बाजारों में रहा सन्नाटा, राशन की उचित मूल्य की दुकानों पर रही भीड़

सहकारी उपभोक्ता भंडार संचालक कर रहे कलेक्टर के आदेश की अवहेलना
एक ओर से संक्रमण की चेन तोडऩे के प्रयास तो दूसरी ओर से फेरा जा रहा प्रयासों पर पानी

भिण्ड. प्रशासन द्वारा कोरोना संक्रमण की चेन तोडऩे के प्रयास सार्थक होते नजर नहीं आ रहे हैं। जिले में अनलॉक-2 के पहले दिन जहां बाजार में दुकानें पूरी तरह से बंद रहीं और सड़कों पर सन्नाटा रहा, वहीं आवासीय इलाकों में संचालित सहकारी उचित मूल्य की दुकानों पर राशन लेने वालों की बेतहाशा भीड़ देखी गई। ऐसे में जहां एक ओर कोरोना संक्रमण की चेन तोडऩे के प्रयास किए जा रहे हैं तो दूसरी ओर नाफरमान सहकारी उचित मूल्य की दुकानों के वितरक प्रशासन के उपरोक्त प्रयासों पर पानी फेरने का काम कर रहे हैं।

यहां बता दें कि शहर के सदर बाजार के अलावा, हाउसिंग कॉलोनी, परेड चौराहा, बतासा बाजार, हनुमान बजरिया, लहार चुंगी इलाके के अलावा अटेर रोड, इटावा रोड एवं लश्कर रोड इलाके में भी दुकानें बंद रहीं, जबकि सड़कों पर बिना काम के घूमते नजर आए युवकों को पुलिस ने डंडे मारकर खदेडऩे का काम किया। लोगों में इस बात का आक्रोश भी देखने को मिला कि जहां बाजार के दुकानदारों पर दुकान खोलने पर सख्ती बरती जा रही है वहीं सहकारी उचित मूल्य की दुकानों पर हो रही भीड़ पर किसी प्रकार की कार्रवाई नही की जा रही। व्यापारियों ने बताया कि अभी तक शहर में दो दर्जन से अधिक दुकानदारों के खिलाफ धारा 188 एवं 271 के तहत केस दर्ज किए गए हैं। जबकि उचित मूल्य की दुकानों के खुलने एवं उन पर जमा होने वाली भीड़ के खिलाफ किसी प्रकार की कार्यवाही होती नजर नहीं आई है।

मंदिर के पट रहे बंद तो बागीचे में ही ध्यान लगाकर कर ली पूजा और गोवर्धन की परिक्रमा

रविवार व सोमवार को लॉकडाउन है। ऐसे में न सिर्फ मस्जिद बल्कि मंदिर व अन्य सभी धार्मिक स्थल बंद रखे गए हैं। धार्मिक स्थलों पर सिर्फ एक व्यक्ति को ही धार्मिक क्रिया करने की अनुमति है। ऐसे में गुरु पूर्णिमा के अवसर पर बांके बिहारी गिर्राज भण्डारा सेवा समिति के सदस्यों ने शहर के चंबल कॉलोनी स्थित श्याम बागीचे में पहुंचकर गोवर्धन का ध्यान लगाकर पूजा अर्चना की तथा परिक्रमा भी की। संगठन के संस्थापक सुधीर पोरवाल के मार्ग दर्शन में अन्य सदस्य धर्मचंद्र जैन, देवेश सोनी, कल्पना सोनी, राजू प्रजापति, नरेंद्र तोमर, जीतू यादव, शैलेंद्र गुप्ता एवं जेनेंद्र दीक्षित आदि ने पंडित कौशल पुरोहित द्वारा कराए गए विधान के तहत गुणकारी तुलसी माता की फुलवारी लगाकर पूजा अर्चना की। इस दौरान कोरोना महामारी से निजात दिलाने की प्रार्थना भी की गई।


मस्जिदों के इमाम कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए लोगों को करेंगे जागरुक

कोरोना महामारी से बचने के लिए मस्जिदों के इमाम लोगों को जागरुक करेंगे। मुंह पर मास्क लगाने के अलावा सोशल डिस्टेंसिंग की दिनचर्या अपनाने और नमाज मस्जिदों के बजाए घरों पर ही अदा करने का आग्रह भी करेंगे। 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चे तथा 65 वर्ष से अधिक आयु के बुजुर्गों को घर से बाहर नहीं निकलने की समझाइश भी देंगे। यह बात शहरकाजी इरफान नबी ने विज्ञप्ति के माध्यम से कही।

Show More
महेंद्र राजोरे Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned