कोरोना संक्रमण के बढ़ते ही अनाज, दवा, गैस सिलेण्डर, शराब और पेट्रोल हुआ महंगा

- खाद्य तेलों में सबसे ज्यादा हुई बढ़ोतरी
- जमाखोरों ने कोरोना संक्रमण का भर दिखाकर बढ़ा दी कीमतें

By: Ashish Gupta

Published: 03 Apr 2021, 12:06 PM IST

बिलासपुर. कोरोना संक्रमण के बढ़ने के साथ जमाखोरों ने मुनाफे के लिए बाजार में खाद्य पदार्थों की सप्लाई कम कर दी है। होली पर्व के पहले तक खाद्य पदार्थों की कीमतें सामान्य थी वही अब कीमतों में जबरदस्त उछाल आ गया है। इससे आम आदमी का बजट गड़बड़ा गया है। खाद्य तेलों में रिकार्ड बढ़ोतरी के बाद, अनाज, दवा, गैस सिलेण्डर, शराब और पेट्रोल की कीमतें भी बढ़ रही हैं।

कोरोना संक्रमण काल और लॉक डॉउन के दौरान बीते वर्ष जमाखोरों ने जमकर अनाज और अन्य खाद्य सामग्रियों की काली बाजारी की थी। खाने के सामानों के साथ किचन से जुड़े हर सामान की कीमतों में बढ़ोतरी हुई थी। जिला प्रशासन के निर्देशेां के बाद कई जगह कार्रवाई की गई थी और इसके बाद जमा खोरों पर अंकुश लगा था। करीब 1 महीने तक लॉक डॉउन के दौरान लोगों को महंगा सामान खरीदना पड़ा था। इस बार कोरोना काल फिर से शुरू होते ही जमाखोरों ने अनाज की सप्लाई बाजार में कम कर दी है, इसका असर अनाज की कीमतों पर पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें: रायपुर से जबलपुर के लिए चलेगी एक और ट्रेन, जानिए कौन-कौन से स्टेशन पर है स्टॉपेज

खाने का तेल हो गया डेढ़ गुना महंगा
होली पर्व के पूर्व खाद्य तेलों की कीमतें सामान्य थी, लेकिन कोरोना काल और संक्रमण के कारण कलेक्टर द्वारा जारी आदेशों के बाद जमाखोरों ने बाजार में तेल की सप्लाई कम कर दी। नतीजा यह हुआ कि होली पर्व के पहले बाजार में 100 रुपए लीटर मिलने वाला खाद्य तेल अब 150 रुपए हो गया है। वहीं थोक में तेल खरीदने वालों को भी बाजार की कीमत पर तेल खरीदना पड़ रहा है।

200 रुपए बढ़ाने के बाद 10 रुपए किया कम
घरेलू गैस सिलेण्डरों की कीमते भी दूसरे कोरोना काल में बढ़ा दी गई है। अचानक गैस सिलेण्डरों की कीमतें 200 रुपए तक बढ़ा दी गई। घर पहुंच सेवा देने वाले एजेंसियों के कर्मचारी लोगों से 1000 रुपए तक गैस सिलेण्डर की कीमतें वसूल रहे हैं। जबकि पूर्व में सिलेण्डर की कीमतें पौने 800 रुपए तक थीं। दो दिन पूर्व सिलेण्डरों की कीमतों में महज 10 रुपए कम किए गए हैं।

दवा और शराब की कीमतें भी बढ़ी
बाजार में कोरोना काल के कारण दवाइयां और शराब की कीमते भी बढ़ा दी गई है। ब्लड प्रेशर, शुगर, बच्चों की सामान्य बुखार , एंटी बायोटिक दवाइयों की कीमतों में 30 फीसदी तक बढ़ोतरी करदी गई है। इसके साथ ही सरकार ने शराब की कीमतों में भी 10-20 फीसदी तक बढ़ोतरी कर दी है।

यह भी पढ़ें: यात्री कृपया ध्यान दें: 10 अप्रैल से चलेंगी एक दर्जन पैसेंजर स्पेशल ट्रेनें

अनाज में 5-10 फीसदी तक बढ़ोतरी
जमाखोरी का असर अनाज में भी पढ़ा है। पूर्व में दाल की कीमतें 100 रुपए तक सीमित थी वह अब 105-110 रुपए प्रति किलो की दर पर मिल रही हैं। इसके साथ ही चांवल की कीमतों में भी 10-15 फीसदी तक बढ़ोतरी हुई है।

पेट्रोल की कीमतें भी लगातार बढ़ रही
शहरों में पेट्रोल की कीमतें अलग-अलग निर्धारित हैं। बिलासपुर में पिछले 1 महीने में पेट्रोल की कीमतों में 10-12 रुपए तक बढ़ोतरी हुई है। शुक्रवार को बिलासपुर में 1 लीटर पेट्रोल की कीमत 89.50 रुपए थी, जबकि एक महीने पहले पेट्रोल 78 रुपए प्रति लीटर की दर पर मिल रहा था।

Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned