विवाह मुहूर्त: इस बार 19 नवंबर से शुभ मुहूर्त, गर्डन-डीजे-कुक सभी हो गए बुक

Deepesh Tiwari

Publish: Nov, 14 2017 01:29:04 (IST)

Bhopal, Madhya Pradesh, India
विवाह मुहूर्त: इस बार 19 नवंबर से शुभ मुहूर्त, गर्डन-डीजे-कुक सभी हो गए बुक

19 नवम्बर से 12 दिसम्बर तक यानि 24 दिन में विवाह के एक दर्जन से अधिक मुहूर्त है।

भोपाल। चार माह के विराम के बाद विवाह मुहूर्तों की शुरुआत 19 नवम्बर से हो जाएगी। शहर के शादी हॉल, मैरिज गार्डन गुलजार होंगे और गली-गली बैंड और शहनाई की गूंज सुनाई देगी। शादियों के लिए शहर के अधिकांश शादी हॉल, बैंड, घोड़ी, टेंट, कैटर्स, पंडित सहित जरूरी सामग्रियों की बुकिंग हो गई है। 19 नवम्बर से 12 दिसम्बर तक यानि 24 दिन में विवाह के एक दर्जन से अधिक मुहूर्त है। इसके बाद विवाह कार्य अगले साल फरवरी से ही शुरू होंगे।

आमतौर पर देवउठनी एकादशी के साथ विवाह कार्यों की शुरुआत हो जाती है, लेकिन इस दौरान गुरु अस्त थे, जो नौ नवम्बर को उदित हुए, इसलिए विवाह कार्य 19 नवम्बर से शुरू हो रहे हैं। विवाह कार्य 12 दिसम्बर तक जारी रहेंगे। इस दौरान नवम्बर और दिसम्बर में जमकर शादियां होंगी।

नवम्बर-दिसम्बर की अच्छी बुकिंग
लाला शादी हॉल के संचालक महेंद्र यादव लाला ने बताया कि नवम्बर और दिसम्बर की बुकिंग है। कुछ तारीखों की बुकिंग ज्यादा आ रही थी। जिसमें 19, 23 और 4 दिसंबर हैं। इन तारीखों पर बुकिंग के लिए अब भी काफी लोग पूछने आ रहे हैं। नवम्बर और दिसम्बर माह की एक दो तारीखों पर ही हमारे पास बुकिंग खाली बची हुई है, शेष तारीखे बुक है। इसके बाद फरवरी के मुहूर्तों के बारे में भी लोग पूछताछ करने के लिए आ रहे हैं।

23 तारीख की सबसे ज्यादा बुकिंग
बैंडबाजा, घोड़ी, बग्गी आदि के लिए भी काफी दिन पहले बुकिंग का सिलसिला शुरू हो गया है। कब्बू भाई घोड़ी, बग्गी वालों ने बताया कि कुछ तारीखों पर अच्छी बुकिंग हुई है। 23 तारीख की हमारे पास सबसे अधिक घोड़ी बग्गी की 22 बुकिंग हैं। इसी तरह अन्य तारीखों पर भी बुकिंग है, लेकिन थोड़ी कम है। इसी तरह बैंड आदि के लिए भी कई तारीखे बुक हो गई हैं। लोग अब भी बुकिंग के लिए आ रहे हैं, अधिकतर तारीखें आपस में टकराने से मना करना पड़ता है।

नवम्बर माह के विवाह मुहूर्त -
19, 20, 22, 23, 24, 29 व 30
दिसंबर माह के विवाह मुहूर्त -
3, 4, 5, 8, 9, 10, 11, 12

फिर लगेगा विराम, 6 फरवरी के बाद होंगी शादियां
14 दिसम्बर के बाद विवाह कार्यों पर एक बार फिर विराम लग जाएगा। ज्योतिषाचार्य पं. प्रहलाद पंड्या ने बताया कि नवम्बर, दिसम्बर में काफी शादियां होंगी, लेकिन 14 दिसम्बर को शुक्र अस्त हो जाएगा। इस कारण शादियां नहीं होंगी, वैसे भी 16 दिसम्बर से 14 जनवरी तक सूर्य के धनु राशि में रहने के कारण विवाह कार्य नहीं होते हैं, 14 जनवरी को मकर संक्रांति अर्थात सूर्य के मकर राशि में पहुंचने के साथ विवाह कार्य शुरू होते हैं, लेकिन इस दौरान भी शुक्र अस्त रहेगा, शुक्र का उदय तीन फरवरी 2018 को होगा। इसलिए कुछ दिन विश्राम के बाद फिर विवाह कार्य छह फरवरी से शुरू हो जाएंगे।

 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned