सीएस आर्य ने कहा रामगढ़ से कोलायत तक गैस पाइप लाइन बिछाने के लिए करेंगे प्रयास

-औद्योगिक विकास के मॉडल पर किया विचार, बाइपास के लिए 25 किमी रेल लाइन बिछाने पर जल्द जयपुर में बैठक

 

By: Vimal

Published: 19 Sep 2021, 07:08 PM IST

बीकानेर. प्रदेश के मुख्य सचिव निरंजन आर्य शनिवार को सुबह 11 बजे तक बीकानेर में ही रहे। हालांकि उनके रात को अथवा सुबह जल्दी जयपुर रवाना होने का कार्यक्रम था। परन्तु शहर के कुछ और लोगों से मिलना शेष रहा होने तथा शहर के औद्योगिक विकास पर चर्चा के लिए वह यहां रूक गए। बीकानेर छोडऩे से पहले सीएस आर्य ने कहा कि रामगढ़ से कोलायत तक गैस पाइप लाइन बिछाने के लिए वह प्रयास करेंगे। साथ ही रेलवे फाटकों की समस्या के निराकरण के लिए रेल बाइपास का कार्य कराना उचित रहेगा। इसके लिए शीघ्र ही जयपुर में बैठक कर 25 किलोमीटर रेल लाइन बिछाने पर विचार किया जाएगा।

 

सर्किट हाउस में आर्य ने व्यापार उद्योग मंडल के पदाधिकारियों और जिला कलक्टर के साथ रेल फाटक समस्या और जिले के औद्योगिक विकास के लिए गैस पाइप लाइन को लेकर चर्चा की। उन्होंने रेल फाटक समस्या के समाधान के लिए व्यापारियों और उद्योगपतियों का पक्ष जाना। रेल बाइपास के मुद्दे पर तकनीकी चर्चा की। कलक्टर ने सीएस आर्य को बताया कि करीब २५ किमी तक बाइपास की लाइन बनानी होगी। इस पर आर्य ने कहा कि सरकार के लिए 25 किमी लाइन बिछाना बड़ी बात नहीं है। जल्द ही जयपुर में रेलवे महाप्रबंधक के साथ बैठक करेंगे।

 

गैस पाइप लाइन के लिए दूरभाष पर बात

सीएस आर्य ने फोन पर गैस कम्पनियों के अधिकारियों से बातकर जैसलमेर से बीकानेर तक गैस पाइप लाइन बिछाने पर राय ली। दूरभाष पर ही इस प्रस्ताव को भिजवाने के लिए भी कहा। बीकानेर व्यापार उद्योग मंडल संरक्षक कन्हैया लाल बोथरा के नेतृत्व में मंडल पदाधिकारियों की ओर से रखी गई मांगों में गैस पाइप लाइन भी थी। आर्य ने कहा कि रामगढ़ से कोलायत तक गैस पाइप लाइन सहित सिरेमिक्स उद्योग को बढ़ावा देने के लिए भरसक प्रयास किए जाएंगे। गैस पाइप लाइन के लिए सर्वे हो चुका है। रामगढ़-जैसलमेर से ५५० किलोमीटर बीकानेर तक गैस पाइप लाइन लानी है।

 

औद्योगिक विकास में आडे आ रही समस्याएं रखी

औद्योगिक विकास के लिए हवाई सेवा के विस्तार के लिए निशुल्क जमीन उपलब्ध करवाने, ड्राईपोर्ट बनाने, पर्वतीय क्षेत्र की तर्ज पर मरुस्थलीय क्षेत्र में दस वर्ष के लिए करों में छूट देने, राज्य व्यापारी कल्याण बोर्ड की स्थापना आदि मांगों पर विचार किया। व्यापार उद्योग मंडल के अध्यक्ष रघुराज सिंह राठौड़, अनिल सोनी, हेतराम गौड, वेद प्रकाश अग्रवाल, ईश्वरचंद बोथरा, मनोज सोलंकी, दीपक पारीक, सतीश पुरोहित, सोनूराज आसूदानी उपस्थित रहे।

 

तीसरे दिन मुख्य सचिव जयपुर रवाना

मुख्य सचिव आर्य ने बीकानेर का तीन दिवसीय दौरा पूरा करने के बाद जयपुर के लिए प्रस्थान किया। सुबह सर्किट हाउस में संभागीय आयुक्त बीएल मेहरा, पुलिस महानिरीक्षक प्रफुल्ल कुमार, जिला कलक्टर नमित मेहता, एसपी प्रीति चंद्रा सहित अन्य अधिकारियों ने मुख्य सचिव से मुलाकात की।


मुख्य सचिव को सौंपे ज्ञापन

मुख्य सचिव के बीकानेर दौरे के दौरान शनिवार को भी आमजन ने सर्किट हाउस में ज्ञापन सौंपकर समस्याएं रखी। इण्डियन पब्लिक सर्विस एम्पलाइज एसोसिएशन ने मुख्य सचिव के समक्ष नौ सूत्री मांगे रखी। राजस्थान शिक्षक संघ अम्बेडकर ने ज्ञापन सौंपकर पांच सूत्री मांग रखी। गाडिया लोहार मौहल्ला विकास समिति ने सीएस आर्य को ज्ञापन सौंपकर खाद्य सुरक्षा योजना से जुड़वाने, मतदाता सूची में नाम जुड़वाने और मतदाता पहचान पत्र बनवाने की मांग की।

Vimal Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned