ट्रैफिक पुलिस ने बताई 82 नए सिग्नल्स की जरूरत, एक्सपर्ट बोले- इससे नहीं होगा सुधार

ट्रैफिक पुलिस ने बताई 82 नए सिग्नल्स की जरूरत, एक्सपर्ट बोले- इससे नहीं होगा सुधार

Ram kailash napit | Publish: Apr, 10 2019 03:03:03 AM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

कमिश्नर कार्यालय में बैठक: राजधानी की यातायात व्यवस्था सुधारने की चुनौती

भोपाल. राजधानी में बोर्ड ऑफिस, एमपी नगर, न्यू मार्केट, 10 नंबर, लालघाटी, भारत टॉकीज, भोपाल टॉकीज, करोंद जैसे कई चौराहे हैं, जहां पीक ऑवर्स में जाम से पूरा शहर परेशान होता है। यहां रोजाना 6 से 10 हजार पीसीयू (पैसेंजर कार यूनिट ) का दबाव रहता है।
वाहनों की लगातार बढ़ रही संख्या के बीच ट्रैफिक को आसान बनाए रखने के मुद्दे पर मंगलवार को कमिश्नर कार्यालय में बैठक हुई। कमिश्नर कल्पना श्रीवास्तव और आइजी जयदीप प्रसाद को ट्रैफिक पुलिस ने शहर में 82 जगह तिराहे और चौराहों पर नए सिग्नल की जरूरत बताई। 15 रास्तों को वन-वे करना होगा। सहमति मिलने के बाद ट्रैफिक एएसपी प्रदीप चौहान ने डीएसपी से सिग्नल्स के संबंध में रिपोर्ट मांगी है। इधर, मैनिट एक्सपर्ट सिद्धार्थ रोकड़े ने ट्रैफिक व्यवस्था को इंजीनियरिंग बताते हुए कहा है कि सिर्फ सिग्नल से ट्रैफिक नहीं सुधरेगा, सड़क की क्षमता, डिवाइडर, मोड़ व अन्य पहलुओ को ध्यान में रखकर काम करने से स्थिति काबू में आएगी।

बैठक में पुराने 61 सिग्नलों की मॉनिटरिंग के लिए स्मार्ट सिटी के दफ्तर में डीएसपी स्तर के एक अधिकारी को बैठाने पर सहमति बनी है। सिग्नल संभाल रही चार एजेंसियां, नगर निगम व ट्रैफिक पुलिस में सामंजस्य बनाए रखेंगे। अगर कहीं सिग्नल खराब होता है तो उसकी सूचना देकर उसे तत्काल ठीक करवाया जाएगा।

15 मई तक कार्रवाई कर देनी है रिपोर्ट
पुराने शहर से पुराने वाहन उठाना ताकि अतिक्रमण मुक्त हो शहर, लेकिन कई बैठकों में बात होने के बाद भी यह काम नहीं हुआ। इस बार 15 मई डेडलाइन तय की है, जिसकी रिपोर्ट वल्लभ भवन को देनी है।
टैक्सी सर्विस प्रोवाइडर ओला, उबर के वाहनों को पार्किंग में ही खड़े किए जाने को लेकर भी बैठक में पुलिस को हिदायत दी गई। न्यू मार्केट, एमपी नगर की पार्र्किंग में भी लोगों को वाहन खड़ा कराने का जिम्मा ट्रैफिक पुलिस और नगर निगम को सौंपा गया है।

चंडीगढ़, नोएडा और बेंगलूरुघूमेंगे...
चंडीगढ़, नोएडा और बेंगलूरु में आबादी बढऩे के साथ नई तकनीक के सिग्नलों से ट्रैफिक मैनेजमेंट किया जा रहा है। भोपाल से एक टीम इन शहरों का दौरा करेगी। इसके बाद भोपाल में अधिकारियों के सामने प्रजेंटेशन रखा जाएगा।


ब्लैक स्पॉट जल्द दुरुस्त करे पीडब्ल्यूडी
बैठक में अलग-अलग क्षेत्रों में चिह्नित ब्लैक स्पॉट्स को दुरुस्त करने के निर्देश पीडब्ल्यूडी अधिकारियों को दिए गए। गौरतलब है कि बोर्ड ऑफिस चौराहा, गोविंदपुरा, भदभदा चौराहा, बालमपुर घाटी, सूखी सेवनियां, ग्यारह मील, समरधा पुलिया, पुलिस कंट्रोल रूम के पास ब्लैक स्पॉट के कारण हादसे होते हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned