ये है डिजिटल इंडिया का डाकघर जहां बिजली गुल तो हो जाते है सारे काम ठप

 बिजली गुल होते ही डाक सेवाओं का ऑनलाइन कार्य ठप हो जाता है।

By: dinesh swami

Published: 10 Sep 2017, 01:28 PM IST

बज्जू. एक तरफ केन्द्र सरकार डिजिटल इंडिया का सपना साकार करने के लिए कई योजनाएं संचालित कर रही है। वही दूसरी ओर सरकार कारिदों की लापरवाही के कारण डिजिटल इंडिया के सपने पर प्रश्नचिन्ह लग रहा है। ऐसा ही कुछ राजस्व तहसील बज्जू पर संचालित उप-डाकघर कार्यालय में देखने को मिल रहा है।

 

यहां बिजली गुल होते ही डाक सेवाओं का ऑनलाइन कार्य ठप हो जाता है।जानकारी के अनुसार डाकघर में लगे यूपीएस की बैटरी से बिजली गुल होने पर कम्प्यूटर बंद हो जाता है। यहां यूपीएस लम्बे समय से खराब पड़ा है। इस कारण बिजली गुल होते ही डाक सेवाओं का कार्य बंद हो जाता है। कई बार घंटों तक बिजली गुल रहती है। इससे डाक संबधी कार्य लेकर आने वाले ग्रामीणों को परेशानी को सामना करना पड़ता है तथा समय भी बर्बाद होता है।

 

डाक वितरण कार्य प्रभावित
बज्जू सहित करीब २५ पंचायतों के सैकड़ों गांवों की डाक व एक दर्जन राजकीय कार्यालयों की डाक आती रहती है। युवाओं के कॉल लेटर भी कई तरह की भर्ती परीक्षा के लिए पहुंचते है लेकिन यहां पर डाक बांटने वाला कोई नहीं होने से प्रतिदिन डाक का बंडल जमा हो जाता है। इस पर पोस्ट ऑफिसर प्रभारी उपडाकपाल गौरीशंकर भाटिया अपने कर्मचारियों से डाक बंटवाते है तो कई बार नए कर्मचारियों को डाक पहुंचाने वाला स्थान भी नही मिल पाता है। इससे डाक देरी से भी पहुंचती है।

 

मिनी बैंक बनाना लक्ष्य
ज्ञात रहे केन्द्र सरकार डाकघरों को अत्याधुनिक सुविधांएं मुहैया करवाकर उन्हें मिनी बैंक की तर्ज पर बनाना चाहती है, लेकिन सुविधाओं के अभाव में यह *****ंभव प्रतीत हो रहा है। कस्बे के उप डाकघर में कर्मचारियों की कमी अर्से से झलक रही है। इस पर विभाग अनजान बना हुआ है। यहां पर एक जनरेटर दिया हुआ है,मगर वो भी शो-पीस बना है।

 

विभाग मौन
यूपीएस व स्टाफ के अभाव में होने वाली परेशानी को लेकर प्रधान कार्यालय व अधिकारियों को कई बार अवगत करवाने के बाद भी विभाग मौन है।
गौरीशंकर भाटिया, उप डाकपाल,बज्जू

Narendra Modi
Show More
dinesh swami Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned