सीएम के रथ पर पथराव के आरोपी ने पुलिस की कहानी बताई झूठी

सीएम के रथ पर पथराव के आरोपी ने पुलिस की कहानी बताई झूठी

Deepesh Awasthi | Publish: Sep, 09 2018 02:39:37 PM (IST) | Updated: Sep, 09 2018 04:36:06 PM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

सीएम के रथ पर पथराव के आरोपी ने पुलिस की कहानी बताई झूठी

भोपाल। नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने चुरहट में जनआशीर्वाद यात्रा के दौरान सीएम के रथ पर पथराव के आरोपी युवक संदीप चतुर्वेदी को शनिवार को मीडिया के सामने पेश किया। संदीप ने पुलिस की कहानी झूठी बताते हुए दवाब में बयान दिलवाना बताया।

संदीप ने नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह के निवास पर प्रेस कान्फ्रेंस में कहा कि रात डेढ़ बजे सब इंस्पेक्टर दीपक बाघेला पेट्रोल पंप से उठाकर ले गए थे। युवक ने बताया कि पुलिस ने मारपीट की और जबरन ही गवाही लेकर सात आरोपियों के नाम बुलवाए। इस मामले में वह पूरी तरह निर्दोश है। संदीप चुरहट के भाजपा मंडल अध्यक्ष मनोज सिंह के पटपरा स्थित पेट्रोल पंप पर काम करता है।

संदीप ने बताया न तो उसके सामने पथराव हुआ और न वो आरोपियों को जानता है। संदीप ने आरोप लगाया है कि थाना प्रभारी अभिषेक सिंह परिहार दबाव डाल रहे हैं कि वो अदालत में धारा 164 में आरोपियों के खिलाफ गवाही दे। संदीप ने पुलिस से जान का खतरा बताया है, उसका कहना है कि मेरे लिए सुरक्षा बल तैनात किया जाए। ताकि मेरी जान बच सके, क्योंकि जिस तरह के हालातों का मैं सामना कर रहा हूं। उसे देखकर तो यही लगता है कि मेरी जान को खतरा है। अपनी सुरक्षा को लेकर उसने डीजीपी को आवेदन भी दिया है।

अजय सिंह बोले, मेरी राजनीतिक हत्या करने का प्रयास
अजय सिंह ने कहा कि पुलिस ने 9 लोगों को गिरफ्तार किया है, जिनमें मैं सिर्फ दो लोगों को जानता हूं। इनमें ब्लॉक अध्यक्ष राम विलास पटेल और कांग्रेस आईटी सेल के पंकज सिंह शामिल हैं, ये दोनों उस वक्त चुरहट में मौजूद नहीं थे। अजय सिंह ने कहा कि सीएम उनकी राजनीतिक हत्या करना चाहते हैं। सिंह ने सीएम को चुरहट से चुनाव लडऩे की भी चुनौती दी। उन्होंने घटना की उच्च स्तरीय न्यायिक जांच की मांग की है। जिससे घटना से जुड़े सारे पहलू सामने आ सके।

Ad Block is Banned