Lockdown: फैक्ट्रियां बंद होने के बाद रेलवे ट्रैक पर चलते हुए अपने गांव पहुंच रहे लोग

Highlights:

-कोरोना वायरस के चलते देशभर में लॉकडाउन लगाया गया है

-इसके चलते सभी फैक्ट्रियां आदि बंद हो गई हैं

-मजदूर आदि अपने गावों की तरफ पलायन करने लगे हैं

By: Rahul Chauhan

Updated: 29 Mar 2020, 06:09 PM IST

बिजनौर। कोरोना वायरस से दुनियाभर में लगातार बढ़ रहे संक्रमण के चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशभर में 21 दिन का लॉकडाउन किया है। जिसका असर पूरे देश में देखने को मिलने लगा है। लेकिन यह लॉकडाउन निजी क्षेत्र के कारखानों में काम करने वाले कर्मियों के लिए मुसीबत का सबब बन गया है।

यह भी पढ़ें : 8 साल की मासूम बच्ची ने पीएम राहत कोष में दी अपनी गुल्लक, 3 वर्षों से जमा कर रही थी पैसे

ऐसे लोग अब अपने गांवों की तरफ लौट रहे हैं। इसके लिए वह जगलों से होकर गुजर रही रेल पटरियों के किनारे किनारे अपने घरों को लौटने को मजबूर हैं। हालांकि सरकार व प्रशासन द्वारा इनके लिए तरह-तरह के इंतजाम भी किए गए हैं। दरअसल, लॉकडाउन के चलते कारखाने व अन्य फैक्ट्रियां बंद होने के बाद उनमें काम करने वाले मजदूरों के सामने खाने-पीने तक की समस्या उत्पन हो गई है।

यह भी पढ़ें: कोरोना पीड़ितों के लिए बड़ी राहत, डीएम ने की 28 दिन का सवेतन अवकाश देने की घोषणा

जिसके चलते वह अपने गांव लौटने को मजबूर हो गए हैं। ऐसा ही नजारा बिजनौर में देखने को मिला। जहां जनपद से सटे उत्तराखंड के ऋषिकेश में काम करने वाले मजदूर मजदूरी ना मिलने के कारण अपने घर मुरादाबाद, बरेली की तरफ रेलवे ट्रैक के किनारे पैदल चलकर अपने घरों तक पहुंचने की कवायद में जुट गए हैं।

coronavirus
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned