झांकी स्थलों पर सुरक्षा के रखेंगे इंतजाम, मास्क होने पर ही दिया जाएगा प्रवेश, दर्शन भी निश्चित दूरी से

इस बार बड़े स्तर पर झांकियां नहीं लगाई जाएंगी, सिर्फ ओपन पंडालों में मां दुर्गा की स्थापना की जाएगी। दर्शन के लिए श्रद्धालु भीड़ नहीं लगाएंगे बल्कि एक निश्चित दूरी पर खड़े रहना होगा।

By: Pradeep Kumar Sharma

Published: 21 Sep 2020, 03:00 AM IST

भोपाल. कोरोना काल में नवरात्र उत्सव का स्वरूप बदला हुआ रहेगा। देश के धार्मिक स्थलों की प्रतिकृति पर बड़ी झांकियां लगती थीं और दर्शन के लिए कतारें होतीं थीं, जो इस बार देखने को नहीं मिलेगी। बड़े स्तर पर झांकियां नहीं लगाई जाएंगी, सिर्फ ओपन पंडालों में मां दुर्गा की स्थापना की जाएगी। दर्शन के लिए श्रद्धालु भीड़ नहीं लगाएंगे बल्कि एक निश्चित दूरी पर खड़े रहना होगा। इसके साथ ही सुरक्षा के सभी मानकों का पालन कराया जाएगा। जिला प्रशासन द्वारा नवरात्र उत्सव को लेकर गाइडलाइन जारी करने के बाद शहर में नवरात्र की तैयारियां शुरू हो गई है। कई समितियां आयोजन को लेकर बैठक आदि कर रणनीति तय कर रही है। दूसरी ओर समितियों की यह भी मांग है कि प्रतिमा की जो ऊंचाई शासन ने छह फीट और पंडाला का साइज 10 बाय 10 तय किया है, इसमें संशोधन किया जाए। इस मांग को लेकर कई संगठन लामबंद होने लगे हैं।

पंडाल का साइज बढ़ाया जाए
टीन शेड स्थित मां वैष्णोधाम में संस्कृति बचाओ मंच की बैठक में उत्सव समितियों के पदाधिकारियों, मूर्तिकारों, टेंट वालों ने भाग लिया। समिति के चंद्रश्ेाखर तिवारी ने बताया कि हम गाइड लाइन मानेंगे, लेकिन हमारी मांग है कि जिनकी प्रतिमाएं 6 फीट से ज्यादा ऊंचाई की तैयार हो चुकी है, उन्हें बिठानी दी जाए। पंडाल का साइज 15 बाय 30 फीट करें। जो साइज तय है, उसमें पूजा कर पाना संभव नहीं है।

बिट्टन मार्केट- ओपन पंडाल सजाएंगे
ज य मां वैष्णो दुर्गा उत्सव समिति बिट्टन मार्केट हाट बाजार व्यापारी संघ की ओर से आकर्षक झांकी पिछले 14 सालों से स्थापित की जा रही है। समिति के संयोजक हरिओम खटिक ने बताया कि हम इस बार अयोध्या में नए स्वरूप में प्रस्तावित राम मंदिर की झांकी तैयार कर रहे थे, इसके लिए 11 लाख में कारीगरों को ठेका भी दे दिया था, लेकिन शासन की गाइड लाइन को देखते हुए इसे निरस्त कर दिया है। अब यहां बड़ा ओपन पंडाल लगाएंगे। स्थापना के लिए 3 फीट की प्रतिमा का आर्डर दिया है, इसके अलावा झांकी स्वरूप में एक बड़ी प्रतिमा भी रहेगी। झांकी स्थल पर दर्शन के लिए गोले बनाएं जाएंगे, इसके अलावा सभी सुरक्षा के इंतजाम रहेंगे।

न्यू मार्केट- बिना मॉस्क प्रवेश नहीं
न्यू मार्केट व्यापारी दुर्गा उत्सव समिति के आयोजक पवन वरदानी और संयोजक अजय अग्रवाल ने बताया कि छह फीट की प्रतिमा स्थापित करेंगे। हमारी मांग है कि पंडाल का साइज 15 बाय 15 फीट किया जाए, ताकि अंदर पुजारी अच्छे से पूजा आदि कर सकें। यहां सैनेटाइजर, मास्क आदि रखे जाएंगे, बिना मास्क के किसी को भी प्रवेश नहीं मिलेगा। जरुरी होने पर समिति मास्क भी उपलब्ध कराएंगे।

गोविंद गार्डन- सिर्फ प्रतिमा स्थापना होगी
दुर्गा उत्सव समिति गोविंद गार्डन द्वारा 25 सालों से मां दुर्गा की स्थापना की जा रही है। समिति के रिंकू भटेजा ने बताया कि हर साल हम मथुरा और उज्जैन से कलाकार बुलाकर सजीव झांकी सजाते थे, लेकिन इस साल
सजीव झांकी नहीं सजाई जाएगी, सिर्फ पंडाल में मां दुर्गा की स्थापना होगी। मांग है कि पंडाल का साइज बढ़ाया जाए। उत्सव में कोरोना को लेकर गाइडलाइन का पालन करेंगे।

Pradeep Kumar Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned