Video : कांग्रेस इन अधिकारियों पर लेगी एक्शन, जानिये कौन हैं ये!

कांग्रेस इन अधिकारियों पर लेगी एक्शन, जानिये कौन हैं ये!...

By: दीपेश अवस्थी

Published: 04 Jun 2018, 05:58 PM IST

भोपाल। मध्यप्रदेश में चुनावों से ठीक पहले अब चुनावी पारा बढ़ने लगा है। इसी के चलते पार्टियां एक दूसरे पर लगातार आरोप लगाते हुए हमला कर रही है। वहीं चुनाव के मुहाने इस पर एक बार फिर मतदाता सूची में फर्जीवाड़ा को लेकर सियासत गरमा गई है।


इसी के चलते मध्यप्रदेश में कम से कम 60 लाख फर्जी वोटर शामिल किए जाने का दावा करते हुए कांग्रेस ने चुनाव आयोग से शिकायत की है। साथ ही इसके लिए भाजपा सरकार को कठघरे में खड़ा किया है। कांग्रेस ने चुनाव आयोग से गड़बड़ी करने वाले सभी रिटर्निंग आफिसर्स के खिलाफ सख्त कार्रवाई की भी मांग की है।

दरअसल सोमवार को भोपाल में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने पत्रकार वार्ता में कहा कि भाजपा ने मतदाता सूची बनाने में प्रशासनिक दुरूपयोग किया है। अधिकारियों पर भी कार्यवाही होनी चाहिए। कमलनाथ ने कहा जिन अधिकारियों ने बीजेपी का बिल्ला जेब मे रखा है उन पर भी हम एक्शन लेंगे। कमलनाथ ने अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि भाजपा का बिल्ला लेकर न घूमें।

उन्होंने यह भी कहा कि मध्य प्रदेश में बड़ी संख्या में फर्जी मतदाता है। हमने चुनाव आयोग में 60 लाख फर्जी मतदाताओं की शिकायत की है। अपने पक्ष को साफ करते हुए उन्होंने बताया कि मध्य प्रदेश की आबादी 24 प्रतिशत बढ़ी और वोटर बढ़े 40 प्रतिशत, यह काफी अजीब है।

हमने इसकी सूची चुनाव आयोग को प्रमाणों के साथ दी है। उन्होंने चुनाव आयोग को तुरन्त एक्शन के लिए धन्यवाद भी दिया और कहा कि आयोग ने तुरंत कमेटी गठित की।

वहीं किसान आंदोलन पर कमलनाथ ने कहा कि किसानों से बॉन्ड भरवाए जा रहे हैं, जबकि शिवराज को बॉन्ड भरना चाहिए, शिवराज ने कलाकारी घोषणाओं की राजनीति की है। उन्होंने कहा 6 जून को मंदसौर में एतिहासिक यात्रा में राहुल गांधी शामिल होंगे, सभा सफल नहीं होने देने के लिए सरकार कोशिश में जुटी हुई है।

वरिष्ठ कांग्रेस नेता कमलनाथ ने कहा कि कांग्रेस मध्य प्रदेश के हर किसान के साथ खड़ी है। हम किसी किसान संगठन के साथ नहीं है। उन्होंने कहा मेरे पूरे करियर में पहली बार ऐसा देख रहा हूं, जब प्रदेश में हर वर्ग सरकार से परेशान है, पूरे प्रदेश में सब दुखी है चाहे किसान हो महिला हो या आम आदमी।

उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा के कुछ नेता भी कांग्रेस का साथ देने आने वाले है। वहीं समय समय पर हो रहे खुलासों को लेकर उन्होंने कहा कि कई खुलासे हमने किए हैं, चुनाव से पहले और भी बड़े खुलासे होंगे|

ये बोले खास:
- कमलनाथ ने कहा कि भाजापा का बिल्ला अपनी जेब में रखने वाले अफसरों पर नजर है।
- सरकार कार्यकर्ताओं को डरा रही है उनके खिलाफ कार्रवाई करने की धमकी दी जा रही है।
- मध्य प्रदेश में आज सबसे ज्यादा किसान परेशान हैं।
- कमलनाथ बोले भाजपा लोगों का ध्यान भटकाने के लिए अन्य मुद्दों को ला रही है।
- सरकार किसान युवाओं के मुद्दे पर बात नहीं करना चाहती
- कमलनाथ बोले कांग्रेस हर किसान के साथ खड़ी है। साथ ही कहा कि किसी संगठन से कांग्रेस का कोई लेना देना नहीं है।
- मतदाता सूची में गड़बड़ी पर बोले कि यह जानबूझकर की गई गलती है। प्रशासनिक दुरुपयोग है।

 

इधर, भाजपा नेता रूस्तम के विवादित बोल :-
मध्यप्रदेश में हमेशा अपने बयानों से सुर्खियां बटोरने वाले प्रदेश सरकार के स्वास्थ्य मंत्री रुस्तम सिंह ने एक बार फिर विवादित बयान दे दिया है।

इस बार उन्होंने किसानों को लेकर विवादित बयान दिया है। जिसके बाद से मंत्री के बयान के चारों तरफ से निंदा हो रही है। चुंकी अभी प्रदेश में किसान आंदोलन चल रहा है, ऐसे में विपक्ष ने मुद्दे को लपकते हुए सरकार पर हमले करने शुरु कर दिए हैं।

दरअसल, प्रदेश सरकार के स्वास्थ्य मंत्री और शिवपुरी के प्रदेश प्रभारी आज मोदी सरकार के चार साल की उपलब्धियां गिनाने सर्किट हाउस में मीडिया से रुबरु हुए थे, यहां उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह जिन किसानों को भगवान का दर्जा देते हैं। इसी दौरान उन्होंने किसानों को जिद्दी बेटा ओर सरकार को बाप बता दिया।
वही किसान आंदोलन को लेकर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि आप अपने बेटे को गाड़ी दो तो वह बड़ी गाड़ी मांगेगा, और जब बड़ी गाड़ी दोगे तो वह मर्सडीज मांगेगा। वैसे भी हक की बात वह लोग कर रहे है जिन्होंने जिंदगी में कुछ किया ही नहीं है।

BJP Congress
Show More
दीपेश अवस्थी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned