इन अफसरों को चुनाव आयोग देगा एक और मौका और इन पर होगी कार्रवाई!

इन अफसरों को चुनाव आयोग देगा एक और मौका और इन पर होगी कार्रवाई!

Deepesh Tiwari | Publish: Sep, 11 2018 11:16:44 AM (IST) | Updated: Sep, 11 2018 11:18:15 AM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

फेल हुए आइएएस: 561 अफसरों में से पास हुए महज 238

भोपाल। चुनाव आयोग की परीक्षा में जानबूझकर फेल होने वाले आइएएस अफसरों सहित संयुक्त और डिप्टी कलेक्टरों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। इनकी सूची बनाई जा रही है।

यह जानकारी देते हुए मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वीएल कांताराव ने सोमवार को बताया कि जो अफसर जानबूझकर परीक्षा में फेल हुए हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई के लिए सरकार को लिखा जा रहा है। जिन अधिकारियों का प्रदर्शन अच्छा नहीं है। उन्हें एक मौका और दिया जा रहा है।

सीइओ ने बताया कि हमने 561 रिटर्निंग व सहायक रिटर्निंग अफसरों की चुनाव तैयारियों की परीक्षा ली थी। इसमें महज 238 अफसर पास हो पाए। दरअसल, चुनाव आयोग का उद्देश्य है कि चुनाव ड्यूटी में तैनात अफसरों को चुनाव से जुड़ी जानकारी पता होना चाहिए। इस परीक्षा के माध्यम से उनका आइक्यू का भी आंकलन हो जाता है।

कैलेंडर और लोगो जारी...
सीइओ ने विधानसभा चुनाव के लिए वीकली स्वीप कैलेंडर और स्टेट लोगो जारी किया। उन्होंने बताया कि इस कैलेंडर में 12 सप्ताह का पूरा कार्यक्रम दिया जा रहा है।


इधर, दिग्विजय ने दिया 600 को टिकट का भरोसा...
वहीं दूसरी ओर कांग्रेस समन्वय समिति के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह से मिलने के लिए सर्किट हाउस में टिकट के दावेदारों का जमावड़ा लगा है। प्रदेशभर से आए दावेदार विधानसभा की सीढि़यां चढऩे को बेताब दिखे।

दिग्विजय मेन गेट पर खड़े हो गए और दावेदारों की कतार लगवा दी। एक घंटे में उन्होंने करीब छह सौ दावेदारों को टिकट का आश्वासन दे दिया, लेकिन शर्त भी लगा दी। दिग्विजय ने कहा कि आवेदन फॉर्म में ये लिखना पड़ेगा कि टिकट क्यों दिया जाए। जीत की गारंटी क्या है। दिग्विजय से मिलने पूर्व मंत्री बृजेंद्र राठौर, जसवंत सिंह समेत पूर्व सांसद, पूर्व विधायक भी पहुंचे।

कांग्रेस की पहली सूची में 80 उम्मीदवारों के नाम होंगे, जिनमें से करीब 40 सीटों पर सिंगल नाम का ही पैनल है। ये चालीस सीटें मौजूदा विधायकों की हैं। 40 विधायकों की फिर से उम्मीदवारी का एेलान पहली सूची में कर दिया जाएगा।

नाराज होकर लौटे
समन्वय समिति ने सर्किट हाउस में सोमवार को नेताओं से वन टू वन चर्चा की। उनसे चुनाव जीतने का आधार पूछा। युवक कांग्रेस नेता मनोज शुक्ला ने कहा कि हमने डंडे खाए हैं एक बार टिकट मिलना चाहिए। वहीं, कुछ नेताओं को तो मिलने का मौका ही नहीं मिला, जिससे वे नाराज हो गए। यूथ कांग्रेस नेता राशिद खान का कहना है कि वे बुलावे पर आए थे, लेकिन उन्हें मिलने का समय नहीं दिया गया।

दावेदारों ने ये कहा
पन्ना की गुन्नौर सीट से टिकट मांगने आईं राधा चौधरी ने बताया कि उनकी विधानसभा सीट पर उनकी जाति के सबसे ज्यादा वोट हैं, इसलिए उनका जीतना तय है, बस राजा साहब टिकट दिला दें। खिलचीपुर से आए लोगों ने कहा- मंडलोई वकील साहब को टिकट दे दो राजा साहब तभी जीत पाएंगे। राजगढ़ से आए युवक नीरज ने कहा कि मेरी राजा साहब के साथ इतनी फोटो हैं कि यदि उन्होंने फाइल देख ली तो मुझे टिकट दे ही देंगे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned