अब होटल बनेंगे कोरोना अस्पताल, वेटर की जगह तैनात रहेंगे वार्ड बॉय

कोरोना से जंग में सामान्य मरीजों के साथ संक्रमितों के इलाज के लिए निकाला रास्ता

By: Pradeep Kumar Sharma

Published: 19 Sep 2020, 03:00 AM IST

भोपाल. होटल में बेड और वार्ड बॉय मिले तो चौंकिएगा मत, क्योंकि होटले कोरोना अस्पताल में तब्दील होंगी। गुरुवार को निजी अस्पताल ने एक होटल को किराए पर लेकर उसे अस्पताल में बदल दिया। इसके अलावा कॉलेज, बंद पड़े अस्पतालों के साथ अन्य बड़ी जगहों का इस्तेमाल भी अब कोरोना अस्पताल के रूप में किया जाएगा। सरकार ने निजी अस्पतालों को भी कोरोना मरीजों के इलाज की छूट दी है, लेकिन कई अस्पतालों के पास इतनी जगह नहीं कि वे अस्पताल को दो हिस्सों में बांटे। ऐसे में दूसरे भवन किराए पर लेकर अस्पताल तैयार कर रहे हैं। इसके लिए गुरुवार को एक दर्जन से ज्यादा निजी अस्पतालों ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को आवेदन किया।

अस्पताल ही करेंगे व्यवस्था
अस्पताल को ही पूरी व्यवस्था करनी होगी। जो स्थान किराए पर लेंगे, उनमें व्यवस्था करना उनकी जिम्मेदारी होगी। एक होटल के अलावा लंबे समय से बंद निजी मेडिकल कॉलेज, एक पुराने नर्सिंग होम को कोविड अस्पताल के रूप में शुरू किया गया।

मरीजों को होगा दोहरा फायदा
विशेषज्ञों का कहना है कि ज्यादा फायदा मरीजों को होगा। पहला कोरोना मरीजों के लिए बिस्तरों की संख्या बढ़ेगी, वहीं आम मरीजों को भी इलाज के लिए दिक्कत नहीं होगी। सबसे बड़ा फायदा यह कि आम मरीजों को संक्रमण का डर नहीं होगा।

ऑक्सीजन की कालाबाजारी और ओवर प्राइजिंग रोकने की वेंडर्स को हिदायत
प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। मरीजो को अस्पतालो में बेड़ और व्यवस्थाएं कम पड़ रहीं हैं। ऑक्सीजन को लेकर कोई समस्या की स्थिति न बने इसके लिए अपर मुख्य सचिव मो. सुलेमान ने प्रदेश भर के 20 वेंडर्स के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चर्चा की। वीसी में एसीएस सुलेमान ने सभी वेंडर्स से कहा कि ऑक्सीजन की आपूर्ति निरंतर बनी रहे साथ ही कालाबाजारी और ज्यादा रेट लिए लिए जाने की सूचना मिली तो कार्रवाई की जाएगी। महाराष्ट्र से ऑक्सीजन सप्लाई रोके जाने के बाद प्रदेश में भिलाई से ऑक्सीजन की सप्लाई की जा रही है, लेकिन वहां से गैस लाने के लिए मेडिकल टेंकर लॉरी की समस्या जा रही है। सरकार के पास खुद का कोई वाहन नहीं हैं। ऐसे में बढ़ी हुई ऑक्सीजन की खपत को पूरा करने के लिए इंदौर के एक वेंडर ने बेंगलोर से बडी लॉरी मंगाई है। इससे ऑक्सीजन की सप्लाई बनी रहेगी।

Pradeep Kumar Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned