चलती ट्रेन में चढऩे की कोशिश में महिला, 2 पुरुष फिसले, आरक्षक ने बचाईं 3 जिंदगी

चलती ट्रेन में चढऩे की कोशिश में महिला, 2 पुरुष फिसले, आरक्षक ने बचाईं 3 जिंदगी

KRISHNAKANT SHUKLA | Publish: May, 18 2019 09:46:41 AM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

तीन जिंदगियां बचाने के लिए आला अधिकारियों ने आरक्षक अंगद सिंह ठाकुर की प्रशंसा की है।

भोपाल. मुख्य रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म एक पर शुक्रवार को चलती ट्रेन में चढऩे का प्रयास कर रहे एक महिला और दो पुरुष 10 से 15 फीट तक घिसटते चले गए। ड्यूटी पर तैनात प्रधान आरक्षक अंगद सिंह ठाकुर ने देखा तो तत्काल इन्हें खींचकर ट्रेन की जद से बाहर निकाला।

तीन जिंदगियां बचाने के लिए आला अधिकारियों ने आरक्षक की प्रशंसा की है। घटना से तीनों इस कदर सहम गए थे कि 20 मिनट तक तो कुछ बोल ही नहीं पाए। दरअसल, शुक्रवार सुबह कामायनी एक्सप्रेस 7.54 बजे प्लेटफॉर्म पर आई थी। 8 बजे चलती ट्रेन में एक महिला व दो पुरुष यात्रियों का चढ़ते समय पैर फिसल गया और वे ट्रेन के साथ घिसटने लगे।

ड्यूटी पर तैनात प्रधान आरक्षक अंगद सिह ठाकुर ने तीनों को सुरक्षित निकाला। महिला बनारस से मुंबई जा रही थी। उसके साथ भाई आर मिश्रा भी था। ये महिला भाई के साथ प्लेटफॉर्म पर ट्रेन से उतरी थी, ट्रेन चलने लगी तब उन्हें पता चला।

सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई घटना

तीन मिनट के अंदर हुआ घटनाक्रम सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया। ठाकुर ने पहले पुरुष को पकडकऱ खींचा, उसके बाद महिला और तीसरे पुरुष को ट्रेन की चपेट से बाहर निकाला है। इससे पहले भी एक आरक्षक ने एक यात्री की जान बचाई है।

इधर, स्लीपर कोच में एक साल की बच्ची को लगी लू, 3 घंटे बाद भोपाल में मिला इलाज

भोपाल रेलवे स्टेशन पर उद्योगग्राम एक्सप्रेस में कानपुर सेंट्रल से उधाना जा रही महिला की एक साल की बच्ची को लू लग गई। कानपुर निवासी अनीता श्रीवास्तव ने भाई को फोन कर मदद मांगी। भाई ने तत्काल डीआरएम भोपाल को ट्वीट कर डॉक्टर उपलब्ध कराने की मांग की।

शुक्रवार शाम तीन घंटे बाद पौने सात बजे ट्रेन भोपाल पहुंची तो कोच एस-8 के बाहर डॉक्टर खड़ा मिला। एक साल की बच्ची को तेज बुखार था। डॉक्टर ने महिला को सलाह दी कि वो बच्ची को इलाज के लिए भोपाल में एडमिट कराए, लेकिन महिला ने असमर्थता जताते हुए यात्रा जारी रखी। डॉक्टर ने महिला को ओआरएस का घोल और कुछ दवाएं दीं, ताकि ज्यादा परेशानी होने पर वे उसे दवा घोलकर पिला सकें।

20 में ही बेचेंगे फ्रूटी

सोमनाथ एक्स के यात्री आशुतोष उपाध्याय ने भोपाल स्टेशन पर मनमाने दामों को लेकर डीआरएम को ट्वीट किया। इसमें कहा गया कि शुक्रवार शाम सात बजे प्लेटफॉर्म तीन पर तिरुपति एसोसिएट्स के यहां फ्रूटी 15 की बजाए 20 रु. में दी। कहा- लेना हो तो लो हम तो इतने में ही देंगे।

ट्रेनों में पानी नहीं

दिल्ली से आने वाली ट्रेनों में आगरा और झांसी में पानी भरा जाता है। कुछ ट्रेनों में बीना में भी पानी भरते हैं। इन दिनों पानी नहीं भरने की शिकायतें आम हैं। शुक्रवार को 11038 गोरखपुर-पुणे एक्स. के यात्री पानी के लिए परेशान हुए। भोपाल पहुंचने पर पानी भरा गया।

महिला यात्री की मांग पर डॉक्टर उपलब्ध कराया था। जहां तक सवाल स्टेशन पर पानी की कमी को लेकर है तो झांसी की तरफ से आने वाली गाडिय़ों में यहीं पानी भरा जाता है।
- आइए सिद्दीकी, जनसंपर्क अधिकारी, भोपाल मंडल

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned