scriptYou can complain on Meri Sadak mobile app | अब खुद बताएं, मेरे इलाके की फलां सड़क टूटी है...मरम्मत की जाएगी... | Patrika News

अब खुद बताएं, मेरे इलाके की फलां सड़क टूटी है...मरम्मत की जाएगी...

locationभीलवाड़ाPublished: Feb 01, 2024 08:30:13 am

Submitted by:

Suresh Jain

भीलवाड़ा में क्षतिग्रस्त सड़कें आमजन की सबसे बड़ी परेशानियों में से एक हैं। अधिकारियों को शिकायत के बावजूद स्थिति में सुधार नहीं होता।

अब खुद बताएं, मेरे इलाके की फलां सड़क टूटी है...मरम्मत की जाएगी...
अब खुद बताएं, मेरे इलाके की फलां सड़क टूटी है...मरम्मत की जाएगी...

भीलवाड़ा में क्षतिग्रस्त सड़कें आमजन की सबसे बड़ी परेशानियों में से एक हैं। अधिकारियों को शिकायत के बावजूद स्थिति में सुधार नहीं होता। अब केंद्र सरकार ने मेरी सड़क और omms.nic.in वेबसाइट लॉन्च की, जिस पर आमजन अपने क्षेत्र की क्षतिग्रस्त सड़क की शिकायत कर सकता है।

साथ ही शिकायतकर्ता शिकायत को ट्रैक भी कर सकेगा। वेबसाइट व मोबाइल एप प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना विभाग ने लॉन्च किया। इससे जर्जर सड़क की फोटो क्लिक कर अपलोड करने के साथ ही अन्य जानकारी देने पर क्षतिग्रस्त सड़क की मरम्मत हो सकेगी। एप का उपयोग कोई भी ग्रामीण अपने मोबाइल या कंप्यूटर पर कर सकता हैं।


विभाग को सीधे जानकारी

नई व्यवस्था से अधिकारियों पर निर्भरता खत्म हो जाएगी। किसी भी क्षेत्र में सड़कों की हालत खराब होने पर आमजन भी विभाग को मौजूदा स्थिति की जानकारी दे सकेगा। पहले अधिकारी, जिस सड़क को क्षतिग्रस्त मानते थे, उसकी मरम्मत ही होती थी। अब शिकायत दर्ज करने के लिए omms.nic.in पर Locate yourroad to give work specificfeedback पर क्लिक करना होगा। इसके बाद राज्य, जिला, ब्लॉक व सड़क की जानकारी देने के बाद अपने मोबाइल नंबर व अन्य जानकारी देने के साथ क्षतिग्रस्त सड़क की फोटो अपलोड करनी होगी। इसी तरह की प्रक्रिया 'मेरी सड़क' मोबाइल एप पर भी अपनानी होगी। फोटो अपलोड होते ही मोबाइल पर शिकायत दर्ज होने संबंधी संदेश आएगा। तस्वीर लेते समय मोबाइल व कैमरा दोनों में जीपीएस ऑन होना चाहिए। मेरी सड़क वेबसाइट पर शिकायत का संक्षिप्त विवरण लिखना अनिवार्य है।

ट्रेंडिंग वीडियो