पेयजल के लिए जूझ रहे लोग, तरणताल और वाटर पार्कों में पानी की बर्बादी

पेयजल के लिए जूझ रहे लोग, तरणताल और वाटर पार्कों में पानी की बर्बादी

Atul Acharya | Publish: Jul, 26 2019 07:11:55 PM (IST) Bikaner, Bikaner, Rajasthan, India

bikaner news- सरकार और जिला प्रशासन के जल शक्ति अभियान की भी अनदेखी, पिकनिक और मौज मस्ती के नाम पर तरणताल और वाटर पार्कों में धड़ल्ले से उपयोग हो रहा पीने का पानी

बीकानेर. नगर निगम (NAGAR NIGAM) बीकानेर (BIKANER) क्षेत्र में एक ओर जहां पर लोग जगह-जगह पर पेयजल के लिए जूझ रहे हैं वहीं शहर में विभिन्न स्थानों पर बने तरणताल और वाटरपार्कों में पीने के पानी की बर्बादी हो रही है। हालात यह है कि राज्य सरकार की ओर से प्रशासन द्वारा संचालित जल शक्ति अभियान की भी अनदेखी की जा रही है।

 

बीकानेर नगर निगम (NAGAR NIGAM) क्षेत्र में कई जगहों पर संचालित तरणताल और वाटरपार्कों में हजारों लीटर स्वच्छ पानी का उपयोग हो रहा है। पानी की यह बर्बादी शहर छोटे-बड़े सरकारी और निजी स्तर पर होटलों, फार्म हाउस तथा व्यवसायिक रूप से संचालित तरणताल और वाटरपार्कों में हो रही है। वहीं संबंधित विभाग और जिला प्रशासनिक अधिकारी भी इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं।

 

दर्जनों कॉलोनियों में पीने के पानी का संकट
शहर में दर्जनों एेसी कॉलोनियां है, जहां पाइप लाइनों के माध्यम से पीने का पानी लोगों के घरों
तक नहीं पहुंच रहा है। टैंकरों की मदद से उनको पानी उपलब्ध हो रहा है।

 

हजारों लीटर स्वच्छ पानी का उपयोग
शहर में संचालित तरणताल और वाटर पार्को में हजारों लीटर स्वच्छ पानी का उपयोग हो रहा है। पीने योग्य यह पानी जलदाय विभाग और ट्यूब वेल का होता है। तरणताल में काम आया पानी पुन: आमजन के लिए उपयोग में लिया जा रहा है। बताया जा रहा है कि एक तरणताल का आकार लम्बाई एक मीटर, चौड़ाई एक मीटर और ऊंचाई एक मीटर हो तो उसमें करीब एक हजार लीटर पानी इस्तेमाल होता है। बड़े साइज के स्विमिंग पूल में हजारों लीटर पानी उपयोग में लिया जा रहा है।

 

जल संरक्षण जरूरी
जल ही जीवन है। इसका सदुपयोग जरूरी है। पानी की हर एक बूंद कीमती और जीवनदायिनी है। सभी के सामूहिक प्रयास और जागरूकता से ही हम जल को बचा सकते है। जल का उपयोग होने के बाद इसका पुन: उपयोग होना चाहिए। इसकी बर्बादी रोकने के साथ पारम्परिक जल स्रोतों का संरक्षण भी जरूरी है।
दीपक बंसल,अधीक्षण अभियंता जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, बीकानेर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned