छत्तीसगढ़ : मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान का मिल रहा है सकारात्मक परिणाम

CM Nutrition Campaign: - छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले की एक महिला सुशीला मुड़मा एनीमिया से मुक्त हुई है।

By: Bhupesh Tripathi

Published: 15 Nov 2020, 04:35 PM IST

बीजापुर। मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान (CM Nutrition Campaign) के तहत् कुपोषित बच्चों एवं एनीमिक महिलाओं का चिन्हाकन कर बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने, गर्म एवं पौष्टिक भोजन प्रदान किया जा रहा है। इस योजना का व्यापक स्तर पर क्रियान्वयन किया जा रहा है। बीजापुर (Bijapur) जिले में कुपोषण की स्थिति को देखते हुए स्वास्थ्य एवं महिला बाल विकास विभाग द्वारा एनीमिक महिलाओं एवं कुपोषित बच्चों का विशेष देखभाल किया जा रहा।

जिले के ग्राम पंचायत तोयनार निवासी महिला श्रीमती सुशीला मुड़मा को एनीमिक महिला के रूप में चिन्हाकिंत किया गया था। एनीमिया जांच के दौरान उनका हीमोग्लोबिन स्तर मात्र 6.7 ग्राम था और उनका वजन मात्र 35 किलोग्राम था वह बहुत कमजोर थी। सुशीला बताती है कि वह कमजोरी के वजह से निरंतर बीमार पड़ती रहती थी इसी दौरान उनकी एक बेटी हुई जो जन्म के समय मात्र 1 किलोग्राम एवं 600 ग्राम थी।

bijapur.jpg

सुशीला बताती है कि वह लगातार आंगनबाड़ी में जाकर गर्म एवं पौष्टिक भोजन (CM Nutrition Campaign) लिया, नियमित रूप से उनका स्वास्थ्य जांच हुआ जिससे स्वयं के साथ उनकी बेटी के स्वास्थ्य पर अच्छा प्रभाव पड़ा और उनकी बेटी जिनका नाम माही है गंभीर कुपोषण से मुक्त होकर अभी मध्यम श्रेणी में है। सुशीला का हीमोग्लोबीन 6.7 ग्राम से बढ़कर 10.300 ग्राम हो गया है एवं वजन 35 किलोग्राम से बढ़कर अब 43 किलोग्राम हो गया है।

सुशीला अब शारीरिक रूप से अपने आपको स्वस्थ महसूस कर रही है और घर एवं खेती-बाड़ी के कार्य में अपने पति नारायण मुड़मा का सहयोग भी करती है। पहले थोड़ा सा काम करने पर थक जाती थी बीमार पड़ जाती थी किंतु अब एनीमिया से मुक्त होने के बाद सभी काम बहुत अच्छे से बिना थके कर लेती है। सुशीला ने बताया कि वे अभी भी आंगनबाड़ी में गर्म भोजन सहित अन्य पौष्टिक आहार लेती हैं और लाभान्वित हो रही है। वहीं उसका स्वास्थ्य जांच भी स्वास्थ्य विभाग द्वारा नियमित रूप से किया जा रहा है।

Show More
Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned