का कार्य सराहनीय है। इनकम टैक्स की दर यथावत रखी गई है।लेकिन भाजपा की आने वाली सरकार की ओर से पेश किए जाने वाले आम बजट में टैक्स की दर को बढ़ाए जाने की उम्मीद है। इस बजट में किसानों, महिलाएं व युवाओं का ध्यान रखा गया है। नैनो डीएपी से किसानों को फायदा होगा।
उदयलाल भडाणा, विधायक मांडल


प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत अगले 5 साल में ग्रामीण इलाकों में 2 करोड़ घर और बनाए जाएंगे। साथ ही फसलों पर नैनो डीएपी का इस्तेमाल होगा। डेयरी विकास के क्षेत्र में अच्छा काम होगा। दुग्ध किसानों को बढ़ावा दिया जाएगा।
प्रशान्त मेवाड़ा, जिलाध्यक्ष भाजपा

अंतरिम बजट जनता को गुमराह करने वाला है। धरातल पर कुछ भी नहीं है। लोगों को भ्रमित किया है। किसी भी क्षेत्र में जनता को राहत देने की बात नहीं कहीं है। इस बजट से आम जन को निराशा हाथ लगी है।
अक्षय त्रिपाठी, जिलाध्यक्ष कांग्रेस

अंतरिम बजट अपेक्षाओं पर खरा उतरता प्रतीत नहीं हो रहा, लेकिन पूर्ण बजट से उम्मीदें हैं। सोलर के द्वारा बिजली में आत्मनिर्भरता जैसे कदम निश्चित रूप से भविष्य में आशा पैदा करने वाले हैं। वहीं कृषि जिंसों को जीएसटी मुक्त नहीं करने से किसानों को निराशा हुई है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में विसंगतियों के चलते इसका लाभ किसानों को नहीं मिलता है।
बद्री लाल तेली, अध्यक्ष अफीम किसान संघर्ष समिति राजस्थान

ट्रेंडिंग वीडियो