शर्मनाक! मुझे बचाओ, मुझे बचाओ...चिल्लाती रही महिला, तीन गुंडे उस पर लाठी बरसाते रहे, खड़े लोगों ने नहीं की मदद

शर्मनाक! मुझे बचाओ, मुझे बचाओ...चिल्लाती रही महिला, तीन गुंडे उस पर लाठी बरसाते रहे, खड़े लोगों ने नहीं की मदद

Pawan Tiwari | Updated: 18 May 2019, 03:08:10 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

तीन गुंडों ने सरेआम महिला को बीच सड़क पर पीटा, लोग खड़े होकर बने रहे तमाशबीन

भोपाल. मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है। वायरल वीडियो में तीन गुंडे महिला के साथ बर्बरता की हद पार कर रहे हैं। मगर आसपास में खड़े लोगों ने महिला को बचाने की जहमत नहीं उठाई। वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने कार्रवाई की और तीन गुंडों को गिरफ्तार किया है।

 

घटना भोपाल के निशातपुरा इलाके की है। जहां अपने प्लॉट पर हो रहे अवैध निर्माण का विरोध करने पर दलित महिला को गुंडों ने बर्बरता से पंद्रह मिनट तक इतना पीटा कि उसके कपड़े तक फट गए। महिला ने एक अजनबी के घर में घुसकर अपनी जान बचाई। आरोपी से जान से मारने की धमकी देते हुए मौके से भाग निकले। पुलिस तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर इलाके में उनका जुलूस निकाला।

 

दरअसल, राजवंश कॉलोनी निवासी 24 वर्षीय महिला पूजा अहिरवार गृहिणी है। वह अपनी मां उर्मिला अहरिवार के साथ रहती हैं। उर्मिला ने बताया कि उन्होंने 15 साल पहले शांति नगर में 600 वर्ग फीट का प्लॉट हबीब नामक व्यक्ति से खरीदा था। आर्थिक तंगी की वजह से उस पर निर्माण नहीं कर सकीं। शुक्रवार को दोपहर पूजा प्लॉट देखने पहुंची तो वहां निर्माण कार्य चल रहा था। मौके पर उसे किशन साहू, संजीव तिवारी और धर्मेंद्र विश्वकर्मा मिले।

three goons

 

महिला ने जब विरोध किया तो किशन साहू ने धमकाते हुए कहा कि प्लॉट अब उसके नाम है। इसके बाद वह विवाद करने लगा और गाली-गलौच करते हुए अपने साथियों के साथ पूजा पर लाठी, बेल्ट से हमला कर दिया। पूजा ने बताया कि उन गुंडों ने मुझे बीच सड़क पर लाठी-बेल्ट से पीटा। कपड़े तक फाड़े। वह मुझे निर्वस्त्र कर घुमाने की धमकी देते रहे। मैं मदद के लिए चीखती रही। भीड़ तमाशा देखती रही। गुंडे जान से मारने डारने के लिए करीब 15 मिनट तक हमला करते रहे। थाने गई तो पुलिस भी पहले सुनने को तैयार नहीं हुई, बाद में सुनवाई हुई।


वहीं, इलाके के लोगों का कहना है कि प्रॉपर्टी डीलिंग से जुड़े लोगों का कहना है कि किशन साहू तो गैंग का सदस्य ही है, सरगना एक बर्खास्त पुलिसकर्मी है, जो विवादित जमीन, खाली प्लॉट पर अवैध कब्जे करता है। वह इसमें शहर में पदस्थ एख पुलिस अधिकारी को हिस्सेदार बताता है। हाल ही में उसने एक किसान को अधिकारी का डर दिखाकर सात एकड़ जमीन हथिया ली, जिस पर प्लॉटिंग की जा रही है।

 

निशातपुरा टीआई महेंद्र सिंह चौहान ने कहा कि तीन आरोपियों के खिलाफ मारपीट, जाति से अपमानित करने का मामला दर्ज किया गया है। तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned