scriptSerious disease taken for just 200 rupees | महज 200 रुपए के लिए ले लिया गंभीर रोग, जब तड़पने लगे तब सामने आया सच | Patrika News

महज 200 रुपए के लिए ले लिया गंभीर रोग, जब तड़पने लगे तब सामने आया सच

बीपी, शुगर, टीबी, आंखों की बीमारी सहित कई गंभीर बीमारियों के मरीज पहुंचे, करीब दो घंटे तक कार्यक्रम में बैठे रहने के बाद जब वे भूख-प्यास से तड़पने लगे तब जाकर सच्चाई सामने आई.

भोपाल

Published: February 26, 2022 09:42:54 am

भोपाल. राजधानी भोपाल में महज 200 रुपए के लिए गंभीर बीमारियां लेने का एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है, एक निजी मेडिकल कॉलेज द्वारा आयोजित कार्यक्रम में बीपी, शुगर, टीबी, आंखों की बीमारी सहित कई गंभीर बीमारियों के मरीज पहुंचे, करीब दो घंटे तक कार्यक्रम में बैठे रहने के बाद जब वे भूख-प्यास से तड़पने लगे तब जाकर सच्चाई सामने आई, जिसने हर किसी को हैरान कर दिया।

महज 200 रुपए के लिए ले लिया गंभीर रोग, जब तड़पने लगे तब सामने आया सच
महज 200 रुपए के लिए ले लिया गंभीर रोग, जब तड़पने लगे तब सामने आया सच

दरअसल, गांधीनगर भोपाल स्थित एक निजी मेडिकल कॉलेज द्वारा कुछ मजदूरों को 200-200 रुपए देकर दो घंटे के लिए मरीज बना दिया था, उन्हें बसों में भरकर अस्पताल तक लेकर आए और इसके बाद उनके हाथ में कई गंभीर बीमारियों जैसे-टीबी, आंखों की कमजोरी, बीपी, शुगर, कैंसर, हार्ट आदि के पर्चे थमा दिए। दो घंटे तक तो मरीज बने मजदूर चुपचाप बैठे रहे, लेकिन जब दो घंटे से अधिक समय बीत गया और उन्होंने पैसे मांगे तो यह कहकर टाल गया कि चार दिन बाद एक और टीम आएगी, उसके बाद पैसे देंगे, ऐसे में सुबह से आए मजदूर भूख-प्यास से तड़पने लगे और पैसा नहीं मिलने पर उन्होंने हंगामा कर दिया, तब जाकर ये मामला सामने आया।

मामले की जानकारी मिलने के बाद गौंडवाना छात्र संगठन के पदाधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर धरना प्रदर्शन किया। वहां मौजूद सामाजिक कार्यकर्ता देव रावण ने बताया कि आनंद नगर और अयोध्या नगर क्षेत्र के कई मजदूरों को 200-200 रुपए देकर एक घंटे के कार्यक्रम में सिर्फ बैठने का बोलकर बसों में भरकर लाया गया था, यहां ये मजदूर सुबह 9 से 12 बजे तक बैठे रहे, लेकिन इसके बाद भी पैसे देने से इंकार कर रहे हैं, जबकि ये मजदूर सुबह से भूखे-प्यासे आए हैं। कई घंटों तक बहस और हंगामें के बाद मजदूरों को पैसे दिए गए, इसके बाद मामला शांत हुआ।

पुलिस तक पहुंचा मामला
धरने पर बैठे लोगों ने डायल 100 को सूचना देकर गांधीनगर थाने रिपोर्ट दर्ज कराने पहुंच गए, जहां पहले पुलिसवालों ने मेडिकल कॉलेज वालों को बुलाया तब जाकर उन्होंने मजदूरों को पैसे देने की हां करी, पुलिस की मौजूदगी में करीब 55 मजदूरों को कुल 34 हजार रुपए दिलाए गए।

यह भी पढ़ें : 31 मार्च तक एमपी में छुट्टी के दिन भी खुले रहेंगे ये सरकारी ऑफिस

parcha.jpg

200 रुपए के लिए गंभीर बीमारी
इस मामले में हैरान कर देने वाले बात ये सामने आई कि मेडिकल कॉलेज ने अपनी वाहवाही के लिए नौ जवान मजदूरों को गंभीर बीमारियां बता दी, उनके नाम के पर्चे बनाकर उनके हाथों में थमा दिया, चूंकि मजदूर तो दो वक्त की रोटी के लिए चले आए, लेकिन मेडिकल कॉलेज को अपने यहां निरीक्षण के दौरान मरीज दिखाने के लिए ऐसा काम करना शोभा नहीं देता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Veer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनName Astrology: इन नाम वाले लोगों के जीवन में अचानक से धनवान बनने का होता है योगफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटबुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामबेहद शार्प माइंड होते हैं इन 4 राशियों के लोग, बुध और शनि देव की रहती है इन पर कृपाज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

जम्मू कश्मीरः बारामूला में जैश-ए-मोहम्मद के तीन पाकिस्तानी आतंकी ढेर, एक पुलिसकर्मी शहीदDelhi News Live Updates: दिल्ली के वसंत कुंज इलाके में मिली महिला की सड़ी हुई लाश, जांच में जुटी पुलिससुप्रीम कोर्ट में पूजा स्थल कानून के खिलाफ दायर की गई याचिका, संवैधानिक वैधता को चुनौतीTexas Shooting: अमरीकी राष्ट्रपति ने टेक्सास फायरिंग की घटना को बताया नरसंहार, बोले- दर्द को एक्शन में बदलने का वक्तजातीय जनगणना सहित कई मुद्दों को लेकर आज भारत बंद, जानिए कहां रहेगा इसका ज्यादा असरमहंगाई से जंग: रिकॉर्ड निर्यात से घबराई सरकार, गेहूं के बाद अब 1 जून से चीनी निर्यात भी प्रतिबंधितआंध्र प्रदेश में जिले का नाम बदलने पर हिंसा, मंत्री का घर जलाया, कई घायलरिलीज से पहले 1 जून को गृहमंत्री अमित शाह देखेंगे अक्षय कुमार की 'पृथ्वीराज', जानिए किस वजह से रखी जा रहीं स्पेशल स्क्रीनिंग
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.