सरकारी विभागों में होगा जमकर काम, सरकार का '5T' मंत्र लागू

सरकारी विभागों में होगा जमकर काम, सरकार का '5T' मंत्र लागू
सरकारी विभागों में होगा जमकर काम, सरकार का '5T' मंत्र लागू

Prateek Saini | Updated: 10 Oct 2019, 09:23:11 PM (IST) Bhubaneswar, Khordha, Odisha, India

5 T Formula का मतलब भी ख़ास है, इसके तहत अब हर सरकारी विभाग के आला अधिकारियों को...

(भुवनेश्वर): गुड गवर्नेंस को लेकर ओडिशा सरकार के हर विभाग में 5टी मंत्र के तहत आला अफसरों के सरकारी दौरे शुरू हो गए हैं। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के सचिव वीके पांडियन ने गुरुवार को दक्षिण ओडिशा के नक्सल प्रभावित जिलों का दौरा किया। उन्होंने सीधे मरीजों से बातचीत की। कामकाज में परिवर्तन का यह 5टी मंत्र नवीन पटनायक की देन है। इसका मतलब ट्रांसपेरेंसी, टीमवर्क, टेक्नोलॉजी, टाइम व ट्रांसफार्मेशन।

 

पटनायक अपने खास विश्वस्त अफसर पांडियन को 5टी का प्रभार सौंपा। लोगों को स्वास्थ सुविधाएं मुहैया करायी जा रही हैं कि नहीं, इसे देखने के लिए पांडियन ने औचक निरीक्षण किया। नेशनल हेल्थ रुरल मिशन की निदेशक शालिनी पंडित पांडियन ने कालाहांडी, नुआपाडा और रायगढ़ा जिलों का दौरा किया। जिला अस्पतालों के विभिन्न वार्डों का निरीक्षण किया। यही नहीं इन अधिकारियों ने मरीजों और उनके तीमारदारों से बातचीत भी की। इस दौरे का उद्देश्य जमीनी सच्चाई का पता लगाना था।

सरकारी विभागों में होगा जमकर काम, सरकार का '5T' मंत्र लागू

यह दौरा 'मो सरकार' कार्यक्रम का हिस्सा भी बताया गया। मो सरकार कार्यक्रम यानी मेरी सरकार की भावना का आवाम में महसूस कराना है। मुख्यमंत्री ने इसे दो अक्टूबर को शुरू किया था। पांडियन के साथ शालिनी पंडित और वित्त सचिव अशोक मीणा भी थे। ये अधिकार मलकानगिरि, नवंरंगपुर और कोरापुट भी जाएंगे। मो सरकार पारदर्शिता की रणनीति का हिस्सा है। औचक निरीक्षण का फीडबैक सीधे मुख्यमंत्री को दिया जाएगा।

 

स्वास्थ के अलावा जनसेवा के सभी विभाग मो सरकार और 5टी मंत्र का हिस्सा होंगे। शुरुआत स्वास्थ सेवाओं से हुई है। इसके बाद मो स्कूल, मो कालेज, मो अस्पताल, मो खेतीबारी में भी निरीक्षण अभियान चलाया जाएगा। फीडबैक से जमीनी सच्चाई के आधार पर अगली कार्रवाई की जाएगी।


ओडिशा की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: काले जादू के शक में दंपति की हत्या, 4 दिन बाद इस हालत में मिले शव

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned