एजेंट से सौदा नहीं पटा तो बहाना करके रोक दिया डॉक्टर ने पोस्टमार्टम

एजेंट से सौदा नहीं पटा तो बहाना करके रोक दिया डॉक्टर ने पोस्टमार्टम

Anil Kumar Srivas | Publish: Sep, 16 2018 02:04:34 PM (IST) | Updated: Sep, 16 2018 02:04:35 PM (IST) Bilaspur, Chhattisgarh, India

मृतक के परिजनों ने मामले की शिकायत अब मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री से करने की बात कही है।

बिलासपुर. सिम्स में सर्पदंश, बिच्छु काटने के बाद मरीज के परिजनों को शासन से 4 लाख रुपए तक मुआवजा मिलता है। ऐसे मामलों के लिए सिम्स में लंबे समय से दलाली चल रही है। इसकी शिकायत प्रबंधन से कई बार की जा चुकी, लेकिन सबूत नहीं होने का हवाला देकर दलालों को छोड़ दिया जाता है। शनिवार की शाम सिम्स में फिर ऐसी घटना सामने आई। सौदा नहीं पटने पर डॉक्टर ने पोस्मार्टम करने से इनकार कर दिया। मृतक के परिजनों ने मामले की शिकायत अब मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री से करने की बात कही है। अकलतरा के कन्हैया खाण्डे की पत्नी शैल को शुक्रवार रात जहरीले सांप ने काट लिया।

उसे स्थानीय अस्पताल से रेफर करने पर सुबह 6 बजे संजीवनी एंबुलेंस से सिम्स लाया गया। उपचार के दौरान शनिवार दोपहर 2 बजे उसकी मौत हो गई। डॉक्टर ने शव मच्र्युरी में रखवा दिया। बताया जाता है पुलिस चौकी द्वारा शाम 4 बजे पंचनामा रिपोर्ट तैयार कर ली गई थी। डॉक्टर भी पोस्टमार्ट के लिए तैयार होकर मच्र्युरी के पास पहुंच गए। इस बीच लीना नाम की एक महिला कुछ लोगों के साथ मृतिका के देवर अमृत लाल व परिजनों के पास पहुंची। अमृत खाण्डे ने बताया महिला ने कहा, यह केश हमें दे दो। इसके एवज में हम आपको 2 लाख रुपए देंगे। चाहो तो कुछ एडवांस भी दे देते हैं।

मरीज के परिजनों ने पूछा, इसमें कितना मिलता है तब बताया गया कि 4 लाख रुपए मिलते हैं। लेकिन आधा पैसा तो केस लडऩे में खत्म हो जाएगा। परिजनों ने सौदेबाजी से इनकार कर दिया। अमृत ने बताया सौदा नहीं हुआ, तो कुछ देर बाद डॉक्टर ने पोस्टमार्टम करने से इनकार कर दिया।
डेंगू के 7 मरीज मिले : डेंगू के सात मरीज मिले हैं। इसमें से एक चकरभाठा और दो मरीज गौरेला-पेंड्रा के हैं। वहीं एक मरीज नेहरू नगर व दो मरीज कोरबा-कोरिया से हैं।
नए अस्पताल में मरीज को लौटाया : जिला अस्पताल के पीछे मदर एंड चिल्ड्रन अस्पताल में इलाज के लिए आए मरीजों को भगा दिया जा रहा है। परसदा निवासी शिव श्रीवास अपनी पत्नी को सोनोग्राफी के लिए लेकर आए थे। लेकिन उन्हें भगा दिया गया। वहीं मस्तूरी के पास से मितानित एक प्रसूता को भर्ती कराने लेकर आई थी। उसे भी भर्ती नहीं किया गया।
शिकायत नहीं मिली : शव का पोस्टमार्टम क्यों नहीं किया गया, इसकी शिकायत नहीं मिली है। सर्पदंश, बिच्छू काटने के एवज में पैसा मांगने की भी शिकायत नहीं मिली है। अगर शिकायत मिलेगी तो जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।
डॉ. रमणेश मूर्ति, अस्पताल अधीक्षक सिम्स

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned