स्कूलों में पड़े कबाड़ से नहीं बनता शैक्षणिक माहौल, शिक्षा विभाग ने लिए ये फैसला

शिक्षा विभाग सरकारी स्कूलों में अनुपयोगी सामान के निस्तारण की तैयारी कर रहा है।

By: dinesh swami

Published: 20 Jul 2018, 08:37 AM IST

बीकानेर. शिक्षा विभाग सरकारी स्कूलों में अनुपयोगी सामान के निस्तारण की तैयारी कर रहा है। कई सरकारी स्कूलों में कुर्सियां व टेबल आदि टूटी हुई हैं, जिससे छात्रों को बैठने में परेशानी होती है। स्कूलों में पड़े कबाड़ से शैक्षणिक माहौल भी नहीं बनता है। इसके लिए राजस्थान राज्य स्कूल शिक्षा परिषद् के अतिरिक्त राज्य परियोजना निदेशक सुरेश चन्द्र ने माध्यमिक व प्रारंभिक के सभी जिला शिक्षा अधिकारियों आदेश जारी किया है।

 

आदेश में राजकीय उच्च माध्यमिक, माध्यमिक एवं प्राथमिक, उच्च प्राथमिक विद्यालयों में सामान्य भण्डार, परीक्षा प्रभारी भण्डार, खेलकूद भण्डार, विज्ञान लैब भण्डार आदि कमरों में अनुपयोगी सामान का निस्तारण करने को कहा गया है। उन्होंने कहा कि विभिन्न अंकेक्षण प्रतिवेदन, उच्च अधिकारियों के निरीक्षण के दौरान एेसे सामानों के निस्तारण की टिप्पणी के बावजूद कार्यों में प्रगति नहीं हो रही है। उन्होंने आदेश दिया कि अपने जिलों में अनुपयोगी सामान निस्तारण की प्रक्रिया को छात्र, विद्यालय एवं राज्यहित में समयानुसार पूरी करवाएं तथा पोर्टल पर सूचना फीड करें।

 

यह रहेगा कार्यक्रम
३० जुलाई तक भौतिक सत्यापन होगा। २० अगस्त को अनुपयोगी सामान की भण्डारवार अलग सूची जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय भेजनी होगी। ३० अगस्त को जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय स्तर से समिति गठित कर सर्वे रिपोर्ट तैयार करवाएंगे। १५ सितंबर को जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय स्तर सर्वे रिपोर्ट के आधार पर सामान अनुपयोगी घोषित करने के आदेश जारी कराएंगे।

 

इसके बाद समिति गठित कर कार्रवाई जिला शिक्षा अधिकारी स्तर पर की जाएगी। इसके बाद व्यापक प्रचार-प्रसार कर नीलामी की कार्रवाई करेंगे। ३० सितंबर को चरणबद्ध कार्रवाई करने के लिए जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय के वरिष्ठ लेखाकर्मी को समन्वयक नियुक्त कर उसके हस्ताक्षर कर सूचित करने को कहा गया है।

 

 


व्यवस्था में लगाए अधिकारी

बीकानेर. सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग की ओर से राजकीय पॉलीटेक्निक और राजकीय आइटीआई कॉलेज में 25 से 27 जुलाई तक आयोजित होने वाले राजस्थान डिजिफेस्ट के लिए कई अधिकारियों को नियुक्त किया गया है। गुरुवार को आइटी विभाग के अति. निदेशक रमेश शर्मा ने तैयारियों का जायजा लिया। हैकाथॉन के लिए 832 टेबल्स लगाई गई हैं। एसीपी सत्येन्द्र सिंह ने बताया कि 17 डॉम लगाए जा रहे हैं जो वातानुकूलित हैं। कार्यक्रम की शुरुआत २५ जुलाई को दौड़ से होगी।

Show More
dinesh swami Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned