जनहितैषी योजनाओं में फीडबैक सिस्टम लाएगी सरकार

-------------------------
- सर्विस डिलीवरी सिस्टम सुधारने पर फोकस
- योजना में लाभ लेने के बाद हितग्राही देंगे फीडबैक
- आनलाइन साफ्टवेयर मॉड्यूल में होगी व्यवस्था
-------------------------

भोपाल। प्रदेश में सरकारी जन हितैषी योजनाओं में अब फीडबैक सिस्टम विकसित किया जाएगा। इसके तहत सरकारी योजनाओं में लाभ मिलने के साथ ही हितग्राही फीडबैक दे सकेगा। इसके लिए सरकारी योजनाओं के लिए साफ्टवेयर मॉड्यूल तैयार होगा, जिसमें फीडबैक सिस्टम रहेगा।
------------------------
दरअसल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सरकारी योजनाओं में सर्विस डिलीवरी सिस्टम में सुधार के लिए फोकस किया है। इसके तहत सरकारी योजनाओं में हितग्राही को त्वरित लाभ और बेहतर सर्विस पर काम होगा। इसके लिए फीडबैक सिस्टम महत्वपूर्ण माना जाता है, इसलिए हर योजना में लाभ देने के साथ फीडबैक मानीटरिंग होगी। अभी योजनाओं में हितग्राही को लाभ देने के फीडबैक रेंडम तरीके से अफसरों के द्वारा लिया जाता है। कोई तय शेड्यूल या सिस्टम फीडबैक के लिए नहीं है। लेकिन, आगे चलकर साफ्टवेयर मॉड्यूल को इस प्रकार विकसित किया जाएगा कि हर हितग्राही तुरंत फीडबैक दें। मसलन, राशन बंटवारे, आय-मूल निवासी प्रमाण-पत्र, अन्य प्रकार के प्रमाण-पत्र आदि के मामले में सर्विस डिलीवरी पर फीडबैक लिया जाएगा। इसे आनलाइन ही फीड किया जाएगा। बाद में इसकी आनलाइन मानीटरिंग व डाटा एनालिसिस भी किया जा सकेगा।
-------------------------
फीडबैक पर सीएम रिस्पांस सिस्टम में भी फोकस-
सीएम शिवराज सिंह चौहान का जनता की समस्याओं को हल करने से जुड़ा पूरा आनलाइन सिस्टम नए फ्लेवर में आना है। इसमें भी फीडबैक को प्राथमिकता पर रखा जाएगा। सीएम समाधान, सीएम हेल्पलाइन सहित सभी प्रकार की सरकारी हेल्पलाइन के साफ्टवेयर अपग्रेड किए जाना है। इनके लिए भी नए सिरे से काम हो रहा है। सीएम कम से कम महीने में एक बार इन योजनाओं की समीक्षा भी करेंगे।
------------------------------

जीतेन्द्र चौरसिया Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned