दोस्तों ने पहले पीटा फिर नदी में दिया धक्का, पानी में छटपटाता रहा फिर तोड़ दिया दम

मोबाइल चोरी के शक में की थी युवक की हत्या, कोलार पुलिस ने अंधे कत्ल का किया पर्दाफाश

 

भोपाल. मोबाइल चोरी के शक में दोस्तों ने ही मंडीदीप के युवक की हत्या की थी। आरोपियों ने उसके साथ पहले बेरहमी से मारपीट की इसके बाद उसे धक्का देकर नदी में गिरा दिया। पुलिस ने महीनेभर की जांच के बाद हत्या के आरोप में उसके दो दोस्तों को गिरफ्तार किया है। कोलार थाना प्रभारी अनिल वाजपेयी ने बताया कि 29 वर्षीय कपिल पाल पिता अवधनारायण पाल, वार्ड नंबर तीन पाल मोहल्ला मंडीदीप में रहता था। वह मंडीदीप नगर पालिका में बस स्टैंड पर राजस्व कलेक्शन का काम करता था। छह नवंबर की शाम करीब सात बजे कपिल दोस्तों के साथ घूमने के लिए निकला था। लेकिन देर रात तक घर नहीं पहुंचा। परिजनों ने तलाश की, लेकिन उसका सुराग नहीं लगा। 8 नवंबर की दोपहर को उसका शव मंडीदीप के पास केरवा नदी के किनारे कैथलिया घाट पर मिला।

पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू की। पीएम रिपोर्ट में हत्या की पुष्टि होने पर मोबाइल कॉल रेकॉर्ड खंगाला। पुलिस को उसके दोस्त मनोज अहिरवार व राहुल सहैरिया की घटना स्थल के पास मौजूदगी मिली। पुलिस ने दोनों के घर पर दबिश दी गई, लेकिन वह गायब मिले। करीब एक माह की मशक्कत के बाद दोनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी मनोज एक ऑन लाइन मार्केटिंग कंपनी में डिलेवरी बॉय रह चुका है। दीपावली के समय उसने नौकरी छोड़ दी थी। जबकि राहुल मजदूरी के साथ हार्वेस्टर चलाता है।

बदहवास हालत में नदी में धक्का दिया
आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि 6 नवंबर को कपिल के साथ मनोज अहिरवार, राहुल सहैरिया, विनोद पाल उर्फ चौहान व विनोद अहिरवार शराब पीने के लिए मंडीदीप के पास केरवा नदी के किनारे कैथलिया घाट पहुंचे। इसी दौरान कपिल ने बात करने के लिए मनोज का नया मोबाइल मांगा। वह मोबाइल लेकर थोड़ी दूर जाकर बात करने लगा। थोड़ी देर बाद लौटा, तो मोबाइल नहीं मिला। मनोज ने मोबाइल वापस मांगा तो उसने अपने पास होने से इनकार कर दिया। इसी बात को लेकर दोनों के बीच विवाद शुरू हो गया। यह देख विनोद पाल व विनोद अहिरवार भाग गए। जबकि कपिल के साथ नशे में धुत मनोज व राहुल मारपीट करने लगे। मारपीट के बाद भी मोबाइल नहीं मिला, वह दोनों उसका मुंह दबा नदी के किनारे लेकर पहुंचे। इसके बाद धक्का देकर उसे 20 फीट ऊंचाई से नदी में गिरा दिया। तैरना नहीं आने की वजह से डूबने लगा। मदद के लिए चीखता रहा, लेकिन दोस्तों ने मदद नहीं की। जिससे उसकी मौत हो गई। हालांकि पुलिस को मनोज का मोबाइल अब तक नहीं मिला है।

पुलिस ने महिला की जुटाई जानकारी
कपिल की शादी हो चुकी है। उसके एक-एक बेटा-बेटी हंै। पुलिस को जांच के दौरान कपिल की एक अन्य महिला से दोस्ती होने के इनपुट मिले। पुलिस ने महिला की जानकारी जुटाकर उससे पूछताछ की, लेकिन हत्याकांड में उसकी भूमिका सामने नहीं आई।

Show More
नीलेंद्र कुमार Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned