मानो विदाई में छलक पड़ी मेघा की आंखें

मानो विदाई में छलक पड़ी मेघा की आंखें
rain in bhilwara

Mahesh Kumar Ojha | Updated: 23 Sep 2018, 01:58:45 AM (IST) Bhilwara, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

भीलवाड़ा।

विदाई की दहलीज पर खड़े मानसून ने शनिवार को शहर समेत पूरे जिले को भिगोया। बारिस से लोगों को गर्मी से राहत मिली। उधर, ग्रामीण क्षेत्रों में बरसात से फसलों में नुकसान हुआ। दलहनी फसलों में अधिक नुकसान हुआ।
शहर में सुबह से आसमान में बादल छाए रहे। दिन में कई बार रह-रह कर घटाएं आई। दोपहर में रिमझिम बरसात भी हुई। शाम को काली घटाएं छाने के बाद तेज बरसात हुई। करीब 20 से 25 मिनट तक तेज बरसात हुई। इससे सड़कों पर पानी बह गया। उसके बाद भी रात तक रह-रह कर बरसात होती रही।

 

नुकसान से सहमे किसानों के चेहरे पर मायूसी


जहाजपुर. शनिवार को दिनभर बारिश का दौर चलता रहा। जे शाम को अचानक तेज बारिश में तब्दील हो गई। बारिश से किसानों ने चेहरे पर मायूसी छा गई। क्षेत्र में झमाझम बारिश को तिलहन फसलों के लिए नुकसानदायक बताया। पीपलूंद में शाम को तेज बारिश हुई। एक ही बारिश ने ग्राम पंचायत की सफाई व्यवस्था की पोल खोल कर रख दी। घरों के बाहर कचरे से अटी नालियों के चलते पानी अवरुद्ध होकर सड़कों पर बहने लगा। ग्रामीण भीगते हुए घरों के बाहर सफाई करते नजर आए।


बिजौलिया. कस्बे में दिनभर तेज में धीमी गति से बरसात का दौर जारी रहा। कुल 16 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड दर्ज की गई। अब तक क्षेत्र में कुल 466 मिलीमीटर वर्षा रिकॉर्ड की जा चुकी है।
बड़लियास. दोपहर बाद रिमझिम शुरू हुई जो शाम तक जारी रही। बरसात से दलहनी फसलों को नुकसान पहुंचने की संभावना है।
सवाईपुर. कस्बे सहित ढ़ेलाणा, बड़ला, बन का खेड़ा, सोपुरा, डसाणिया का खेड़ा, सालरिया आदि कई गांवों में अलसुबह से ही आसमान मे काली घटाएं छा गई। दोपहर तक रुक रुककर बूंदाबांदी होती रही। शाम को तेज बारिश शुरू हुई। क्षेत्र में तीन एमएम बारिश दर्ज की गई। बारिश से किसानों को फसल खराब होने के भय बना है। क्योंकि इस समय फसलें पक कर तैयार हो चुकी है।
कोटड़ी. दोपहर से हवा के साथ बारिश का दौर जारी रहा। बारिश से किसानों में पकने को तैयार उड़द, मूंग की फसलों में नुकसान की संभावना है वहीं मूंगफली व मक्का में फायदा मिलेगा।
गंगापुर . क्षेत्र में शनिवार को दिनभर बादल छाने के साथ ही रूक रूककर रिमझिम बारिश हुई। कस्बे के बाजार सूने-सूने दिखाई दिए। सड़कों पर पानी व कीचड़ फैल गया।
अरवड. कस्बे में सुबह से रिमझिम बारिस का दौर शुरू हुआ। जो दिनभर रुक रुक कर कभी तेज तो कभी धीमी गति से चलता रहा।बारिश से सड़कों रास्तो से पानी बह निकला।
आसींद. क्षेत्र में शनिवार दिनभर रूक-रूक कर बारिश से मोहल्लों में कीचड़ और गंदगी फैल गई है। यह बारिश फसलों के लिए नुकसान दायक है। किसानों ने दलहनी फसलों में नुकसान की संभावना जताई है।
शाहपुरा . कस्बे में दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक रूक रूक कर कभी रिमझिम तो कभी तेज वर्षा हुई। गर्मी से राहत मिली । इस वर्षा से खेत में कटी हुई फसलें व बोई हुई फसलें गीली हो जाने से किसान मायूमस नजर आए।
सिंगोली चारभुजा . सिंगोली चारभुजा, सराणा, फलासिया, गोवटा, बल्दरखा, देवलिया, धाकड खेडी, जोजवा में सुबह से बादल दिनभर छाने से सूरज के दर्शन नहीं हुए। दोपहर को तेज बरसात हुई ।
पण्डेर. आस-पास के गांवों में बारिश से खेतो में काफी नुकसान हुआ। किसान महावीर प्रसाद जाट, मदन लाल भाट ने बताया कि विगत दिनो में तेज हवाओ के साथ हुई बारिश से मक्का, ज्वार, की फसलें पूरी तरह से गिर कर के खेतो में आडी हो गई। ऐसे में शनिवार को हुई बारिश से उडद, मूंग, तिल्ली की फसलों की कटाई का कार्य चल रहा।
बीगोद. सुबह से ही हवा के साथ बारिश शुरू हुई जो दोपहर तक चली। बारिश होने से फसलों को नुकसान होने को लेकर किसान चिंतित है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned