भीलवाड़ा में चीनी में खेल, दी ही नहीं और बता दिया देदी

पॉस में आवंटन का रिकार्ड दर्ज होने के दो साल बाद भी राशन डीलर्स लेवी चीनी के उठाव के लिए रसद विभाग के चक्कर लगा रहे है। दूसरी तरफ उचित मूल्य दुकानदारों ने चेतावनी स्वरूपएक जुलाई को राशन की दुकानें बंद रखी है। Playing in sugar in Bhilwara, not given and told Dadi

By: Narendra Kumar Verma

Updated: 01 Jul 2020, 12:15 PM IST

भीलवाड़ा। पॉस में आवंटन का रिकार्ड दर्ज होने के दो साल बाद भी राशन डीलर्स लेवी चीनी के उठाव के लिए रसद विभाग के चक्कर लगा रहे है। दूसरी तरफ उचित मूल्य दुकानदारों ने चेतावनी स्वरूपएक जुलाई को राशन की दुकानें बंद रखी है।

प्रदेश में राज्य सरकार अभी रियायती लेवी चीनी केवल अन्त्योदय परिवारों को ही दे रही है, भीलवाड़ा जिले में लेवी चीनी का अंतिम वितरण पूर्ण रूप से जून-जुलाई २०१९ में हुआ था, भीलवाड़ा ग्रामीण-सुवाणा पंचायत समिति क्षेत्र में मार्च २०१८ एक वर्ष से चीनी का वितरण नहीं हुआ है। हालांकि क्षेत्र के उचित मूल्य दुकानदारों के लिए खाद्य आपूर्ति निगम ने ११०० क्विंटल लेवी चीनी का उठाव कर लिया, उचित मूल्य दुकानदारों के यहां स्टेप डोर आपूर्ति नहीं होने से निगम ने समूचा चीनी स्टॉक राजस्थान स्टेट वेयर हाउस में किराए के गोदाम में रखवा दिया। जो कि दो साल से उसी स्थिति में अन्य स्टॉक के साथ रखा हुआ है।

पॉस में दर्ज, भौतिक आवंटन नहीं
रसद विभाग ने वर्ष २०१८ में लेवी चीनी का वितरण सुनिश्चित करने के लिए उचित मूल्य के दुकानदारों की पॉस मशीनों में चीनी का उक्त आवंटन भी दर्ज करा दिया, लेकिन चीनी की स्टेप डोर आपूर्ति नहीं हो सकी। किराया भाड़ा अधिक होने से निगम, रसद विभाग एवं क्रय विक्रय सहकारी समिति ने गंभीरता नहीं दिखार्ई। दूसरी तरफ राशन डीलर्स ने भी रिकार्ड दुरुस्त नहीं होने से चीनी उठाव नहीं किया।

आज से दुकानें बंद
पॉस मशीन में आवंटन दर्ज होने और भौतिक रूप से चीनी दुकानों में नहीं पहुंचने का खामियाजा भीलवाड़ा ग्रामीण क्षेत्र के ७० राशन डीलर्स को अभी भी भुगतना पड़ रहा है, उनकी पीड़ा है कि रसद विभाग के दुकान के निरीक्षण के दौरान अधिकारी भौतिक रूप से चीनी का आवंटन नहीं मिलने पर उन पर जुर्माना लगा रहे है, एेसे १२ मामले विभागीय जांच में अटके हुए है। इस संदर्भ मेंं आल इंडिया फेयर प्राइस शॉप जिलाध्यक्ष संजय तिवारी व भीलवाड़ा ग्रामीण अध्यक्ष राजमल ने मंगलवार को जिला रसद अधिकारी को ज्ञापन दिया। ज्ञापन में समस्या का समाधान नहीं होने से एक जुलाई से ग्रामीण क्षेत्र की दुकानें बंद करने का निर्णय लिया है।

शिकायत की करेंगे जांच
वर्ष २०१८ में चीनी के आवंटन का रिकार्ड पॉस मशीनों में दर्ज होने के बावजूद भौतिक रूप से दुकानों तक चीनी नहीं पहुंचने की शिकायत मिली है। विभागीय स्तर पर जांच के लिए चार सदस्यीय टीम गठित की है।
सुनील वर्मा, जिला रसद अधिकारी,

Narendra Kumar Verma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned