scriptHighest amount ever seized in IT raid | आईटी छापे में अब तक की सबसे ज्यादा राशि जब्त | Patrika News

आईटी छापे में अब तक की सबसे ज्यादा राशि जब्त

locationभुवनेश्वरPublished: Dec 11, 2023 04:41:04 pm

Submitted by:

Rabindra Rai

ओडिशा की एक कंपनी के समूह से जुड़े विभिन्न ठिकानों पर आईटी छापे में कुल 353 करोड़ नकदी बरामदगी देश में सुर्खियों में छाई हुई है। देशभर में किसी जांच एजेंसी द्वारा महज एक कार्रवाई के तहत बरामद की गई यह अब तक की सर्वाधिक धनराशि बताई जा रही है। इस बीच ओडिशा में विपक्षी दल भाजपा ने सोमवार को सत्ताधारी बीजू जनता दल (बीजद) और राज्य सरकार पर हमला तेज कर दिया और उन पर राज्य में अवैध शराब के व्यापार को बढ़ावा देने और काले धन का प्रसार करने का आरोप लगाया।

आईटी छापे में अब तक की सबसे ज्यादा राशि जब्त
आईटी छापे में अब तक की सबसे ज्यादा राशि जब्त
ओडिशा की कंपनी के समूह से जुड़े ठिकानों की तलाशी
ओडिशा की एक कंपनी के समूह से जुड़े विभिन्न ठिकानों पर आईटी छापे में कुल 353 करोड़ नकदी बरामदगी देश में सुर्खियों में छाई हुई है। देशभर में किसी जांच एजेंसी द्वारा महज एक कार्रवाई के तहत बरामद की गई यह अब तक की सर्वाधिक धनराशि बताई जा रही है। इस बीच ओडिशा में विपक्षी दल भाजपा ने सोमवार को सत्ताधारी बीजू जनता दल (बीजद) और राज्य सरकार पर हमला तेज कर दिया और उन पर राज्य में अवैध शराब के व्यापार को बढ़ावा देने और काले धन का प्रसार करने का आरोप लगाया। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी कांग्रेस के खिलाफ पार्टी सांसदों के विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व किया। कांग्रेस सांसद धीरज साहू से जुड़े परिसरों से भारी नकदी बरामद की गई है।
--
अब बरामद दस्तावेजों पर नजर
आयकर विभाग के सूत्रों के मुताबिक कुल 353 करोड़ रुपए की बेहिसाब नकदी बरामद की गई है। उन्होंने कहा कि सूचना प्रौद्योगिकी पेशेवरों के साथ आयकर विभाग की टीम ने जब्त नकदी की गिनती पूरी कर ली। अब बरामद दस्तावेजों पर ध्यान केंद्रित किया गया है। आयकर विभाग के अधिकारी बौध जिले में कांग्रेस सांसद के परिवार के स्वामित्व वाली बौध डिस्टिलरीज की सुदापाड़ा इकाई में पहुंचे, जहां केंद्रीय एजेंसी ने छह दिसंबर को अपना तलाशी अभियान शुरू किया था। अधिकारियों ने बताया कि संबलपुर, टिटलागढ़, सुंदरगढ़, बोलांगीर और भुवनेश्वर में भी छापेमारी की गई।
--
एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप
भाजपा की ओडिशा इकाई के अध्यक्ष मनमोहन सामल ने पोस्ट किया कि ओडिशा सरकार की आबकारी नीति राज्य में शराब माफिया के फलने-फूलने के लिए जिम्मेदार है। सरकार शराब कारोबारी को अनुचित लाभ पहुंचा रही है और बीजद उस काले धन से चुनाव लड़ रही है। जबकि बीजद ने भाजपा के आरोप को पूरी तरह निराधार बताया है।

ट्रेंडिंग वीडियो