सेंट्रल हॉल में पीएम ने की थी 'अनदेखी', साध्वी बोलीं- अवसर मिला तो मोदी जी से मिलूंगी

सेंट्रल हॉल में पीएम ने की थी 'अनदेखी', साध्वी बोलीं- अवसर मिला तो मोदी जी से मिलूंगी

Pawan Tiwari | Publish: Jun, 05 2019 02:04:06 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

जानिए, जब मोदी जी से मिलेंगी साध्वी तो क्या करेंगी बात

भोपाल. बीजेपी की नवनिर्वाचित सांसद साध्वी प्रज्ञा ने पार्टी को अनुशासन समिति को जवाब भेज दी है। विवादित बयानों की वजह से साध्वी प्रज्ञा अब मीडिया से दूर रहती हैं। सांसद बनने के बाद वह इक्के-दुक्के बार ही कैमरे के सामने आई हैं। मंगलवार को भी मीडिया से बात करते हुए वो बच-बचकर जवाब देती रहीं।

 

महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने के बाद साध्वी पार्टी के अंदर बैकफुट पर थीं। साध्वी प्रज्ञा के द्वारा माफी मांगने के बाद भी पार्टी के अनुशासन समिति ने उनसे जवाब मांगा था। साध्वी प्रज्ञा ने मंगलवार के कहा कि उन्होंने अनुशासन समिति को जवाब भेज दिया है। साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि मैं अब नियमों का पालन करूंगी।

इसे भी पढ़ें: साध्वी प्रज्ञा को देख मोदी ने फेरा मुंह, फिर आगे बढ़ने का किया इशारा!

sadhvi

 

10 दिन का मिला था वक्त
साध्वी प्रज्ञा ने जैसे ही नाथूराम गोडसे को लेकर बयान दिया वो विरोधियों के निशाने पर आ गईं। इतना ही नहीं साध्वी प्रज्ञा के बयान से भारतीय जनता पार्टी ने भी किनारा कर लिया। पार्टी ने साफ कर दिया कि ये उनका व्यक्तिगत बयान है, ये बीजेपी की विचारधारा नहीं है। उसके बाद अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि उनसे अनुशासन समिति ने जवाब मांगा है। अनुशासन समिति दस दिनों में इस पूरे मामले पर रिपोर्ट तैयार कर नेतृत्व को सौंपेगी। दस दिनों की मियाद अब पूरी हो गई है। बीजेपी की तरफ से अनुशासन समिति की रिपोर्ट पर कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

 

मैं दिल से माफ नहीं करूंगा

पीएम मोदी साध्वी प्रज्ञा के इस बयान के बाद एक इंटरव्यू में कहा कि इस तरह की बात भयंकर खराब है। साध्वी प्रज्ञा ने भले ही इस मुद्दे पर माफी मांग ली हों पर मैं कभी उन्हें दिल से माफ नहीं करूंगा। इसके बाद साध्वी और अलग-थलग पड़ गईं।

इसे भी पढ़ें: अल्टीमेटम के 10 दिन हुए पूरे, साध्वी पर होगी कार्रवाई या मिलेगी माफी?

sadhvi

 

सेंट्रल हॉल में की अनदेखी
चुनाव नतीजे के बाद संसद के सेंट्रल हॉल में एनडीए सांसदों की बैठक में साध्वी प्रज्ञा भी पहुंचीं। वहां प्रधानमंत्री मोदी से सभी सांसद एक-एक कर मिल रहे थे। पीएम सबका अभिवादन कर रहे थे। साध्वी जब उनके सामने हाथ जोड़े पहुंची तो उन्होंने मुंह फेर लिया और आगे बढ़ने का इशारा किया। फिर साध्वी प्रज्ञा हाथ जोड़े हुए आगे बढ़ गईं।

इसे भी पढ़ें: सांसद के तौर पर मिलने वाली सैलरी को खुद के लिए नहीं खर्च करेंगी साध्वी प्रज्ञा, भिक्षा से ही करेंगी जीवनयापन

 

अवसर मिला तो मोदी जी से मिलूंगी
साध्वी प्रज्ञा से जब पूछा गया कि आप अमित शाह और मोदी जी से मिल अपनी बात रखी हैं क्या। साध्वी ने सिर हिलाते हुए न में दिया जवाब। फिर उन्होंने कहा कि पार्टी का अपना एक अनुशासन होता है, उसके अंतर्गत रहकर मैं काम करूंगी। साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि अवसर मिला तो मैं मोदी जी से मिलूंगी। उनसे भोपाल की समस्याओं के बारे में बात करूंगा।

इसे भी पढ़ें: जानिए, संसद में कहां बैठेंगी भोपाल की सांसद साध्वी प्रज्ञा

sadhvi

 

हेमंत करकरे को लेकर भी दिया था बयान
साध्वी प्रज्ञा मालेगांव ब्लास्ट की आरोपी हैं। साध्वी ने मुंबई हमले के दौरान शहीद हेमंत करकरे के बारे में कहा था कि उनकी मौत हमारे श्राप की वजह से हुई है। इस बयान पर भी विवाद बढ़ा तो वह माफी मांग लीं। साध्वी कांग्रेस के उम्मीदवार दिग्विजय सिंह को हराकर सांसद बनीं हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned