scriptDraft ready to ban dangerous online games, soon a law will be made | खतरनाक आनलाइन गेम पर रोक लगाने ड्राफ्ट तैयार, जल्द बनेगा कानून | Patrika News

खतरनाक आनलाइन गेम पर रोक लगाने ड्राफ्ट तैयार, जल्द बनेगा कानून

ऑनलाइन गेम्स पर अंकुश लगाने के लिए ड्राफ्ट तैयार कर लिया गया है, जिसे जल्द ही मूूर्त रूप दिया जाएगा।

भोपाल

Updated: January 13, 2022 12:10:41 pm

भोपाल. मध्यप्रदेश सरकार जल्द ही खतरनाक ऑनलाइन गेम पर रोक लगाने जा रही है, जिसके लिए ड्राफ्ट भी तैयार कर लिया गया है, इस संबंध में कानून भी बनाया जाएगा, ताकि कोई गेम उसके दायरे में ही तैयार हों, चूंकि ऑनलाइन गेम के चक्कर में पडऩे में कई बच्चों ने अपनी जान गवाई है। इसी के चलते सरकार यह बड़ा फैसला ले रही है।

खतरनाक आनलाइन गेम पर रोक लगाने ड्राफ्ट तैयार, जल्द बनेगा कानून
खतरनाक आनलाइन गेम पर रोक लगाने ड्राफ्ट तैयार, जल्द बनेगा कानून


जानकारी के अनुसार गृहमंत्री डॉक्टर नरोत्तम मिश्रा ने ऑनलाइन गेम्स को दायरे में लाने के लिए कानून बनाने की बात कही है, ताकि इस प्रकार बच्चों की मौत नहीं हो, उन्होंने कहा कि यह गंभीर विषय है, जिस पर लगाम कसना जरूरी है, उन्होंने बताया कि ऑनलाइन गेम्स पर अंकुश लगाने के लिए ड्राफ्ट तैयार कर लिया गया है, जिसे जल्द ही मूूर्त रूप दिया जाएगा।

इन गेमों पर लगेगी रोक
आपको बतादें की इन दिनों पबजी, फ्री फायर जैसे कई गेम ऑनलाइन चलते हैं, जिसके बच्चे आदि हो जाते हैं, आश्चर्य की बात तो यह है कि इनके चक्कर में बच्चों की मौत तक हो रही है। इसलिए इस प्रकार के ऑनलाइन गेम पर शीघ्र प्रतिबंध लगने की तैयारी है।

5 वीं के बच्चे ने छत पर लगाया फंदा
राजधानी के बजरिया क्षेत्र के शंकराचार्य नगर में 5वीं के छात्र सूर्याश ओझा ने बुधवार को घर की छत पर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। परिजन के अनुसार, 11 वर्षीय सूर्यांश चचेरे भाई के साथ पिछले कई दिन से ऑनलाइन गेम फ्री फायर खेल रहा था। उसने दादा के सोशल मीडिया अकाउंट से ऑनलाइन गेमिंग और खरीदारी की कई वेबसाइट सर्च की थीं। बुधवार को भी वह गेम खेल रहा था। इस बीच जब चचेरा भाई किसी काम से घर की निचली मंजिल पर गया, तभी सूर्यांश छत पर पहुंचा और लोहे की रॉड में तार बांधकर फंदे पर लटक गया।

यह भी पढ़ें : शादियों से पहले आया संकट-कहीं रिश्तेदारी में दरार न डाल दे यह कोरोना

थाना प्रभारी उमेश यादव ने बताया कि प्रारंभिक जांच में बच्चे के ऑनलाइन गेम खेलने की बात सामने आई है। पिता योगेश ओझा की बागसेवनिया इलाके में चश्मे की दुकान है। परिवार सामूहिक रूप से दादा-दादी, चाचा-चाची के साथ रहता था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Video Weather News: कल से प्रदेश में पूरी तरह से सक्रिय होगा पश्चिमी विक्षोभ, होगी बारिशVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!पाकिस्तान से राजस्थान में हो रहा गंदा धंधाइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजहार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.