किसी को खुल्ले पैसे देने से पहले पढ़ लें यह खबर, लग सकती है चपत

रूमाल में लिपटे कागज के टुकड़े देकर 35 हजार रुपए ले गया ठग

भोपाल. ठगी की वारदातें आए दिन सुर्खियां बन रही हैं। चेताया जा रहा है। जागरूक किया जा रहा है। इसके बाद भी लोग ठगे जा रहे हैं। पढ़े-लिखे लोग भी शिकार बन रहे हैं। ऐसा ही एक मामला हनुमानगंज थाना इलाके में 35 हजार रुपए की ठगी का सामने आया है। एक अज्ञात व्यक्ति ने पैसे खुल्ले करवाने के बहाने दो-दो हजार रुपए के नोट दिखाए और रूमाल में बच्चों की नोटबुक के पेज लपेटकर दुकानदार को थमा दिया। दुकानदार ने रुमाल खोलकर देखा भी नहीं और दो-दो हजार रुपए खुल्ले करने के बदले 35 हजार रुपए थमा दिया।

हनुमानगंज थाना प्रभारी महेंद्र सिंह ठाकुर ने बताया कि कबाडख़ाना स्थित बाबुल शादी हॉल के पास रहने वाले जिबरान खान पिता अब्दुल रज्जाक सन राइज कूलर की दुकान चलाते हैं। वह दुकान पर ग्राहकों के बीच बातचीत कर रहे थे। इसी बीच एक अज्ञात व्यक्ति आया, जिसके हाथ में रूमाल में लिपटी हुई एक गड्डी थी। इसमें दो हजार के दो नोट भी थे, जिन्हें जिबरान को दिखाते हुए दोनों नोट अपने साथ वाले अज्ञात व्यक्ति को उसने दिया और बाकी गड्डी जिबरान को सौंप दी। जिबरान ने 500-500 के नोट गिनकर 35 हजार रुपए अज्ञात व्यक्ति को सौंप दिए। कुछ देर बाद रूमाल में लपेटी हुई गड्डी देखी तो जिबरान के होश उड़ गए।

उसमें नोटबुक के पेजों की गड्डी लपेटकर रखी थी। पुलिस को जिबरान ने बताया कि अज्ञात व्यक्ति ने 2 हजार के दो नोट निकाले तो वह समझा कि पूरी गड्ढी में दो-दो हजार रुपए के नोट होंगे, लेकिन उसमें कागज निकले। इस पर पुलिस को भी अंदेशा है कि बिना गिने पैसे कैसे ले लिए और बदले में 35 हजार रुपए खुल्ले भी दे दिए। व्यक्ति के बारे में जिबरान ने कुछ जानकारी भी नहीं ली। हालांकि पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Radhyshyam dangi
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned