मायके में महालक्ष्मी का आगमन, दमक उठा हर आंगन

मायके में महालक्ष्मी का आगमन, दमक उठा हर आंगन

dinesh Binole | Publish: Sep, 16 2018 08:30:01 AM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

आकर्षक झांकियां सजाईं, आज लगेगा महाभोग

भोपाल. महाराष्ट्रीयन समाज का ढाई दिवसीय महालक्ष्मी उत्सव शनिवार से शुरू हो गया। राजधानी में निवासरत महाराष्ट्रीयन परिवारों में ज्येष्ठा और कनिष्ठा स्वरूप में महालक्ष्मी की स्थापना की गई और आकर्षक झांकी सजाई गई। साथ ही विशेष पूजा अर्चना, भजन-कीर्तन सहित धार्मिक आयोजन हुए। रविवार को महालक्ष्मी को महाभोग लगाया जाएगा।

परंपरा अनुसार ढाई दिन के लिए महालक्ष्मी नामक दो बहनें अपने बच्चों के साथ मायके पहुंचती हैं। सप्तमी और अनुराधा नक्षत्र में उनकी स्थापना की जाती है, और नवमी पर उनकी विदाई होती है। ढाई दिनों तक मराठी परिवारों में हर्षोल्लास के साथ उनकी पूजा अर्चना की जाती है और सुख, समृद्धि की कामना की जाती है। शहर में अनेक परिवारों में महालक्ष्मी की स्थापना की गइ और विशेष धार्मिक अनुष्ठान आयोजित किए गए।

आज आंबिल का भोग 

रविवार को महालक्ष्मी को विशेष प्रसाद आंबिल सहित विभिन्न पकवानों का भोग लगाया जाएगा। आंबिल ज्वार को दरदरा पीसकर और छाछ से तैयार की जाती है। इसे विशेष प्रसाद माना गया है। इसी प्रकार पूरणपोली, 16 प्रकार की सब्जियां सहित विभिन्न पकवानों का भी भोग महालक्ष्मी को लगाया जाता है और प्रसाद वितरित किया जाता है।

कई पीढिय़ों तक चलती है एक ही प्रतिमा
महालक्ष्मी की स्थापना और पूजा अर्चना के बाद प्रतिमा का विसर्जन नहीं किया जाता, बल्कि एक ही प्रतिमा कई पीढिय़ों तक चलती है। प्रतिमा के मुखौटे अलग से रहते हैं, जब स्थापना की जाती है, तो मुखौटे निकाले जाते हैं, और लोहे की पायली (ढांचे ) पर कपड़े से बने हाथ लगाकर, साड़ी पहनाकर उनका शृंगार किया जाता है। इस तरह ढाई दिन तक पूजा अर्चना करने के बाद विदाई के दौरान फिर से मुखौटे निकालकर सुरक्षित संदूक में रख दिए जाते हैं।

श्वेताम्बर सकल जैन समाज की सामूहिक क्षमापना आज
जैन श्वेताम्बर सकल समिति की ओर से सामूहिक क्षमापना कार्यक्रम रविवार को बीएसएसएस कॉलेज डीआरएम कार्यालय के पास आयोजित किया जाएगा। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में लोक सभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन शामिल होगी। कार्यक्रम सुबह 9 बजे नवकारसी से शुरू होगा। इसके बाद 10:15 बजे भाव यात्रा निकाली जाएगी। शंखेश्वर तीर्थ से आए अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त दिलीप भाई और मेहल भाई द्वारा भजनों की प्रस्तुति दी जाएगी। दोपहर 12 बजे मुख्य अतिथि सुमित्रा महाजन मेले का उद्घाटन करेंगी। कार्यक्रम के दौरान समृद्धि मेला, तपस्वियों का सम्मान, तीर्थ दर्शन पत्रिका का विमोचन, खेलकूद और अन्य कार्यक्रम होंगे। कार्यक्रम के बाद सधार्मिक वात्सल्य होगा।

Ad Block is Banned