प्रभात झा के गॉडगिफ्ट वाले बयान पर सिंधिया का पलटवार, कहा दोहरे चरित्र वाले हैं ये लोग

rishi upadhyay

Publish: Jan, 13 2018 04:18:26 (IST)

Bhopal, Madhya Pradesh, India
प्रभात झा के गॉडगिफ्ट वाले बयान पर सिंधिया का पलटवार, कहा दोहरे चरित्र वाले हैं ये लोग

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने एक बार फिर से मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान और भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा पर निशाना साधा है

अशोकनगर। सांसद और पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने एक बार फिर से मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान और भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा पर निशाना साधा है। अशोकनगर में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने सीएम शिवराज सिंह पर मंत्रालय में काम काज ठप करने का आरोप लगाया तो वहीं प्रभात झा के मुंगावली और कोलारस विधानसभा उपचुनावों को लेकर दिए गए हालिया बयान कि निंदा की। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी सिर्फ घोषणाएं करती है, लेकिन काम करना भूल जाती है।

 

 

पत्रकारों से बातचीत करते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि मध्यप्रदेश में मुंगावली और कोलारस में होने वाले उपचुनाव घोषित हो चुके हैं। बीते दो महीनों से भाजपा की बैठकें मुंगावली कोलारस मे हो रही हैं। भारतीय जनता पार्टी के चुनाव प्रचार के लिए सरकार इतनी मगन हो गई है कि भोपाल में मंत्रालय में कोई भी काम नहीं हो रहा है। बजाए मंत्रालय में काम करने के सीएम मुंगावली और कोलारस में घोषणाएं हो रही हैं। वहीं सीएम पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि शिवपुरी मे 10 साल पहले हुए उपचुनाव मे 185 घोषणाएं की गईं थीं, लेकिन सिर्फ 2 ही पूरी हुई हैं। अटेर में हुए उपचुनाव के दौरान की गईं घोषणाएं भी वैसे ही पड़ी हैं।

 

यह भी पढ़ें - कांग्रेस विधायकों की मौत पर BJP के राष्ट्रीय नेता का विवादास्पद बयान, पढ़िये ये क्या बोल गए!

 

गॉडगिफ्ट वाले बयान ने दिखाया दोहरा चरित्र
ज्योतिरादित्य सिर्फ यहीं नहीं रुके। उनके निशाने पर भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा भी थे। ज्योतिरादित्य ने कहा कि प्रभात झा के मुंगावली और कोलारस चुनाव को गॉडगिफ्ट कहे जाने वाले बयान की निंदा की जानी चाहिए। एक तरफ जहां महेन्द्रसिंह कालूखेड़ा जैसी हस्तियों ने 40-40 साल तक प्रदेश की जनता की सेवा में गुजार दिए, उन्हें पुष्प अर्पित करने के लिए तो भारतीय जनता पार्टी के लोग जाते हैं। वहीं जो लोग इस दुनिया में नहीं हैं, उन्हें नीचा दिखाने की कोशिश करते हैं।

 

ज्योतिरादित्य ने कहा कि ये भारतीय जनता पार्टी की दोहरी सोच है। उन्होंने कहा कि इस बयान से सिर्फ महेंद्रसिंह कालूखेड़ा या रामसिंह जी के परिवारों में ही नहीं क्षेत्र भर के लोगों में आक्रोश है। सिंधिया ने आगे कहा कि ये भारतीय जनता पार्टी की ही सोच है कि व्यक्तिगत आरोप लगाओ, लोगों को खरीदो, अनर्गल आरोप लगाओ।

 

राघौगढ़ विवाद पर उन्होंने कहा कि राजनीति में हर दल के लिए जगह होनी चाहिए, लेकिन भाजपा की सोच है कि हर विरोधी दल को कुचल दिया जाए। मीडिया को दबाने की कोशिश की जाती है, यहां तक कि अगर कोई विरोध में लिखता है तो उसे धमकियां दी जाती हैं, उनके साथ घुसपैठ कर मारपीट की जाती है। उन्होंने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि जिन लोगों ने राघौगढ़ में उपद्रव किया है उनकी वे कड़ी निंदा करते हैं। हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि वे जयवर्धन के साथ हैं। वहीं एएसआई सतीश रघुवंशी की आत्महत्या मामले पर उन्होंने कहा कि वह उनके परिजनों से मिले थे। उन्होंने आत्महत्या नहीं की बल्कि उनकी हत्या की गई है। सिंधिया ने कहा कि उनकी तबियत खराब थी और घर में बेटी की शादी थी, लेकिन फिर भी उनका ट्रांसफर कर दिया गया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned