script कोहरे में हादसों को आमंत्रित कर रहे चारे से भरे ओवरलोड वाहन | overloaded vehicle | Patrika News

कोहरे में हादसों को आमंत्रित कर रहे चारे से भरे ओवरलोड वाहन

locationबीकानेरPublished: Dec 29, 2023 06:04:03 pm

Submitted by:

Hari Singh

आधी से अधिक सड़क हो जाती है बाधित

कोहरे में हादसों को आमंत्रित कर रहे चारे से भरे ओवरलोड वाहन
कोहरे में हादसों को आमंत्रित कर रहे चारे से भरे ओवरलोड वाहन

बीकानेर. महाजन. राजमार्ग संख्या 62 पर इन दिनों सीमावर्ती क्षेत्र से पशु चारा लेकर आने वाले ओवरलोड वाहन हादसों को आमंत्रित कर रहे हैं। घने कोहरे में आधी से अधिक सड़क इन वाहनों से बाधित होने के कारण दुर्घटना का अंदेशा बना रहता है। इन वाहनों पर रिफलेक्टर आदि भी नहीं लगे होने से दिखाई नहीं देते हैं।

गौरतलब है कि राजमार्ग पर इन दिनों पंजाब, हरियाणा सहित श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़ जिले से प्रतिदिन बड़ी तादाद में ट्रैक्टर ट्रॉली व ट्रक पराली, तूड़ी आदि पशु चारा लेकर बीकानेर की तरफ जाते हैं। इन वाहनों में ओवरलोड वजन होने व झाल बड़ी होने से आधे से अधिक राजमार्ग बाधित हो जाता है। रात के समय व कोहरे के कारण पशु चारे से भरे ये वाहन अन्य वाहन चालकों को एकदम समीप आने पर दिखाई देते हैं, जिससे हादसों का डर बना है। साथ ही गांवों में नीचे विद्युत तारों के कारण पशु चारा से भरे ओवरलोड वाहनों में आग लगने की आशंका भी रहती है।

जहां रुकते हैं वहां लग जाती है पशुओं की भीड़समीपवर्ती अरजनसर में पल्लू चौराहा, महाजन में नहर पुलिया के पास सड़क किनारे प्रतिदिन बड़ी संख्या में पराली, तूड़ी आदि से भरे वाहन पशुपालकों को चारा बेचने के लिए खड़े रहते हैं, जिससे इन वाहनों के आसपास बड़ी संख्या में आवारा गोवंश भूख मिटाने के लिए जमा हो जाते हैं। रात के समय ये पशु सड़क किनारे ही बैठ जाते हैं, जिससे इन आवारा पशुओं से दुर्घटना हो जाती है।

राजियासर से लूणकरनसर के बीच राजमार्ग पर रोजाना पांच-सात पशु वाहनों की चपेट में आकर जान गंवाते है। मृत पशुओं को टोल प्लाजा कंपनी की ओर से समय पर उठाकर दूर नहीं डालने से कई हादसे पूर्व में हो चुके है। सड़क किनारे मृत पशु कई दिन पड़े रहने से बदबू दूर-दूर तक फैल जाती है, जिससे बीमारियां फैलने का डर बना है। पशु चारे से भरे ओवरलोड वाहनों की झाल पर रिफलेक्टर, लाइट आदि नहीं लगी होने से कोहरे में हादसे हो रहे है। इस बारे में ना तो पुलिस प्रशासन सक्रिय दिखाई दे रहा और ना ही परिवहन विभाग।

ट्रेंडिंग वीडियो