लाल आतंक: नक्सलियों ने 31 जनवरी को भारत बंद का किया ऐलान, सरकार के इन कामों का किया विरोध

लाल आतंक: नक्सलियों ने 31 जनवरी को भारत बंद का किया ऐलान, सरकार के इन कामों का किया विरोध

Chandu Nirmalkar | Updated: 24 Jan 2019, 03:29:19 PM (IST) Bijapur, Bijapur, Chhattisgarh, India

लाल आतंक: नक्सलियों ने 31 जनवरी को भारत बंद का किया ऐलान, सरकार के इन बातों का किया विरोध

बीजापुर. दण्डकारण्य स्पेशल जोनल कमेटी ने पर्चा जारी कर 25 से 31 जनवरी तक दमन योजना समाधान के खिलाफ प्रचार प्रसार करने की बात कही। साथ ही 31 जनवरी को भारत बन्द का आहवान भी किया।

जारी नक्सली पर्चे के अनुसार प्रचार सप्ताह के दौरान सभा, सम्मेलन, रैलियों और आमसभाओं के माध्यम से क्रांतिकारी दमन योजना 'समाधान' के खिलाफ प्रचार कर संगठनों को मजबूत कर विस्तार करने व बस्तरिया बटालयिन ओर आदिवासी बटालयिन में भर्ती का बहिष्कार भी किया।

 

इसके अलावा पुजारी कांकेर, आइपेंटा, तिममेम, कसनुर, गुमियाबेड़ा में हुई मुठभेड़ों को फर्जी बताया। नक्सलियों ने जारी पर्चे में सामाजिक कार्यकर्ताओं, लेखकों, पत्रकारों, कलाकारों, मानव अधिकार संगठनों के नेताओं और कार्यकर्ताओं पर हुए हमलों और हत्याओं का भी विरोध किया।

नक्सलियों ने बड़े बांध व खदानों को बंद करने की बात कही है..
इससे पहले नक्सलियों ने बैनर-पोस्टर जहां लगाए गये थे। वहां से सीआरपीएफ कैम्प की दूरी मजह 3 किमी है। नक्सलियों ने बड़े बांध व खदानों को बंद करने की बात कही है। साथ ही जल, जंगल और जमीन बचाने जनताना सरकार को मजबूत व विस्तार देने की बात कही है। ये बैनर-पोस्टर भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) की ओर से जारी किए गए थे। पुलिस इस मामले को गंभीरता से लेकर सर्च ऑपरेशन में जुटी है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned