मूसलाधार बारिश के बाद छलक उठा राजस्थान का ये बड़ा बांध, जिले में दौड़ी खुशी की लहर

Dinesh Saini | Updated: 08 Aug 2019, 02:27:38 PM (IST) Bhilwara, Bhilwara, Rajasthan, India

प्रदेश में मूसलाधार बारिश ( Heavy Rain in Bhilwara ) का दौर लगातार जारी है। ऐसे में लंबे समय से पानी का इंतजार कर रहे कई बांध और तालाब लबालब हो गए हैं। भीलवाड़ा में तेज बारिश से 10 बांध ओवरफ्लो हो गए। भराव क्षमता 27 फीट वाला गोवटा बांध ( Govta Dam ) छलक गया है...

भीलवाड़ा। प्रदेश में मूसलाधार बारिश ( heavy rain in bhilwara ) का दौर लगातार जारी है। ऐसे में लंबे समय से पानी का इंतजार कर रहे कई बांध और तालाब लबालब हो गए हैं। भीलवाड़ा में तेज बारिश से 10 बांध ओवरफ्लो हो गए। भराव क्षमता 27 फीट वाला गोवटा बांध ( Govta Dam ) छलक गया है। इससे बांध क्षेत्र में हर्ष की लहर दौड़ गई है। गोवटा बांध पर्यटन का प्रमुख केन्द्र है। इस पर चादर चलने लगी। वहीं बारिश के बाद जेतपुरा बांध के गेट खोल दिए गए। इस बांध की भराव क्षमता 23 फीट है। डामटी कोकटा बांध भी ओवरफ्लो हो गया है। कई जगह फसलों में ज्यादा पानी भरने व कच्चे मकान ढहने से लोगों को नुकसान हुआ है। विद्यालय भवनों में पानी टपकने से बच्चों को छुट्टी कर दी गई। नदी, नालों, तालाबों व बांधों में भी पानी की आवक हुई है।

 

Read More : राजस्थान में रेड अलर्ट: 22 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी, लोगों से सावधानी बरतने की अपील

 

आज इन जिलों में भारी बारिश का अलर्ट
भीलवाड़ा, बारां, कोटा, टोंक, अजमेर, बांसवाड़ा, धौलपुर, जयपुर, डूंगरपुर, दौसा, करौली, सवाई माधोपुर, उदयपुर, राजसमंद, प्रतापगढ़, झालावाड़ चित्तौड़, बूंदी, जालौर, नागौर, पाली

9 अगस्त को अलर्ट
बारां, भीलवाड़ा, बूंदी,चित्तौड़, झालावाड़, कोटा, बांसवाड़ा, डूंगरपुर, जयपुर, प्रतापगढ़, राजसमंद, सवाई माधोपुर, टोंक, उदयपुर, जालौर, जोधपुर, नागौर,पाली, जैसलमेर, बाड़मेर

10 अगस्त का अलर्ट
जालौर, पाली, नागौर

 

07 अगस्त की स्थिति
प्रमुख बांधों में पानी की आवक

बीसलपुर (टोंक)
भराव क्षमता - 315.50 मी.
वर्तमान स्तर - 308.43 मी.

बरधा (बूंदी)
भराव क्षमता - 21. 00 फीट
वर्तमान स्तर - 21.00 फीट

पांचना (करौली)
भराव क्षमता - 258.62 मी.
वर्तमान स्तर - 251.50 मी.

जवाई (पाली)
भराव क्षमता - 61 फीट
वर्तमान स्तर - 8.90 फीट

माही (बांसवाड़ा)
भराव क्षमता - 281.50 मी.
वर्तमान स्तर - 275.50 मी.

 

वहीं दूसरी ओर बूंदी के ताकला गांव में गुरुवार सुबह बरसात के दौरान एक कच्चा मकान भरभराकर ढह गया। हादसे में परिवार के सभी सदस्य बाल बाल बच गए। ताकला निवासी भोपाल सिंह ने बताया कि सुबह साढ़े सात बजे के करीब परिवार के सभी सदस्य घरेलू कार्य मे व्यस्त थे। इस दौरान उनका कच्चा मकान अचानक ढह गया। अचानक मकान का एक हिस्से के गिरने की आवाज आयी तो जान बचा कर बाहर निकले। अचानक मकान ढ़हने से मकान में लगे टीनशेड भी गिर गए। जिसके कुछ ही दूरी पर बकरियां बंधी हुई थी। लेकिन मवेशियों को किसी प्रकार की चोट नही आई। गुहार पर इकठ्ठा हुए ग्रामीणों ने सभी को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया। लेकिन, मकान में रखा खाद्यान्न, कपड़ा, आभूषण, नकदी, बिस्तर, तख्त, चारपाई, फर्नीचर समेत गृहस्थी का सभी सामान मलबे में दबकर बर्बाद हो गया।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned