इन 7 सीटों पर पुरुष उम्मीदवारों की महिला कैडिंडेट से टक्कर, 29 में से सिर्फ एक सीट पर भिड़ेंगी दो महिलाएं

इन 7 सीटों पर पुरुष उम्मीदवारों की महिला कैडिंडेट से टक्कर, 29 में से सिर्फ एक सीट पर भिड़ेंगी दो महिलाएं

Pawan Tiwari | Publish: Apr, 24 2019 01:20:02 PM (IST) | Updated: Apr, 24 2019 01:20:03 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

इन 7 सीटों पर पुरुष उम्मीदवारों की महिला कैडिंडेट से टक्कर, 29 में से सिर्फ एक सीट पर भिड़ेंगी दो महिलाएं

भोपाल. मध्यप्रदेश में लोकसभा की 29 सीटें हैं। इन 29 सीटों के लिए भाजपा-कांग्रेस ने अपने सभी उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी है। इस लिस्ट में जातिगत समीकरण को भी ध्यान में रखा गया है। महिलाओं के सुरक्षा और सशक्तिकरण की बात करने वाली दोनों ही पार्टियों ने मध्यप्रदेश में महिलाओं को टिकट देने में कंजूसी बरती है। वहीं, जातिगत आंकड़ों की बात करें तो भाजपा ने चार ब्राह्मणों को टिकट दिया है तो वहीं, कांग्रेस ने केवल दो ब्राह्मणों को मैदान में उतारा है। वहीं, महिलाओं को टिकट देने के मामले में भाजपा कांग्रेस से आगे है। भाजपा ने चार महिलाओं को मैदान में उतारा है तो कांग्रेस ने पांच महिलाओं को टिकट दिया है।


एक सीट पर दो महिलाओं के बीच मुकाबला
मध्यप्रदेश की 29 लोकसभा सीटों में केवल शहडोल संसदीय सीट ही ऐसी है जहां दोनों ही पार्टियों ने महिलाओं को मैदान में उतारा है। शहडोल से भाजपा ने हिमाद्री सिंह को मैदान में उतारा है तो कांग्रेस ने प्रमिला सिंह को टिकट दिया है। मप्र में चार चरणों में लोकसभा चुनाव हैं और अभी नामांकन की प्रक्रिया जारी है। इस कारण से अभी यह नहीं कहा जा सकता है कि 29 लोकसभा सीटों पर कुल कितनी महिलाएं प्रत्याशी बनती हैं। मध्यप्रदेश में कुल कितनी महिलाएं चुनाव लड़ रही हैं इसका डेटा अभी उपलब्ध नहीं है।

 

किस पार्टी ने किस महिला को कहां से दिया टिकट

भाजपा- भिंड से संध्या राय, शहडोल से हिमाद्री सिंह, सीधी से रीति पाठक और भोपाल संसदीय सीट से साध्वी प्रज्ञा ठाकुर। साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के उम्मीदवार बनने के कारण भोपाल लोकसभा सीट देश की हाइ प्रोफाइल सीटों में शामिल हो गई है।

कांग्रेस- टीकमगढ़ से किरण अहिरवार, खजुराहो से कविता सिंह, शहडोल से प्रमिला सिंह, मंदसौर से मिनाक्षा नटराजन और राजगढ़ संसदीय सीट से मोना सुस्तानी को उम्मीदवार बनाया गया है।

2014 में कितनी महिलाएं पहुंची थी संसद
2014 के लोकसभा चुनाव में मध्यप्रदेश में 37 महिलाएं चुनाव मैदान में थीं। जिसमें से केवल पांच महिलाओं को जीत मिली थी और वो संसद पहुंचीं थी। इंदौर से सुमित्रा महाजन, धार से सावित्री ठाकुर, बैतूल से ज्योति धुर्वे, विदिशा संसदीय सीट से सुषमा स्वराज और सीधी से रीति पाठक जीत पाईं थी।

 


भाजपा ने इस बार चार मौजूदा महिला सांसदों के नहीं दिया मौका
भाजपा ने इस बार केवल चार महिलाओं को मैदान में उतारा है जबकि 2014 के लोकसभा में भाजपा ने पांच महिलाओं को टिकट दिया था। भाजपा ने 2014 में इंदौर से सुमित्रा महाजन को, विदिशा से सुषमा स्वराज, धार से सवित्री ठाकुर, बैतूल से ज्योति धुर्वे को इस बार टिकट नहीं दिया है। भाजपा ने केवल रीति पाठक को फिर से टिकट दिया है।

इन सीटों पर पुरुष उम्मीदवारों का महिलाओं से मुकाबला

संसदीय सीट भाजपा प्रत्याशी कांग्रेस प्रत्याशी
भिंड संध्या राय (महिला उम्मीदवार) देवाशीष जारारिया
सीधी रीति पाठक (महिला उम्मीदवार) अजय सिंह
भोपाल साध्वी प्रज्ञा ठाकुर (महिला उम्मीदवार) दिग्विजय सिंह
खजुराहो बीडी शर्मा कविता सिंह (महिला उम्मीदवार)
मंदसौर सुधीर गुप्ता मीनाक्षी नटराजन (महिला उम्मीदवार)
राजगढ़ रोडमल नागर मोना सुस्तानी (महिला उम्मीदवार)
टीकमगढ़ वीरेन्द्र कुमार खटीक किरण अहिरवार (महिला उम्मीदवार)

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned