वाहनों के काफिले के साथ निकली शोभायात्रा, स्वागत में पुष्पों की वर्षा

KRISHNAKANT SHUKLA

Publish: Apr, 17 2018 10:08:38 AM (IST)

Bhopal, Madhya Pradesh, India
वाहनों के काफिले के साथ निकली शोभायात्रा, स्वागत में पुष्पों की वर्षा

भेल दशहरा मैदान से निकली शोभायात्रा, जगह-जगह हुई पुष्प वर्षा

भोपाल. कोई खुली जिप्सी में सवार था, कोई ई-रिक्शे में, तो कोई बाइक पर। वाहनों पर बैठे लोग हाथों में भगवा ध्वज लहरा रहे थे। सड़क पर दूर तक भगवा ध्वज के बीच वाहनों का काफिला नजर आ रहा था। कहीं पुष्पवर्षा, तो कही आतिशबाजी की जा रही थी। जगह-जगह लोग खुशी का इजहार कर रहे थे। यह नजारा था अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज की ओर से परशुराम जयंती के उपलक्ष्य में निकाली गई वाहन रैली शोभयात्रा का। इसमें बड़ी संख्या में ब्राह्मण समाज के लोगों ने भागीदारी निभाई।

शोभायात्रा में फूलों से सजा भगवान परशुराम का रथ विशेष आकर्षण का केंद्र था। इसके साथ डेढ़ हजार से अधिक दोपहिया, चार पहिया वाहनों का काफिला था। ऊंट, घोड़े, बग्गियां आदि भी शोभायात्रा में शामिल रहीं। शोभायात्रा का शुभारंभ भेल स्थित दशहरा मैदान से हुआ। शोभायात्रा रात्रि में शिवाजी नगर स्थित परशुराम मंदिर पहुंची। पुष्पवर्षा और आतिशबाजी की गई। इस शोभायात्रा में बड़ी संख्या में समाज के युवा भी शामिल थे।

 

आरक्षण को लेकर हुआ हंगामा, सीएम कार्यक्रम छोड़कर निकले
कार्यक्रम में मुख्यमंत्री के भाषण के दौरान कुछ युवाओं ने हंगामा खड़ा कर दिया। कुछ लोग आरक्षण समाप्त करने को लेकर नारे लगाने लगे। एक युवा आरक्षण समाप्त करने का पोस्टर लेकर मंच की तरफ जाने लगा। हंगामा होते देख मुख्यमंत्री कार्यक्रम छोड़ वहां से निकल गए। मंच की ओर बढ़ रहे युवाओं को समाज के पदाधिकारियों ने रोका। लोग इस बात से नाराज थे कि आरक्षण को लेकर सीएम ने कोई बात नहीं की। आरक्षण समाप्त करने को लेकर उग्र हो रहे युवा वर्ग को संघ के पदाधिकारियों ने समझाइश देकर शांत कराया। प्रदर्शन कर रहे लोगों का का कहना था कि जातिगत आरक्षण को खत्म किया जाए और आर्थिक आधार पर आरक्षण लागू किया जाए।

जानापाव को तीर्थदर्शन योजना में करेंगे शामिल
भोपाल. भगवान परशुराम की जन्मस्थली इंदौर जिले के जानापाव को तीर्थ दर्शन योजना में शामिल किया जाएगा, ताकि ब्राह्मण समाज के श्रद्धालु इसका लाभ ले सकें। जानापाव के विकास के लिए आगे भी हर संभव प्रयास किए जाएंगे। भगवान परशुराम के जीवन के कुछ अंश पाठ्यपुस्तक में शामिल किए जाएंगे, ताकि आने वाली पीढ़ी उनसे प्रेरणा ले सके। यह बात मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार रात शिवाजी नगर स्थित परशुराम मंदिर में आयोजित ब्राह्मण सभा को संबोधित करते हुए कही। सीएम ने कहा, ब्रह्म समाज के लिए जमीन आवंटित की जाएगी, उसके नोडल अफसर महापौर आलोक शर्मा होंगे। कार्यक्रम में महापौर आलोक शर्मा, नारायण त्रिपाठी, पीसी शर्मा, रमेश शर्मा सहित बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे। उन्होंने कहा कि भगवान परशुराम ने शोषण, उत्पीडऩ के खिलाफ फरसा उठाया था। ब्राह्मण समाज ने सदैव ही समाजों का नेतृत्व किया है, सर्वे भवंतु सुखिन: की उद्घोषणा भी ब्राह्मण समाज ने ही की है। समाज के उत्थान के लिए सरकार हर संभव मदद करेगी। उन्होंने कहा कि कुछ कारणों से ट्रस्ट के नाम पर जमीन देने पर न्यायालय ने रोक लगा दी थी, उसके लिए सरकार ने प्रयास किए हैं और एक प्रक्रिया बनाई है। उसी प्रक्रिया का पालन करते हुए ब्रह्म समाज के लिए जमीन आवंटित की जाएगी, उसके नोडल अफसर महापौर आलोक शर्मा होंगे। ब्राह्मण कल्याण आयोग पर मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज के लोगों के साथ बैठकर विचार विमर्श किया जाएगा।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

1
Ad Block is Banned