राष्ट्रीय हॉकी प्रतियोगिता : कर्नाटक, बंगाल आन्ध्रा, पीएनबी और बिहार क्वार्टरफाइनल में

8वीं जूनियर राष्ट्रीय हॉकी प्रतियोगिता

By: दीपेश तिवारी

Published: 25 Apr 2018, 07:16 PM IST

भोपाल। 8वीं जूनियर राष्ट्रीय हॉकी प्रतियोगिता में मंगलवार को 'बी' डिवीजन बालक वर्ग में आन्ध्र प्रदेश, पीएनबी, कर्नाटक, बंगाल, बिहार, बेंगलूरु, राजस्थान और कुर्ग की टीमें क्वार्टरफाइनल में पहुंची। आन्ध्रा हॉकी एसोसिएश ने हॉकी मध्य प्रदेश को 7-1 से हराया। पीएनबी ने आसाम हॉकी को 4-2 से शिकस्त दी। हॉकी हिम ने स्पाट्र्स अथॉरिटी ऑफ गुजरात हॉकी अकादमी को 8-2 से हराया।

वहीं, 'बी' डिवीजन बालिका में आन्ध्रा हॉकी एसोसिएशन ने बंगाल हॉकी एसोसिएशन को 3-0 से तथा मणिपुर हॉकी ने हॉकी गुजरात को 13-0 से परास्त किया। बेंगलूरु हॉकी एसोसिएशन और विदर्भ हॉकी एसोसिएशन ने 4-4 से ड्रा खेला। प्रतियोगिता के मुकाबले साई सेंटर गोरे गांव, ऐशबाग स्टेडियम और मेजर ध्यानचंद्र हॉकी स्टेडियम में खेले जा रहे हैं।

स्टेडियम में मार्शल आर्ट के लिए बनेगा इंडोर मल्टीपर्पज हॉल
17 करोड़ 21 लाख की लगेगी लागत
मध्यप्रदेश के मार्शल आर्ट खिलाडिय़ों को जल्द ही तात्या टोपे खेल परिसर में इंडोर मल्टीपर्पज हॉल उपलब्ध होगा। जिसमें जूडो, ताइक्वांडो, बॉक्सिंग, कराते, फेन्सिंग, वुशू और कुश्ती के खिलाड़ी तैयार हो सकेंगे। खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने मंगलवार को परिसर में 17 करोड़ 21 लाख की लागत से बनने वाले इस हॉल का भूमि-पूजन किया। खेल मंत्री ने बताया कि हॉल की कुल राशि में से 8 करोड़ केन्द्रीय सहायता और शेष 9 करोड़ 21 लाख का व्यय राज्य शासन द्वारा किया जाएगा। मार्शल आर्ट अकादमी के खिलाड़ी नेशनल स्तर पर बेहतरीन उपलब्धि हासिल कर रहे हैं। उन्हें अन्तराष्ट्रीय स्तर की प्रशिक्षण सुविधा के लिए इस हॉल का निर्माण किया जा रहा है। इस अवसर पर संचालक खेल उपेन्द्र जैन, संयुक्त संचालक बालू यादव मौजूद रहे। इधर, सिंधिया ने शूटिंग अकादमी में बन रहे 50 मीटर शूटिंग रेंज का निरीक्षण किया।

भोपाल ने कराते में जीते 9 पदक

जिला कराते एसोसिएशन द्वारा पचमढ़ी में आयोजित 8वीं रेन्शी कप राष्ट्रीय स्तर कराते प्रतियोगिता में भोपाल के खिलाडिय़ों ने मप्र का प्रतिनिधित्व करते हुए 5 स्वर्ण, 3 रजत और 1 कांस्य पदक हासिल किया है। इसमें बालक अंडर-8 में मिहिर दीघे ने काता और कुमिते एक-एक स्वर्ण पदक जीता। अंडर-9 में रक्षित टंडन ने भी काता और कुमिते में दो स्वर्ण पदक जीते। अंडर-10 में आदुइत सुरादकर ने काता में एक स्वर्ण और कुमिते में एक कांस्य पदक जीता। अंडर-13 में आर्यन त्रिपाठी ने कुमिते में एक स्वर्ण और काता में एक कांस्य पदक प्राप्त किया। अंडर-12 में टीम काता में मिहिर दीघे, रक्षित और आदुइत सुरादकर ने रजत पदक
हासिल किया।

Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned