गरीबों को मिलने वाली सस्ती दाल पर संकट, केंद्र ने नहीं दिया अनुदान

गरीबों की दाल पर केंद्र से अनुदान बंद

By: Amit Mishra

Published: 24 Sep 2019, 04:54 PM IST

भोपाल। प्रदेश के 1.18 करोड़ गरीबों की सस्ती दाल पर संकट गहरा गया है। दरअसल, केंद्र सरकार ने राज्यों को दाल पर अनुदान देना बंद कर दिया है। गरीबों को कम कीमत पर दाल देने के लिए अब राज्य सरकार अपने खजाने से अनुदान देने की तैयारी कर रही है। सरकार ने केंद्र की नेफेड संस्था से कहा है कि मध्यप्रदेश के लिए दाल खरीदी कर ले, वह पैसा देगी। हालांकि नेफेड ने एडवांस पैसा मांगा है।

 

15 रुपए का अनुदान अगस्त तक देती आई है
मामले की गंभीरता को देखते हुए खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति निगम के प्रबंध संचालक अभिजीत अग्रवाल नेफेड के अफसरों से चर्चा करने दिल्ली गए हैं। केंद्र सरकार प्रधानमंत्री आशा योजना के तहत गरीबों को सस्ती दाल देने के लिए प्रति किलो पर 15 रुपए का अनुदान अगस्त तक देती आई है।


प्रति माह लगती है 40 टन दाल
प्रदेश के गरीब परिवारों को बांटने के लिए 40792 टन दाल की जरूत पड़ती है। अभी तक गरीबों को मसूर और चने की दाल बांटी गई थी। एक किलो दाल की कीमत 27 रुपए है। अब उड़द और मूंग में दाल बाटने की तैयारी थी।


दाल वितरण से पहले नेफेड के पास आवंटन के आदेश आते हैं। साथ ही एडवांस में भुगतान किया जाता है। अभी तक दोनों चीजें नहीं मिली हैं।
अभिषक कुमार, ब्रांच मैनेजर, नेफेड मप्र


स्कीम के संबंध में भारत सरकार ने अभी स्पष्ट नहीं किया है। रा सरकार ने नेफेड को मार्च तक के लिए दाल एडवांस बुक करने के संबंध में आदेश दिए हैं। इस संबंध में राज्य की केंद्र से बात चल रही है।
अभिजीत अग्रवाल, एमडी, नान

प्याज के भाव अब आसमान छू रहे
दो से सात रुपए किलो तक थोक में बिकने वाली किसानों की प्याज के भाव अब आसमान छू रहे हैं। इससे आम आदमी (मध्यमवर्गीय) की पहुंच से प्याज लगातार दूर होती जा रही है। स्थानीय ब्यापारियों का कहना है कि एक बार फिर प्याज़ के दाम आसमान छू सकते है। अगर ब्यापारियों की माने तो इस बार त्योहारी सीज़न में 100 रुपये किलो तक प्याज़ के दाम पहुंच सकते है।

 

प्याज की शार्टेज के कारण भाव में बढ़ोतरी हुई
दरअसल, महाराष्ट्र (नासिक) में बोई गई प्याज गल जाने से भाव में तेजी आई है। अन्य प्रदेशों में भी प्याज का उत्पादन बेहद कम है, ऐसे में इसी कारण मध्य प्रदेश में भी प्याज के भाव आसमान छू रहे हैं। थोक मंडियों में वर्तमान में 35 से 45 रुपए किलो तक प्याज बिक रहा है। वहीं, खेरची में 50 से 60 रु. किलो। इसी माह अचनाक आई प्याज की शार्टेज के कारण भाव में बढ़ोतरी हुई है।

Show More
Amit Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned