पेट में जलन और खट्टी डकार की है शिकायत तो हो जाएं सावधान, ये है नए प्रकार का कैंसर

पेट में जलन और खट्टी डकार की है शिकायत तो हो जाएं सावधान, ये है नए प्रकार का कैंसर

By: Ashtha Awasthi

Published: 07 Jun 2018, 12:33 PM IST

भोपाल। बदलती लाइफस्टाइल में कोई छोटी मोटी बीमारी कब गंभीर समस्या बन जाए इस बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता है। आजकल ऐसी खतरनाक बीमारियां आम हो गई हैं कि आगे चलकर यह जानलेवा साबित हो जाती है। आपको बता दें कि देश में कैंसर से मौतों के मामले में टॉप 5 में मध्यप्रदेश का नाम शामिल हो गया है। ये आंकड़ा केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की रिपोर्ट में हुआ है। रिपोर्ट बताती है कि प्रतिदिन 84 मौत के साथ हर दिन 191 नए मरीज कैंसर के सामने आ रहे हैं। इसके बाद भी कैंसर सहित अन्य रोगों की रोकथाम के लिए जारी की जाने वाली केंद्र से मिली राशि का पूरा इस्तेमाल मध्यप्रदेश सरकार नहीं कर पा रही है।

कैंसर ने आज एक इतना बड़ा स्वरूप ले लिया है कि मध्यम परिवार के लिए इसका इलाज कराना भी मुश्किल हो गया है। न जाने कितने लोग इसका इलाज नहीं करा पाते है और मौत के गले में समा जाते है। डॉक्टर अरविंद जैन बताते है कि अगर आपके पेट में जलन होने की समस्या बनी हुई है या फिर लगातार खट्टी डकारें आती है तो आपको सावधान हो जाना चाहिए। इन लक्षणों के ये संकेत भी हो सकते है कि आपको ग्रासनली का कैंसर हो। एसोफेगल कैंसर, एसोफेगस में कोशिकाओं का आकार अचानक से बढ़ने लगता है।

cancer

एसोफेगस गले से आपके पेट तक खाना और पानी लेकर जाती है। एसोफेगस जहां पर पेट से जुड़ी होती है वहां इसकी परत एक अलग तरह की कोशिकीय बनावट की होती है, जिसमें कई तरह के केमिकल्स निकलने वाली अनेक ग्रंथियां और संरचनाएं बनी होती हैं। अगर एसोफेगस का कैंसर इस कहीं हिस्से से शुरू होता है जहां पर ट्यूब पेट से मिलता है, तो इस कैंसर को स्क्‍वामस सेल कार्सिनोमा कहा जाता हैं। अगर यह एसोफेगस के ग्रंथियों वाले हिस्से से शुरू हो रहा है तो इसे एडेनोकार्सिनोमा (ग्रंथियों की बनावट वाले हिस्सें का कैंसर) कहते हैं।

जानिए क्या है इस कैंसर के लक्षण

अगर आपको ग्रासनली का ये कैंसर है तो आपके शरीर में ये लक्षण दिखाई देंगे...

- खाना खाते समय अगर आपको खाना निगलने में कोई दिक्कत हो या सिर्फ कुछ सॉलिड खाने में परेशानी होती है, तो आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

- अक्सर मरीज सीने के बीच में, सीने की हड्डी के बिल्कुल नीचे ‘चिपकने’ की शिकायत महसूस हो

- सीने और पसलियों में बार-बार दर्द हो।

- लगातार खट्टी डकारें आती रहें।

- अचानक से आपका वजन गिरने लगे।

लगातार कई दिनों तक खांसी की शिकायत होना।

- लगातार उल्टियां आते रहना।

cancer

एसोफैगल कैंसर के कारण

आपको बता दें कि जन लोगों की उम्र 50 साल से ज्यादा होती है उनको ये कैंसर होने की संम्भावना सबसे ज्यादा होती है। इन लोगों को सबसे ज्यादा सावधानी करने की जरूरत है। वहीं दूसरी ओर पुरुषों को एसोफैगल कैंसर होने का खतरा महिलाओं की तुलना में ज्यादा होता है। ऐसा कहा जाता है कि महिलाओं की तुलना में पुरूषों में इस रोग का खतरा तीन गुना ज्यादा होता है। हालांकि अफ्रीकी-अमेरिकी लोगों की तुलना में काकेशियन लोगों में लोअर एसोफेगस के एडेनोकार्सिनोमा के मामले ज्यादा केस पाए जाते हैं।

कब करें डॉक्टर से संपर्क

अगर आपको खाना निगलने में परेशानी हो, वजन कम हो रहा हो या लगातार उल्टियां आ रही हो तो अपने डॉक्टर से सम्पर्क करें। अगर आपको सीने में दर्द या खून की उल्टी हो रही है तो तुरंत डॉक्टर से चेकअप करें। यदि आपको अहसास होता है, कि खाना निगलने पर अंदर नली में चिपकता है तो अपने फिजीशियन को दिखाएं।

Ashtha Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned