राजकीय मुद्रणालय बंद करने की कवायद जारी, बत्तीस में से सात मशीनें भेजेंगे जयपुर और जोधपुर

बीकानेर राजकीय मुद्रणालय में लगी हुई 32 मशीनों में से सात मशीनों को जयपुर-जोधपुर भेजने का निर्णय लिया जा चुका है।

 

By: अनुश्री जोशी

Published: 04 May 2018, 09:23 AM IST

बीकानेर राजकीय मुद्रणालय को बंद करने की कवायद जारी है। कर्मचारियों को प्रतिनियुक्ति पर अन्य विभागों में भेजने व स्थानान्तरण के आदेश जारी करने के बाद अब मशीनों को जयपुर और जोधपुर भेजने के प्रयास शुरू हो गए हैं।
बताया जा रहा है बीकानेर राजकीय मुद्रणालय में लगी हुई 32 मशीनों में से सात मशीनों को जयपुर-जोधपुर भेजने का निर्णय लिया जा चुका है।

 

इनमें तीन ऑफसेट मशीनें, एक कटिंग मशीन, एक दाब मशीन और दो स्ट्रीचिंग मशीनें शामिल हैं। इनमें ऑफसेट और कटिंग मशीनें जयपुर तथा दाब मशीन और स्ट्रीचिंग मशीनें जोधपुर भेजी जाएंगी। मुद्रण एवं लेखन विभाग के अधिकारियों के आदेशों पर बीकानेर प्रेस में कार्यरत अकाउंटेंट की ओर से इन मशीनों को भेजने की तैयारी शुरू कर दी गई है।

 

संभवत इसी सप्ताह के अंत या अगले सप्ताह की शुरुआत में ये मशीनें बीकानेर से भेजी जा सकती हैं। बताया जा रहा है कि प्रेस में लगी हुई रियासतकालीन आठ मशीनें अभिलेखागार विभाग लेगा जबकि ट्रेडल मशीनें और लेटर प्रेस मशीनें नीलामी के जरिए बेची जा सकती हैं। वहीं मुद्रणालय कार्मिकों ने गुरुवार को प्रेस को बंद करने, कार्मिकों को प्रतिनियुक्ति पर भेजने की सरकार की कार्रवाई पर रोष जताया।

 

रोकने वाला ना ही टोकने वाला
जिस राजकीय मुद्रणालय में प्रवेश के लिए अनुमति जरूरी थी और कार्यरत कर्मचारियों के प्रेस में आने-जाने के दौरान उनकी पॉकेट, टिफिन , हैण्ड बैग की जांच होती थी, उसी प्रेस में आज कोई रोकने और टोकने वाला नहीं है। हर कोई बिना रोक-टोक के आ और जा रहा है। बताया जा रहा है जिस समय पालक कर्मचारी के जिम्मे यह कार्य था उसको प्रतिनियुक्ति पर दूसरे विभाग में भेज दिया गया है। मशीनें, कागज, उपकरणों सहित अन्य सामान की सुरक्षा को लेकर भी कर्मचारी आशंकित हैं।

 

प्रतिनियुक्त कार्मिकों ने दी उपस्थिति
राजकीय मुद्रणालय से अभिलेखागार विभाग में प्रतिनियुक्ति पर भेजे गए कर्मचारियों ने गुरुवार को अपनी उपस्थिति अभिलेखागार विभाग में दी। अकाउंटेंट जितेन्द्र सिंह भदौरिया ने बताया कि कलक्टर कार्यालय में प्रतिनियुक्ति पर जिन नौ कर्मचारियों को रिलीव करने के आदेश थे उनमें से छह कर्मचारियों को कलक्टर कार्यालय के लिए रिलीव कर दिया गया। तीन कार्मिकों को रोका गया है। वहीं प्रेस के दस कार्मिकों का स्थानान्तरण जयपुर और जोधपुर हुआ उनको भी गुरुवार को कार्यमुक्त कर दिया गया।

 

कार्मिक रिलीव, भेजी जाएंगी मशीनें
निदेशक के आदेशानुसार अभिलेखागार, कलक्टर कार्यालय में कार्मिकों को प्रतिनियुक्ति पर भेजने के लिए रिलीव कर दिया गया है। जिन दस कार्मिकों का स्थानान्तरण जयपुर और जोधपुर हुआ उनको भी कार्यमुक्त कर दिया गया है। प्रेस में लगी हुई सात मशीनों को जयपुर और जोधपुर भेजा जाएगा। प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।
जितेन्द्र सिंह भदौरिया, अकाउंटेंट राजकीय मुद्रणालय, बीकानेर।

अनुश्री जोशी
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned