वह 51 कदम चली और लौटी तो ठग जेवरात ले रफूचक्कर हो चुके थे...

वह 51 कदम चली और लौटी तो ठग जेवरात ले रफूचक्कर हो चुके थे...

Rajesh Kumar Jain | Updated: 14 Jul 2019, 02:54:37 AM (IST) Bhilwara, Bhilwara, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

भीलवाड़ा।

 

शहर में सरकारी दरवाजे के निकट शनिवार दोपहर खरीदारी को आई महिला को दो ठगों ने परेशान बताकर बातों में उलझाया। उसके गहने और पर्स लेकर रफूचक्कर हो गए। पर्स में मोबाइल भी था। कोतवाली में रिपोर्ट दी गई है। पुलिस ने ठगों की तलाश भी की, लेकिन ता नहीं लगा।

 

पुलिस के अनुसार पुर की निर्मला जैन की साडि़यों की दुकान है। इसके लिए खरीदारी करने भीलवाड़ा आई। उसे सरकारी दरवाजे के निकट दो युवक मिले। एक ने किसी के बारे में पूछा, जिसे निर्मला नहीं जानती थी। उसके बाद निर्मला को बताया कि वह बीमार रहती है और परेशान है। ठोकर खा चुकी, लेकिन लक्ष्मी टिकती नहीं। यह बात सुनकर निर्मला झांसे में आ गई।

 

एक ठग ने कष्ट दूर करने के लिए दुकान से अगरबत्ती लाने को कहा। निर्मला दुकान से अगरबत्ती लाने गई। एक ठग साथ गया। अगरबत्ती लाने के बाद उसे कहा कि गहने खोल दे और इसे गंगाजल से धोये। निर्मला ने तीस ग्राम वजन के सोने की दो अंगूठियां, पैडिंल, चेन, कान के लटकन, छह हजार रुपए नकदी भरा पर्स और मोबाइल निकाल कर ठग को दिए।

 

ठग ने कहा कि वह 51 कदम चलकर लौट आए। वह 51 कदम चली और लौटी तो ठग गायब मिले। निर्मला रोने लगी तो लोग जमा हो गए। कोतवाली पुलिस भी पहुंची। महिला को साथ लेकर हुलिए के आधार पर ठगों की तलाश की, लेकिन पता नहीं चला। पुलिस सीसी टीवी फुटेज के आधार पर ठगों की पहचान के प्रयास कर रही है।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned