बड़ी खबर: गंगनहर में गिरी सरकारी गाड़ी, घंटों चला रेस्क्यू ऑपरेशन, तहसीलदार समेत 3 की मौत

Highlights:

-रुड़की तहसीलदार सुनैना राणा, एक चपरासी और गाड़ी ड्राइवर की डूबने से मौत

-नैनीताल में आयोजित ट्रेनिंग कार्यक्रम से वापस रुड़की लौट रहे थे

-तीनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर परिजनों को सूचित किया गया है

By: Rahul Chauhan

Published: 11 Oct 2020, 09:18 AM IST

बिजनौर। जनपद बिजनौर के गांव श्रवणपुर के सामने पूर्वी गंगनहर में रुड़की तहसीलदार सुनैना राणा सहित तीन लोग गाड़ी सहित डूब गए। उधर, सूचना मिलते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। गोताखोरों और स्थानीय लोगों की मदद से डूबे लोगों की तलाश की गई। कड़ी मशक्कत के बाद तीनों के शवों को बाहर निकाला गया। वहीं क्रेन की मदद से तहसीलदार की गाड़ी को भी नहर से बाहर निकाल लिया गया।

दरअसल, शनिवार रात रुड़की तहसीलदार सुनैना राणा, एक चपरासी और गाड़ी ड्राइवर नैनीताल में आयोजित ट्रेनिंग कार्यक्रम से वापस रुड़की लौट रहे थे। जानकारी के अनुसार नजीबाबाद में श्रवणपुर के सामने उनकी गाड़ी अनियंत्रित होकर पूर्वी गंगनहर में गिर गई। जिसमें तहसीलदार सहित तीनों लोग नहर में डूब गए। वहीं सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। गोताखोरों व स्थानीय लोगों की मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया।

प्रशासन ने स्थानीय लोगों और गोताखोरों की मदद से तहसीलदार सहित तीनों लोगों की रविवार सुबह तक तलाश की। क्रेन की मदद से तहसीलदार की गाड़ी को रेस्क्यू कर नहर से बाहर निकाला गया। साथ ही तहसीलदार और अन्य लोगों के शव भी तालश लिए गए। रुड़की तहसीलदार व अन्य के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

बिजनौर एसपी डा. धर्मवीर सिंह ने बताया कि बीती रात के समय गाड़ी नहर में गिर गई। गाड़ी में उत्तराखंड के एक अधिकारी सहित तीन लोग सवार थे। हरिद्वार के डीएम व एसपी को भी मामले में अवगत कराया गया। रेस्क्यू कर रुड़की तहसीलदार सहित तीनों के शवों को निकाल लिया गया है। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned